Thursday, Apr 02, 2020
corona virus covid 19 tv show fir actress kavita kaushik chandramukhi jibes on society dividers

चंद्रमुखी चौटाला फेम अभिनेत्री ने Corona के जरिए किया इंसान बांटने वालों पर कटाक्ष

  • Updated on 3/25/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। टीवी शो 'एफआईआर' से मशहूर हुईं अभिनेत्री कविता कौशिक ने कोरोना वायरस के जरिए उन लोगों पर कटाक्ष किया है, जो समाज में इंसानों को बांटने का काम करते हैं। सोशल मीडिया पर शेयर किए अपने वीडियो में चंद्रमुखी चौटाला कैरेक्टर निभा चुकी कविता ने कोरोना वायरस को जरिया बनाते हुए प्रकृति के इंसाफ को याद दिलाया है। उन्होंने कहा कि जो लोग दुनियाभर में तरह-तरह से इंसानों को बांटते हैं, प्रकति ने उन्हें बड़ा संदेश दिया है। आज कोरोना वायरस ने लोगों को इस तरह अलग-थलग कर दिया कि लोग घर में कैद होने को मजबूर हो गए हैं। 

PM मोदी के ऐलान के बाद Panic Buying से परेशान केजरीवाल, उठाए ये कदम

कोरोना को लेकर संबित पात्रा ने ली ये प्रतिज्ञा, लोगों ने याद दिलाया डॉक्टर 'धर्म'

कविता कोशिक ने अपने इस वीडियो के जरिए अपने मन की भड़ास भी निकाली है। अपने ढेढ अंदाज में उन्होंने कहा है कि कोरोना वायरस अब कोई जाति, धर्म, ऊंच-नीच, अमीर-गरीब का फर्क नहीं कर रहा है। इसमें गरीब के साथ अमीर को भी चपत लग रही है। इस तरह साफ है कि प्रकृति एक समान बर्ताव करती है। इसलिए लोगों  को प्रकृति की गई चीजों से खिलवाड़ ना करते हुए समान रूप से इसका सही तरीके इस्तेमाल करना चाहिए। 

कोरोना कहर के बीच नवरात्रि की रौनक पड़ी फीकी, दिल्ली का झंडेवालान मंदिर बंद

कौशिक ने फिल्मी डायलॉग का इस्तेमाल करते हुए उन लोगों पर कटाक्ष किया है, धर्म के आधार पर लोगों को बांटने का काम करते हैं। बकौल कविता, इंसानों को बांटने वाले लोग कहते हैं कि ये हिंदू, वो मुस्लिम है, इसे यहां से निकाल दो, यहां दीवार बना दो और ऐसे ही और भी तरीके अपनाकर समाज को बांटते हैं। ऐसा पूरे विश्व में हो रहा था, लेकिन प्रकृति ने कहा कि इतना अलग रहना चाहते हो तो लो अलग रहो। ऐसा किया प्रकृति ने कि सभी अपने-अपने घर में लॉक हो गए और अलग हो गए।

कोरोना कहर के बीच भगवान बनें डॉक्टरों की बढ़ी मुश्किलें, बेबस सरकार!

केंद्र की मोदी सरकार पर इशारों में कटाक्ष करते हुए वह आगे कहती हैं, 'प्रकृति ने एक और काम किया है कि मैं तो किसी की पहचान देखकर, आधार देखकर या कागज देखकर या धर्म या कपड़े देखकर वायरस नहीं दूंगी। मैं तो ये भी नहीं पूछूंगी कि तुम कौन हो। इसलिए सबको एकसूत्र में बांधकर एक समान व्यवहार करती है प्रकृति। प्रकति कहती है कि इंसानों तुम्हें एक काम दिया था, बाकी तो संसाधन मैं ही देती हूं।'

कोरोना के बीच लॉक डाउन, खरीददारी को उमड़े लोग, PM मोदी ने फिर की ये अपील

इसके अलावा कविता ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट में कोरोना वायरस से लड़ने के लिए टिप्स शेयर किए हैं। कविता कौशिक कोरोना से बचने के टिप्स-

1- अलग रहो और परिवार के सदस्यों के साथ मिलकर घर के काम करो। कर्मचारियों को सवैतनिक छुट्टी पर भेजो।
2- अपना भोजन, राशन और अन्य रसद सामग्री चौकीदार और अन्य जरूरतमंद गरीबो के साथ बांटें।
3- घर पर रुके रहें और उसे साफ रखते हुए कीटाणुमुक्त करते रहें। 

यहां पढ़ें कोरोना के जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें 

क्या है कोरोना वायरस? जानें, बीमारी के कारण, लक्षण व समाधान

इन आयुर्वेदिक उपायों का करें इस्तेमाल, नहीं आएगा Coronavirus पास 

coronavirus: 5 दिन में दिखे ये लक्षण तो जरूर कराएं जांच 

यदि आपका है यह Blood Group तो जल्द हो सकते हैं कोरोना वायरस के शिकार 

कोरोना वायरस: जिम बंद हुए हैं एक्सरसाइज नहीं, 'वर्क फ्रॉम होम' की जगह करें 'वर्कआऊट फ्रॉम होम' 

Coronavirus को रखना है दूर तो डाइट में शामिल करें ये 7 चीजें 

कोरोना वायरस : मास्क के इस्तेमाल में भी बरतें सावधानियां, ऐसे करें यूज 

कोरोना वायरस से जुड़े ये हैं कुछ खास मिथक और उनके जवाब 

मिल गया Coronavirus का इलाज! जल्द ठीक हो सकेंगे सभी संक्रमित 

लॉक डाऊन है तो फिक्र क्या, बैंक कराएंगे आपके पैसे की होम डिलीवरी


 

comments

.
.
.
.
.