Wednesday, May 12, 2021
-->
corona in delhi market associations decide markets themselves will not shut down albsnt

दिल्ली में Corona: मार्केट एसोसिएशनों का फैसला, खुद बंद नहीं करेंगे बाजार

  • Updated on 4/16/2021

नई दिल्ली/अनामिका सिंह। वीकेंड पर फलने-फूलने वाले बाजारों को दिल्ली सरकार के आदेश के बाद शनिवार-रविवार के लिए बंद कर दिया गया है। जिससे कहीं ना कहीं बडा नुकसान व्यापारी वर्ग को होने जा रहा है क्योंकि वीकेंड पर थोक व कपडा बाजारों की रौनक बडी मुश्किल से लौटी थी। ऐसे में सरकार का विकट परिस्थितियों में साथ देने की बात मार्केट एसोसिएशन के पदाधिकारी कर रहे हैं लेकिन साथ ही सरकार की ओर मदद रूपी टकटकी लगाए भी देख रहे हैं। हमने बाजार बंद होने पर दिल्ली की विभिन्न मार्केट एसोसिएशनों के पदाधिकारियों से बात की, आइए जानते हैं कि क्या कहना है उनका।

किसानों को दिल्ली की सीमाओं से हटाने के लिए गृह मंत्रालय की रणनीति तैयार

सरकार की बात मानना मजबूरी, पर खुद नहीं करेंगे बंद: राजेंद्र
फेडरेशन ऑफ सदर बाजार टेडर्स एसोसिएशन के महासचिव राजेंद्र शर्मा ने कहा कि सरकार की बात मानने के अलावा व्यापारियों के पास कोई विकल्प नहीं बचा है लेकिन हमारी बाजारों को बंद करने की मंशा बिल्कुल भी नहीं है। क्योंकि बडी मुश्किल से व्यापारी वर्ग की गाडी कुछ पटरी पर आई है लगातार बंद का असर सभी छोटे-बडे व्यापारियों पर विपरित पडेगा।

दिल्ली में कोरोना का प्रकोप जारी, 24 घंटे में 112 की मौत, संक्रमण दर 20 फीसदी पार

रोक तो साप्ताहिक बाजार पर भी होनी चाहिए: प्रमोद
बंगाली मार्केट एसोसिएशन के अध्यक्ष प्रमोद गुप्ता ने कहा कि एक ओर सरकार वीकेंड पर मार्केट बंद करने की धोषणा कर चुकी है लेकिन साप्ताहिक बाजारों को खोला जा रहा है। जबकि भीड सबसे ज्यादा इन साप्ताहिक बाजारों में लगती है। हम तो कोविड गाइडलाइंस का पूरी तरह पालन करते हुए मार्केट में काम कर रहे हैं। सरकार को इस ओर भी सोचने की जरूरत है। जहां तक खुद मार्केट बंद करने की बात है तो हम बंद नहीं करेंगे।

हरियाणा के सीएम खट्टर ने की किसानों से आंदोलन वापस लेने की अपील

दुकानों को ऑड-इवन खोलने के बारे में सोचे सरकार: अशोक 
सरोजिनी नगर मिनी मार्केट ट्रेडर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष अशोक रंधावा ने कहा कि यदि सरकार का आदेश होगा तो बंद करना ही पडेगा लेकिन हमारी एक ही अपील सरकार से है कि दुकानों को ऑड-इवन खोलने के बारे में भी सोचे ताकि दुकानदारों को कम नुकसान हो। सरोजिनी नगर कपडों का बाजार है और शादियां कैंसिल होने के बाद वैसे ही काफी नुकसान दुकानदारों को होने जा रहा है। लेकिन हम खुद दुकानें बंद नहीं करेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.