Wednesday, Apr 01, 2020
corona virus covid 19 shield for delhi police executing operation shaheen bagh protest stops

दिल्ली पुलिस ने इस तरह दिया ऑपरेशन शाहीनबाग को अंजाम, Corona बना ढाल

  • Updated on 3/24/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। नागरिकता कानून के खिलाफ सुर्खियों में आए शाहीन बाग के धरने को दिल्ली पुलिस ने बड़ी प्लानिंग के साथ अंजाम दिया। इसमें पुलिस ने पूरा प्रदर्शनस्थल को बिना किसी जान-माल की नुकसान किए खाली करा डाला। वैसे 100 दिनों से ज्यादा समय तक चलने वाले शाहीन बाग प्रदर्शन को सबसे बड़ा झटका कोरोना वायरस ने दिया। इसी को ढाल बनाते हुए दिल्ली पुलिस ने प्रदर्शनस्थल को साफ कर डाला।

शाहीन बाग खाली कराने पर कपिल मिश्रा की खिलीं बांछें, किया ये कटाक्ष

सूत्रों के मानें तो हाल ही शाहीन बाग प्रदर्शनस्थल पर कुछ अज्ञात बाइक सवारों ने पेट्रोल बम से हमला किया था। कहा जा रहा है कि इसे यहां दहशत फैलाने की कोशिश के तहत किया गया था। इसके बाद शाहीन बाग के दो लोगों को कोरोना पॉजिटिव होने की खबर ने प्रदर्शनकारियों में हड़कंप मचा दिया। कई बड़ी हस्तियों ने कोरोना के कहर को देखते हुए प्रदर्शन नहीं करने की अपील की। इसको बाद प्रदर्शनकारियों ने नाममात्र के लिए प्रदर्शन जारी रखा।

राज्यसभा चुनाव पर कोरोना महामारी का साया, नई तारीख ऐलान करेगा आयोग

कोरोना कहर के बीच दिल्ली पुलिस ने शाहीन बाग प्रदर्शनस्थल को कराया खाली

लेकिन, दिल्ली में लॉकडाउन और कर्फ्यू लगने के हालात पैदा हो गए। इसी को दिल्ली पुलिस ने सही समय माना कि अब प्रदर्शनकारी और उनके प्रदर्शनस्थल को हटाया जा सकता है। सूत्रों की मानें तो इसी तहत दिल्ली पुलिस ने देर रात दो बचे चुपचाप शाहीन बाग में दस्तक दी और गिने चुने प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लेते हुए अपनी कार्रवाई को अंजाम दिया। रातों-रात प्रदर्शनस्थल से टेंट, टेबल, दरी, बिस्तरें और अन्य साजों सामान को अपने कब्जे में  ले लिया। 

कोरोना कहर के बीच भी जारी है अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण कार्य

कोरोना कहर के बीच दिल्ली पुलिस ने शाहीन बाग प्रदर्शनस्थल को कराया खाली

इसके लिए बकायदा पुलिस ने ट्रकों और टंपों का इंतजाम किया था। इसी में भरकर सारे सामान को यहां से हटा दिया गया, ताकि फिर से कोई यहां प्रदर्शन करने की जर्रत नहीं कर सके। बता दें कि शाहीन बाग का प्रदर्शन सीएए के विरोध को लेकर खास केंद्र का बिंदु बन गया था। यहां महिलाओं ने ही मोर्चा संभाला हुआ था। केंद्र की मोदी सरकार तमाम कोशिशों के बावजूद यहां से महिला प्रदर्शनकारियों को हटा नहीं पाई थी। लेकिन कोरोना के कहर ने दिल्ली पुलिस को बड़ा सहारा दे दिया। 

कोरोना ने लगाई खाने-पीने की चीजों के दामों में आग, सब्जी मंडियों में जुटे लोग

कोरोना वायरस: अंबानी, बच्चन ने भी परिवार संग बजाई थाली-ताली-घंटियां, Watch Video

लेकिन, प्रदर्शनकारियों का कहना है कि मोदी सरकार इसे अपनी जीत नहीं माने, अगर सीएए को लेकर सरकार पीछे नहीं हटी तो उनका प्रदर्शन कोरोना खत्मे के बाद और जोर-शोर से जारी किया जाएगा। उनकी दलील है कि सरकार ने पुलिस के साथ मिलकर धोखे से प्रदर्शनस्थल साफ किया है। वैसे भी हम लोग कोरोना के खतरे को देखते हुए पहले ही प्रदर्शनस्थल छोड़ चुके थे। सीएए, एनआरसी और एनपीआर के खिलाफ प्रदर्शनकारियों की लड़ाई जारी रहेगी। इस बीच यहां के दुकानदारों और राहगिरों ने फिलहाल के लिए राहत की सांस ली है। 

 

यहां पढ़ें कोरोना के जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें 

क्या है कोरोना वायरस? जानें, बीमारी के कारण, लक्षण व समाधान

इन आयुर्वेदिक उपायों का करें इस्तेमाल, नहीं आएगा Coronavirus पास 

coronavirus: 5 दिन में दिखे ये लक्षण तो जरूर कराएं जांच 

यदि आपका है यह Blood Group तो जल्द हो सकते हैं कोरोना वायरस के शिकार 

कोरोना वायरस: जिम बंद हुए हैं एक्सरसाइज नहीं, 'वर्क फ्रॉम होम' की जगह करें 'वर्कआऊट फ्रॉम होम' 

Coronavirus को रखना है दूर तो डाइट में शामिल करें ये 7 चीजें 

कोरोना वायरस : मास्क के इस्तेमाल में भी बरतें सावधानियां, ऐसे करें यूज 

कोरोना वायरस से जुड़े ये हैं कुछ खास मिथक और उनके जवाब 

मिल गया Coronavirus का इलाज! जल्द ठीक हो सकेंगे सभी संक्रमित 

लॉक डाऊन है तो फिक्र क्या, बैंक कराएंगे आपके पैसे की होम डिलीवरी

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.