Sunday, Oct 17, 2021
-->
corona virus narendra modi rbi, shaktikant das economy lockdown  sobhnt

RBI के फैसले के लिए पीएम ने जताया आभार, बोले- इससे छोटे- व्यापारी-गरीब-किसान को मिलेगा फायदा

  • Updated on 4/17/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। देश में कोरोना वायरस (Corona virus) के बढ़ते कहर के बीच आज RBI ने रिवर्स रेपोरेट में .25 अंकों की कटौती करके बैंकों के साथ आम लोगों को आर्थिक लिहाज से बड़ी सहूलियत दी है। इसके अलावा आरबीआई ने आज देश के छोटे एवं  मध्यम कॉरपोरेट को सहायता के लिए 50,000 के निवेश का भी ऐलान किया है। जिसके बाद देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इसके लिए आरबीआई का आभार जताया है। 

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत गरीबों को मिले पैसे, ​बैंक की लंबी लाइनों से भी मिला छुटकारा

क्यो बोले पीएम
प्रधानमंत्री ने आरबीआई के ऐलान के बाद ट्वीट करके कहा है कि, ' आज आरबीआई ने जो कदम उठाए है उनका सीधा फायदा हमारे छोटे व्यवसायों,एमएसएमई, किसानों और गरीबों की मदद को मदद मिलेगी। ह डब्ल्यूएमए की सीमा बढ़ाकर सभी राज्यों की मदद भी करेगा'  

 
.25 रिवर्स रेपोरेट में की कटौती
इससे पहले आज RBI के गर्वनर शक्तितकांत दास ने ऐलान किया है कि रिर्जव बैक  इस समय देश की अर्थव्यवस्था को बचाने के  लिए रिवर्स रेपोरेट में 25 बेसिस प्वाइंट की कटौती करेगा। जिसका फायादा सीधे आम लोगों को और बैंको को होगा। अब लोगों को कर्ज आसानी से मिलेगा और ब्याज के रुप में कम पैसा चुकाना होगा। 

चीन और पाक सीमाओं पर बढ़ाई जाएगी सुरक्षा, लॉकडाउन के बीच विशेष ट्रेनों से जाएंगे जवान

50,000 को होगा निवेश
बता दें इसके अलावा शक्तिकांत दास ने कहा है कि आरबीआई छोटे और मध्यम आकार के कॉरपोरेटों को बचाने के लिए 50,000 करोड़ का निवेश करेगी ताकि इन्हें कुछ फायदा मिल सके। आरबीआई ने बताया कि वह नाबार्ड  को 25 हजार करोड़ रुपये, सिडबी को 15 हजार करोड़ रुपये और हाउसिंग फाइनेंस बैंक को 10 हजार करोड़ रुपये की मदद देगा। ताकि नकदी की दिक्कत को दूर किया जा सके। 
 

दुनिया की अर्थव्यवस्था पर 'ग्रेट लॉकडाउन' का महासकंट, 9 ट्रिलियन US डॉलर का होगा नुकसान

अर्थव्यवस्था 1.9 प्रतिशत से करेगी विकास
वहीं इसके अलावा गर्वनर ने बताया कि कोरोना वायरस लॉकडाउन को आईएमएफ इकोनॉमिक काउंसलर ने इसे 'द ग्रेट लॉकडाउन' (The Great lockdown) नाम दिया है। जिसमें 2020-21 में वैश्विक जीडीपी को लगभग 9 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर के बराबर नुकसान का अनुमान है। जबकि भारत में इस समय भी अर्थव्यवस्था 1.9 % की दर से आगे बढ़गी यह जी- 20 में सबसे ज्यादा होगा। इसके बाद भारत फिर से 7% की रफ्तार से गति करेगा।
 

यहां पढ़ें कोरोना के जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें 

क्या है कोरोना वायरस? जानें, बीमारी के कारण, लक्षण व समाधान

Corona Virus: भारत में जल्द बिगड़ेंगे कोरोना से हालात अगर ये बात नहीं मानी तो...

coronavirus: 5 दिन में दिखे ये लक्षण तो जरूर कराएं जांच 

यदि आपका है यह Blood Group तो जल्द हो सकते हैं कोरोना वायरस के शिकार 

मिल गया कोरोना का इलाज! इस विटामिन की डोज से ठीक हो रहे हैं कोरोना के मरीज

अपने शहर की प्राइवेट लैब पर ऐसे करा सकते हैं आप कोरोना संक्रमण की जांच, इतनी होगी फीस

कोरोना वायरस : मास्क के इस्तेमाल में भी बरतें सावधानियां, ऐसे करें यूज 

कोरोना वायरस से जुड़े ये हैं कुछ खास मिथक और उनके जवाब 

भारत में लॉकडाउन के बाद भी कोरोना वायरस के फैलने का खतरा बढ़ा, पढ़े खास रिपोर्ट

लॉक डाऊन है तो फिक्र क्या, बैंक कराएंगे आपके पैसे की होम डिलीवरी

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.