Wednesday, Apr 08, 2020
corona virus in  india good news come from haryana

कोरोना वायरस को लेकर भारत से आई एक और खुश खबरी

  • Updated on 2/18/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। चीन में कोरोना वायरस (Corona Virus) के संक्रमण वाले क्षेत्र वुहान से स्वदेश लाए गए भारतीय नागरिकों में संक्रमण का खतरा समाप्त होने की पुष्टि के बाद इन्हें मानेसर स्थित पृथक केंद्र से आज मंगलवार को छुट्टी दे दी जाएगी। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से प्राप्त जानकारी के मुताबिक़ हरियाणा में गुरुग्राम के पास स्थित पृथक केंद्र से मंगलवार को 220 लोगों को छुट्टी मिल जाएगी।

लहसुन से ठीक होता है Corona virus! WHO ने बताया इस मामले का पूरा सच

वुहान से लाए गए 647 भारतीय और मालदीव के सात नागरिक
उल्लेखनीय है कि वुहान से लाए गए 647 भारतीय और मालदीव (Maldives) के सात नागरिकों को दिल्ली के छावला और हरियाणा के मानेसर स्थित आईटीबीपी और सेना के पृथक केंद्रों में कोरोना वाइरस सम्बंधी चिकित्सा निगरानी के लिए रखा गया है। इनमें छावला केंद्र में मौजूद 406 नागरिकों में से 200 को सोमवार को स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन की मौजूदगी में छुट्टी दी गयी थी। मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि चिकित्सा निगरानी मानकों के मुताबिक़ निर्धारित अवधि पूरी करने वाले 220 लोगों को मंगलवार को छुट्टी दी जाएगी। ये लोग अब अपने गंतव्य को जा सकेंगे। इन केंद्रों में रखे गए लोगों को संक्रमण नहीं होने की पुष्टि के बाद चरणबद्ध तरीक़े से छुट्टी दी जा रही है। इन लोगों को एयर इंडिया के विमान से एक और दो फऱवरी को वुहान से भारत लाया गया था।  

फरीदाबाद में ATM बना बदमाशों का सॉफ्ट टारगेट, एक के बाद एक ताबड़तोड़ वारदात

इतनी तेजी से क्यों फैला
चीन (China) का राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग नोवल कोरोना वायरस के इंसान से इंसान में फैलने की पुष्टि कर चुका है। इसके बावजूद चीन समय से मरीजों की पहचान और उनके आइसोलेशन में नाकाम रहा। दिसबंर में पहला केस आने के काफी दिन बाद तक इस वायरस की पहचान नहीं हो पायी और इसे रहस्यमय निमोनिया माना जा रहा था। डब्ल्यूएचओ के वैज्ञानिकों ने जब तक इस वायरस की पहचान की, तब तक चीन का लूनर नववर्ष आ गया।

NGT ने सोहना के मंडावर गांव में पेड़ काटने पर हरियाणा सरकार को लगाई फटकार

चीन में यह त्यौहार बड़ी धूम-धाम से मनाया जाता है और बड़ी संख्या में चीन के लोग अपने रोजगार से छुट्टी लेकर घरों को लौटते हैं। यह 24 जनवरी से शुरू हुआ। इस दौरान बड़ी संख्या में चीन एक जगह से दूसरी जगह गए और उनमें से कुछ के साथ यह वायरस भी अन्य जगहों पर पहुंच गया। वुहान (Wuhan) से होकर गये पर्यटकों ने इसे दुनिया के दूसरे देशों में पहुंचा दिया। चीन में पढ़ रहे या घूमने आए लोग जब अपने देश लौटे तो उनमें से कई संक्रिमित पाये गए।

हरियाणाः 1 मई से 15 जून के बीच संपन्न होगा 2021 जनगणना का पहला चरण

क्या है कोरोना वायरस
जानकारी के लिए बता दें डब्ल्यूएचओ (WHO) के मुताबिक कोरोना वायरस सी- फूड से जुड़ा है। कोरोना वायरस विषाणुओं के परिवार का है और इससे लोग बीमार पड़ रहे हैं। यह वायरस ऊंट, बिल्ली तथा चमगादड़ सहित कई पशुओं में भी प्रवेश कर रहा है। खास स्थिति में पशु मनुष्यों को भी संक्रमित कर सकते हैं। इस वायरस का मानव से मानव संक्रमण वैश्विक स्तर पर कम है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

 

 

comments

.
.
.
.
.