Monday, May 23, 2022
-->
corona lockdown rapist gurmeet ram rahim not get relief from haryana jail  bjp govt rkdsnt

कोरोना कहर में हरियाणा जेल से रिहाई की आस लगाए रेपिस्ट राम रहीम को लगा झटका

  • Updated on 4/24/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। हरियाणा सरकार ने डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख बलात्कारी राम रहीम की परोल अर्जी खारिज कर दी है। बता दें राम रहीम हरियाणा की जेल हत्या और बलात्कार की सजा के बाद बंद है। राम रहीम के वकील ने पेरोल के लिए सरकार से गुजारिश की थी।

कोरोना संकट में 'आरोग्य सेतु' को और बेहतर बना सकती थी मोदी सरकार!

राम रहीम ने अपनी तबीयत और कोरोना संक्रमण के मद्देनजर पेरोल के लिए अर्जी दाखिल की थी। बता दें कि कई राज्य सरकारों ने कोरोना संक्रमण के मद्देनजर जेल में बंद कैदियों को सशर्त पेरोल दी है। लेकिन, राम रहीम को गुनाह इतना संगीन है कि सरकार चाह कर भी उसे पेरोल नहीं दे सकती।

महंगाई भत्ते पर रोक लगाने के खिलाफ सरकार कर्मचारियों ने बुलंद की आवाज

इसकी वजह है कि अगर उसने पेरोल की इजाजत दी तो विपक्ष की उंगलियां उठनी शुरू हो जाएंगी। इसके अलावा कोर्ट में मामला फंस सकता है। इसलिए भी हरियाणा सरकाने पेरोल की अर्जी को अपने स्तर पर ही खारिज कर दिया है। 

कोरोना को लेकर मध्य प्रदेश कांग्रेस ने चलाया 'पनौती हटाओ एमपी बचाओ' अभियान

उधर, गुरमीत राम रहीम की करीबी हनीप्रीत जमानत पर जेल से बाहर है। पिछले साल पंचकूला कोर्ट ने 2017 में पंचकूला में हिंसा के मामले में जमानत दी थी। इससे पहले वह अंबाला सेंट्रल जेल में बंद थी।

 डीए पर रोक लगने से मोदी सरकार का भरेगा खजाना, लेकिन सरकारी कर्मचारी...

बता दें कि गुरमीत राम रहीम को दो महिलाओं से रेप मामले में अगस्त 2017 में 20 साल कैद की सजा मिली थी। पंचकुला में CBI की विशेष अदालत ने इस साल जनवरी में उसे और 3 अन्य दोषियों को एक पत्रकार की हत्या के 16 साल पुराने मामले में आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। 

संबित पात्रा ने रात करीब एक बजे ही कर दिया था अर्णब गोस्वामी का बचाव


 

comments

.
.
.
.
.