Saturday, Apr 17, 2021
-->
corona-virus-emergency-in-malaysia-pm-can-get-relief-from-postponement-of-elections-prshnt

मलेशिया में बढ़ा कोरोना वायरस खतरा, लगा आपातकाल, चुनाव टलने से प्रधानमंत्री को मिल सकती है राहत

  • Updated on 1/12/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। दुनिया में लगातार कोरोना वायरस का प्रकोप जारी है ऐसे में मलेशिया (Malaysia) के राजा ने मंगलवार को कोरोना वायरस (Coronavirus) के लिए आपातकाल पर मुहर लगा दी है, जिससे कम से कम अगस्त महीने तक संसद निलंबित रहेगी और इससे संकटग्रस्त प्रधानमंत्री मुहयिद्दीन यासीन (Muhyiddin Yassin) को पद से हटाने के लिए आम चुनाव करवाने के सभी प्रयासों पर रोक लग जाएगी और उन्हें राहत मिल जाएगी।

मुहयिद्दीन ने टेलीविजन पर भाषण में नागरिकों को आश्वासन दिया कि यह आपातकाल सैन्य तख्तापलट नहीं है और इसमें कर्फ्यू नहीं लगाया जाएगा। उन्होंने कहा कि एक अगस्त तक जारी रहने वाले आपातकाल के दौरान भी कमान असैन्य सरकार के हाथों में होगी।

आज ही के दिन किडनैप हुई थी देश के गृह मंत्री की बेटी- छोड़ने पड़े थे 5 आतंकी, जानें पूरी कहानी

अत्यंत जोखिम वाले शहरों में लॉकडाउन
आपातकाल अगस्त या उससे पहले तक जारी रहेगा इस बारे में फैसला हालात को देखकर लिया जाएगा। आपातकाल की घोषणा एकाएक ही की गई है। एक दिन पहले ही मुहयिद्दीन ने घोषणा की थी कि मलेशिया का सबसे बड़ा शहर कुआलालंपुर, प्रशासनिक राजधानी पुत्रजया और पांच अत्यंत जोखिम वाले शहरों में लगभग लॉकडाउन जैसी स्थिति होगी जो बुधवार से शुरू होकर दो हफ्तों तक जारी रहेगी।

कृषि कानूनों के अमल पर SC के फैसले से भड़के किसान, कहा- यह सरकार का काम था, कोर्ट का नहीं

सुरक्षा की दृष्टी से टला चुनाव
यह सब घटनाक्रम ऐसे समय में हुआ है जब सत्तारूढ़ गठबंधन में सबसे बड़े दल यूनाइटेड मलय नेशनल ऑर्गेनाइजेशन ने मुहयिद्दीन से समर्थन वापस लेने की धमकी दी है ताकि समय से पहले आम चुनाव कराए जा सकें। मुहयिद्दीन ने कहा है कि महामारी से राहत मिलने पर, जब चुनाव कराना सुरक्षित होगा तब वह आम चुनाव कराएंगे। इससे पहले मलेशिया में 1969 में आपातकाल की घोषणा हुई थी जब नस्ली दंगों में सैकड़ों लोगों की जान चली गई थी।

मलेशिया नरेश द्वारा आपातकाल की घोषणा को अदालत में चुनौती नहीं दी जा सकती है। इससे पहले नरेश सुल्तान अब्दुल्ला अहमद शाह ने अक्टूबर में मुहयिद्दीन के आपातकाल घोषित करने के अनुरोध को अस्वीकार कर दिया था।

MP: मुरैना में जहरीली शराब पीने से 12 लोगों ने तोड़ा दम, थानेदार तत्काल प्रभाव से निलंबित

तेजी से बढ़ रहा नये स्ट्रेन का खतरा
हर दिन कोरोना से संक्रमित मरीजों का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है, कोरोना वायरस संक्रमण से जूझ रही दुनिया के सामने अब कोरोना के नए स्ट्रेन (New Strain) का खतरा मंडराने लगा है। 24 घंटे में ब्रिटेन में कोरोना के रिकॉर्ड 55 हजार से अधिक नए पॉजिटिव मामले रिपोर्ट किए गए हैं और 964 लोगों की संक्रमण की चपेट में आने से मौत हो गई है।

कोरोना वैक्सीन के मामले में अग्रणी देशों में गिने जाने वाले यूरोपीय देशों में पहली बार इतनी बड़ी संख्या में मामले मिलने से हड़कंप मच गया है। कोरोना के नए स्ट्रेन के मामले न सिर्फ ब्रिटेन में मिल रहे हैं, बल्कि अमेरिका के कैलिफोर्निया और कोलोराडे के अलावा फ्लोरिडा प्रांत में भी सामने आ रहे हैं। ब्रिटेन में जारी कोरोना के आंकड़ों पर एक नजर डाले तो पता चलता है कि यहां बीते तीन से 50 हजार से अधिक कोरोना के नए मामले रिपोर्ट किए जा रहे हैं। ऐसे में नए स्ट्रेन का अन्य देशों में तेजी से फैलने का खतरा बना हुआ है।

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.