Thursday, Apr 02, 2020
corona virus covid 19 kerala delhi jharkhand govt steps appreciated on social media than modi bjp

कोरोना से जंग: केरल, दिल्ली और झारखंड सरकारों की हो रही तारीफ

  • Updated on 3/26/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कोरोना वायरस से लड़ने में केरल, दिल्ली और झारखंड सरकारों के कदमों की इस दिनों सोशल मीडिया पर खूब तारीफ हो रही है। दिनों राज्यों के मुख्यमंत्री आम जनता के हितों के लिए कई प्रकार के कदम बहुत तेजी से उठा रहे हैं। इसके लिए तीनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों को खूब तारीफ हो रही है। इनके अलावा कांग्रेस शासित छत्तीसगढ़, और राजस्थान भी इस दिशा में अच्छा काम कर रहे हैं। 

कोरोना कहर के बीच राहत, देश के सभी हाइवे पर टोल कलेक्शन सस्पेंड

केजरीवाल की हरी झंडी, दिल्ली में कोरोना के मरीजों को भी आयुष्मान योजना का लाभ

दिल्ली में सीएम अरविंद केजरीवाल जहां मुस्तैद नजर आ रहे हैं, वहीं केरल के मुख्यमंत्री पी. विजयन तो अपने राज्य में कोरोना पीड़ित पाए जाने के बाद से ही सक्रिय हो गए थे। इसके अलावा झारखंड में हेमंत सोरेन भी आम जनता की सेवा में जुट गए हैं। 21 दिनों के राष्ट्रव्यापी लॉक डाउन के बाद तीनों राज्य खास तौर पर सक्रिय नजर आ रहे हैं। 

कोरोना कहर के बीच भगवान बनें डॉक्टरों की बढ़ी मुश्किलें, बेबस सरकार!

इसका पॉजिटिव असर यह देखा जा रहा है कि इन राज्यों के कदमों के बाद अब दूसरे राज्य भी ऐसे जनकल्याणकारी कदम उठाने को मजबूर हो रहे हैं। लोग इन राज्यों की तुलना दूसरे राज्यों से करने लगे हैं और सरकार पर दबाब बनाता जा रहा है। खास बात यह है कि तीनों ही राज्य गैरभाजपा-कांग्रेस शासित राज्य हैं। 

दिल्ली पुलिस ने इस तरह दिया ऑपरेशन शाहीनबाग को अंजाम, Corona बना ढाल

केरल में वामदल की सरकार है और यह पूर्ण साक्षर वाला राज्य शुरू से ही इस तरह की समस्या से जूझने में सफल रहा है। नीपाह वायरस से भी केरल ने मुकाबला किया था। केरल की विनाशकारी बाढ़ से भी राज्य उभरा। कोरोना से भी लड़ने में सीएम विजयन मुस्तैद नजर आ रहे हैं। 

चंद्रमुखी चौटाला फेम अभिनेत्री ने Corona के जरिए किया इंसान बांटने वालों पर कटाक्ष

अपने ट्वीट में वह लिखते हैं, '21 दिनों के लॉकडाउन होने के बावजूद लोग अपने घरों में रहें। आपको सिर्फ जरूरी सामान खरीदने और मेडिकल सहायता लेने के लिए बाहर निकलना होगा। जरुरी सामान में दवाई और खाने-पीने की चीजें शामिल हैं।' खास बात यह है कि सरकार ने जागरूक करने का सिस्टम बेहतर बनाया हुआ है।

कोरोना को लेकर संबित पात्रा ने ली ये प्रतिज्ञा, लोगों ने याद दिलाया डॉक्टर 'धर्म'

इसी तरह दिल्ली की केजरीवाल सरकार भी कोरोना से लड़ने में कतई पीछे नहीं है। केंद्र की मोदी सरकार के ऐलान से पहले ही केजरीवाल ने कई अहम कदम उठाए हैं। हेल्प लाइन नंबर से लेकर 7000 करोड़ का बजट भी कोरोना से लड़ने के लिए रखा है। होम शेल्टरों में गरीबों के खाने की व्यवस्था की जा रही है। इसके अलावा उन लोगों के लिए ई-पास की व्यवस्था की जा रही है, जो जरूरी चीजों की सप्लाई और उनके उत्पादन में जुटे हैं। सीएम केजरीवाल लगातार रोजाना लोगों से तरह-तरह से संपर्क बनाए हुए हैं।

PM मोदी के ऐलान के बाद Panic Buying से परेशान केजरीवाल, उठाए ये कदम

इसी तरह झारखंड की झारखंड मुक्ति मोर्चा सरकार भी कोरोना से लड़ने में बढ़चढकर काम कर रही है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन लगातार हालात पर नजर रखते हुए प्रशासन को दिशा-निर्देश दे रहे हैं। हेल्पलाइन नंबर जारी करने के साथ गरीबों के लिए राशन व्यवस्था भी का भी ऐलान किया है। हेमंत सोरेन दिल्ली सरकार की तर्ज पर काम करने में जुटे हैं और लगातार केजरीवाल से भी संपर्क में रहते हैं। इसी तरह केजरीवाल भी केरल के सीएम के कामों की तारीफ करते रहते हैं।

 

यहां पढ़ें कोरोना के जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें 

क्या है कोरोना वायरस? जानें, बीमारी के कारण, लक्षण व समाधान

इन आयुर्वेदिक उपायों का करें इस्तेमाल, नहीं आएगा Coronavirus पास 

coronavirus: 5 दिन में दिखे ये लक्षण तो जरूर कराएं जांच 

यदि आपका है यह Blood Group तो जल्द हो सकते हैं कोरोना वायरस के शिकार 

कोरोना वायरस: जिम बंद हुए हैं एक्सरसाइज नहीं, 'वर्क फ्रॉम होम' की जगह करें 'वर्कआऊट फ्रॉम होम' 

Coronavirus को रखना है दूर तो डाइट में शामिल करें ये 7 चीजें 

कोरोना वायरस : मास्क के इस्तेमाल में भी बरतें सावधानियां, ऐसे करें यूज 

कोरोना वायरस से जुड़े ये हैं कुछ खास मिथक और उनके जवाब 

मिल गया Coronavirus का इलाज! जल्द ठीक हो सकेंगे सभी संक्रमित 

लॉक डाऊन है तो फिक्र क्या, बैंक कराएंगे आपके पैसे की होम डिलीवरी

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.