Thursday, Jun 17, 2021
-->
corona-second-wave-india-getting-help-from-global-community-kmbsnt

कोरोना काल में भारत को मिली ग्लोबल कम्युनिटी से ये मदद, टूटी 16 साल पुरानी नीति

  • Updated on 5/6/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कोरोना की दूसरी लहर के कहर के बीच भारत की मदद के लिए वैश्विक समुदाय मदद के लिए आगे आया है। कई बड़े देशों ने भारत की इस संकट की घड़ी में आगे बढ़कर मदद की है। नई दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में व्हाइट हाउस के कोविड -19 परीक्षण किट पहुंचे हैं, तो वहीं ग्रेटर नोएडा में ITBP अस्पताल में इटली का एक ऑक्सीजन प्लांट लगा है। नई दिल्ली के इंद्रप्रस्थ अपोलो अस्पताल में एक फ्रांसीसी ऑक्सीजन संयंत्र लगा है। PGI, चंडीगढ़ में आयरिश ऑक्सीजन कंसंट्रेटर लगा है।

कोरोना के महासंकट से जूझ रहे भारत को वैश्विक समुदाय से मदद तो मिली है, लेकिन इस दौरान भारत विदेशी सहायता, ऑक्सीजन से संबंधित उपकरण और विदेशों से जीवन रक्षक दवाओं को स्वीकार नहीं करने की अपनी 16 साल पुरानी नीति से चूक गया है। अब विदेश मदद दिल्ली के अस्पतालों समेत कई अन्य स्थानों पर पहुंच रही है। 

केजरीवाल सरकार ने CBSE से 10वीं क्लास के रिजल्ट तैयार करने के लिए और वक्त मांगा 

स्वास्थ्य मंत्रालय बता रहा भारत की जरूरतें
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार विदेशों से ये आपूर्ति स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा बताई गई आवश्यकता के अनुसार भेजी जा रही है। अब तक कम से कम 14 देशों ने पहले ही विमान और जहाजों में अपनी सामग्री भेजना शुरू कर दिया है और उन्हें ज्यादातर सरकारी अस्पतालों में भेजा जा रहा है।

इन बड़े देशों से मिली ये मदद
भारत को इस संकट की घड़ी में विश्व की बड़ी शक्तियों से मदद मिल रही है। अमेरिका से लेकर रूस, इटली से लेकर थाईलैंड, जर्मनी से आयरलैंड और फ्रांस जैसे देश भारत को मदद भेज रहे हैं। ये देश ऑक्सीजन कंसंट्रेटर भेज रहे हैं, कुछ ऑक्सीजन संयंत्रों का निर्माण कर रहे हैं, कुछ वेंटिलेटर भेज रहे हैं, जबकि अन्य तेजी से परीक्षण किट और आवश्यक दवाएं भेज रहे हैं।

आस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों की स्वेदश वापसी के लिए चार्टर्ड विमान के इंतजाम में मदद करेगा BCCI : सीए 

विदेश मदद की प्राप्ति और आवंटन के लिए बनी टीम
बुधवार को स्वास्थ्य मंत्रालय ने अपने एक बयान में कहा है कि अतिरिक्त सचिव (स्वास्थ्य) के अंडर में एक सेल 26 अप्रैल से मंत्रालय में "अनुदान, सहायता और दान के रूप में विदेशी कोविड राहत सामग्री की प्राप्ति और आवंटन का समन्वय करने" के लिए काम कर रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.