Friday, Apr 23, 2021
-->
corona-effect-changes-in-parade-of-26-january-guidelines-released-kmbsnt

Corona Effect: 26 जनवरी की परेड में इस बार होंगे ये बड़े बदलाव, गाइडलाइन्स जारी

  • Updated on 1/15/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कोरोना संक्रमण (Corona Infection) ने जैसे पिछले साल हर त्योहार का रंग फीका कर दिया, वैसे ही इस बार भी देश की राजधानी मेें बड़ी धूम धाम से मानाय जाने वाला गणतंत्र दिवस (Republic Day) भी पहले जैसा नहीं होगा। इस बार परेड की लंबाई कम की गई है। साथ ही इस बार परेड में केवल 25 हजार लोग ही शामिल होंगे। 

दिल्ली पुलिस ने लोगों से अपील की है कि जिन लोगों के पास परेड के पास नहीं होंगे वो इस  परेड में शामिल न हों। वहीं सूत्रों की मानें तो इस बार परेड विजय चौक  से शुरू होकर नेशनल स्टेडियम तक की जाएगी। आमतौर पर परेड राजपथ से शुरू  होकर लाल किले तक जाती है। लेकिन इस बार कोरोना के खतरे को देखते  हुए इसमें बदलाव किया गया है।

किसान आंदोलन के बीच गणतंत्र दिवस समारोह में विदेशी शासनाध्यक्ष मुख्य अतिथि नहीं

इस बार नहीं होगा कोई मुख्य अतिथि
वहीं इस बार भारत के गणतंत्र दिवस समारोह में किसी भी देश के राष्ट्र प्रमुख मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद नहीं होंगे। विदेश मंत्रालय ने गुरुवार को कहा कि कोरोना के कारण इस साल के गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि के रूप में किसी विदेशी राष्ट्र प्रमुख या सरकार के मुखिया को आमंत्रित नहीं करने का फैसला किया गया है।

बोरिस जॉनसन का भारत दौरा रद्द
बता दें कि ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन इस साल गणतंत्र दिवस के अवसर पर मुख्य अतिथि बनने वाले थे। ब्रिटेन में कोरोना के नए स्वरूप के चलते जॉनसन ने अपना भारत दौरा रद्द कर दिया है। ये चौथा ऐसा मौका होगा जब भारतीय गणतंत्र दिवस समारोह में कोई भी मुख्य अतिथि नहीं होगा।

इससे पहले 1952, 1953 और 1966 मैं ऐसा हो चुका है जब कोई भी विदेशी प्रमुख मुख्य अतिथि के तौर पर गणतंत्र दिवस मे शामिल न हुआ हो। वहीं कई बार ऐसे मौके भी आए जब देश के गणतंत्र दिवस समारोह में दो-दो अतिथि भी शामिल हुए। साल 1956 1968 और 1974 में दो दो मुख्य अतिथि शामिल हुए थे। वहीं साल 2018 में तो 10 एशियाई देशों के प्रमुख अतिथि के रूप में भारतीय गणतंत्र दिवस में समारोह में शामिल हुए। 

देश में क्या है कोरोना की स्थिति
देश में कोरोना कंट्रोल में तो है, लेकिन इसके बाद भी जब तक इसे पूरी तरह से खत्म नहीं कर दिया जाता सावधानी बरतने की  जरूरत है। भारत (India) में कोरोना से  लोग संक्रमित हो 1,05,28,508 चुके हैं। वहीं इस वायरस की चपेट में आने से अब तक 1,51,954 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। हालांकि, राहत की बात ये है कि 1,01,62,082 इस वायरस को मात देकर ठीक हो चुके हैं। देश में कोरोना को मात देकर ठीक होने वालों की संख्या सक्रिय मामलों की संख्या से अधिक है। सक्रिय मामलों (Active Cases) की कुल संख्या 2,10,106 है।

किसान संगठनों ने मान के फैसले का किया स्वागत, लेकिन कहा- कमेटी को नहीं करेंगे स्वीकार

दिल्ली में कम हुए केस
वहीं अगर दिल्ली की बात करें तो यहां भी स्थिति काबू में है। यहां संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 6,31,589 हो गई है। कोरोना के कुल मामलों में सक्रिय मामलों की संख्या 2,937 है। वहीं 6,17,930 लोग कोरोना को मात देकर ठीक हो चुके हैं। यहां अब तक 10,722 लोगों की जान जा चुकी है।

ये भी पढ़ें:

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.