Friday, Apr 10, 2020
corona virus covid 19 havoc ram temple construction work continues ayodhya uttar pradesh

कोरोना कहर में भी जारी है राम मंदिर निर्माण कार्य, चांदी से सिंहासन तैयार

  • Updated on 3/24/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। अयोध्या (Ayodhya) में कोरोना वायरस के कहर के बीच भी राम मंदिर निर्माण का काम जारी है। इसको लेकर अब सवाल उठने शुरू हो गए हैं। सवाल यह है कि जब तमाम मंदिरों को कोरोना को देखते हुए मंदिर कर दिया गया है, ऐसे में राम मंदिर निर्माण जारी करने का क्या तुक है। इसके साथ ही रामलला के अस्थाई मंदिर के लिए जयपुर में 10 किलो चांदी का नया सिंहासन तैयार किया गया है। इस सिंहासन को पूर्व राजपरिवार के उत्तराधिकारी ट्रस्ट को सौंपेंगे।

कोरोना ने लगाई खाने-पीने की चीजों के दामों में आग, सब्जी मंडियों में जुटे लोग

बता दें कि सोमवार से अस्थाई मंदिर में 3 दिवसीय पूजा अनुष्ठान शुरुआत हो गई है। रामलला को फिलहाल अस्थाई मंदिर में रखा जा रहा है। इससे पहले रामलला को टेंट में रखा गया था। बुलेट प्रूफ फाइबर के अस्थाई मंदिर में रामलला की नवरात्रि के पहले दिन 25 मार्च को पूजा अर्चना की जाएगी। साथ ही पूर्ण अनुष्ठान के साथ विराजमान कराया जाएगा, इसके लिए पूरी तैयारी हो चुकी है। इस खास पूजा में 15 अचार्य भाग लेंगे।

कोरोना कहर के बीच दिल्ली पुलिस ने की शाहीन बाग प्रदर्शनस्थल पर कार्रवाई

अस्थाई मंदिर में प्रवेश ले लिए नवरात्रि के प्रथम दिन को चुना गया है। इस अस्थाई मंदिर में रामलला सहित चारों भाइयों और हनुमान की मूर्तियों को भी अनुष्ठान पूर्वक विराजित किया जाएगा। अनुष्ठान के लिए आचार्यों की 2 टीम को गठित किया गया है, जो अलग-अलग अनुष्ठान करेंगे। एक टीम रामलला के मौजूदा गर्भ गृह में अनुष्ठान के जरिए नए अस्थाई मंदिर में विराजमान करने की विधि करेंगे, वहीं दूसरी टीम अस्थाई मंदिर में भूमि के शुद्धिकरण का अनुष्ठान करेगी।

कोरोना वायरस: जनता कर्फ्यू के बीच थाली-ताली मुहिम सोशल मीडिया पर वायरल, उठे सवाल

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.