Monday, Mar 30, 2020
coronavirus bsnl jio awareness caller tune cough mobile

अब कोरोना की कॉलर ट्यून में नहीं सुनने को मिल रही खांसी, ये है वजह

  • Updated on 3/13/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। चीन (China) से उठा कोरोना वायरस (Coronavirus) का प्रकोप पूरे विश्व में फैल गया है। हर कोई दहशत में है। सभी एक-दूसरे से हाथ मिलाने से बच रहे हैं। खांसी-जुकाम वालों से दूरी बनाई जा रही हैं। कार्यालयों में सतर्कता बरती जा रही है। यहां तक कि बॉयोमेट्रिक अटेंडेंस तक पर रोक लगा दी गई है। लोगों को बचाव के उपाय और उसके लक्षण बताए जा रहे हैं। इसी प्रचार में भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL) और रिलायंस टेलीकॉम कंपनी जीयो (Jio) ने अपने मोबाइल फोन पर कोरोनो से बचाव के उपाय बता रही है और खांसी का कॉलर ट्यून हटा ली गई है।

अब आप इन दोनों कंपनियों के नंबर फोन पर कॉल करेंगे तो आपको कोरोना से बचाव के मैसेज सुनाई देंगे। कोरोना वायरस को लेकर चलाए जा रहे जागरूकता अभियान में टेलिकॉम सेक्टर कूद पड़ी हैं। इसमें खास तौर पर भारत संचार निगम लिमिटेड और जीयो भी पीछे नहीं है। दोनों कंपनियों ने अपनी कॉलर ट्यून को बदल दिया है। अब बीएसएनएल और जीयो के मोबाइल फोन पर कॉल करने पर आपको कोरोना वायरस से बचाव के तरीके बताएं जा रहे हैं।

कोरोना वायरस से कर्नाटक में पहली मौत, संक्रमित लोगों का आंकड़ा 75 पहुंचा

कॉलर ट्यून में खांसी की आवाज
पहले दोनों कंपनियों के मोबाइल नंबर पर कॉल करने के बाद कॉलर ट्यून में खांसी की आवाज सुनाई दे रही थी। अब उसे हटा दिया गया है। फोन लगाते ही खांसी की आवाज लोगों के भीतर एक नकारात्मक प्रभाव डाल रही थी। कई  लोगों को इस खांसी की आवाज से दिक्कत थी। इसलिए अब कॉल लगाने पर केवल कोरोना से बचाव का उपाय सुनाई देता है। इसमें बार-बार हाथ धोने के लिए कहा गया है। साथ ही खांसते व छींकते समय हाथों की बजाय टिशू पेपर का इस्तेमाल करें। इसके अलावा कॉलर ट्यून में यह भी बताया गया, अपने हाथों को सेनेटाइजर से साफ करें।

कोरोना का कहर जारी, Twitter के कर्मचारियों को घर से काम करने का आदेश

भारत में कोरोना वायरस से 1 की मौत
बता दें कि भारत में अब तक इस वायरस से 75 लोगों  संक्रमित हो चुके हैं वहीं 1 व्यक्ति की इस वायरस के चलते मौत हो चुकी है। पूरे विश्व में कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या 133,720 हो गई है। वहीं इससे मरने वालों की संख्या 4,966 पहुचं चुकी है। हालांकि इस बीमारी से लोक ठीक हो रहे हैं। इस बीमारी से ठीक होने वालों की संख्या 67,003 है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.