Thursday, Apr 09, 2020
coronavirus epidemic 21 days lockdown sikh community come to help poor people

कोरोना कहर के बीच मदद को आगे आया सिख समाज, की ये बड़ी पहल

  • Updated on 3/27/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।  कोरोना (Coronavirus) महामारी (Epidemic) के कारण भुखमरी से कोई ना मरे, इसके लिए दिल्ली के अमीर सिखों (Sikh) ने एक नई पहल शुरू करने का ऐलान किया है। इस बारे शिरोमणी अकाली दल दिल्ली के प्रधान महासचिव व दिल्ली सिख गुरद्वारा प्रबंधक कमेटी के पूर्व अध्यक्ष हरविंदर सिंह सरना ने जानकारी दी। उन्होंने कहा कि गरीब और जरूरतमंदों की मदद से दिल्ली कमेटी ने मुंह मोड़ लिया है। अब सिख परंपरा और विचारधारा की रक्षा के लिए सियासी मतभेदों को दरकिनार करके हमने जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए आगे आने का फैसला किया है।

उन्होंने कहा कि मौजूदा दिल्ली कमेटी प्रधान मनजिंदर सिंह सिरसा लोगों की मदद करने की जगह अपने फार्म हाउस में जाकर बैठ गये है। इसलिए इस महत्वपूर्ण मौके पर सिख सिद्धांतों को बचाने के लिए हम आगे होना पड़ा है। 

लोकनायक अस्पताल के निदेशक हटे, पूर्व को मिली जिम्मेदारी 

'राजनीति से ऊपर उठ करेंगे मदद'
सरना ने बताया कि सिख समुदाय के बुजुर्ग धार्मिक और व्यापारिक नेताओं ने जरूरतमंदों की मदद के लिए आगे आने का फैसला किया है। जिसमें कमेटी के पूर्व अध्यक्ष मनजीत सिंह जीके, राजिंदर सिंह चड्ढा, इकबाल सिंह आनंद, कुलभूषण सिंह चड्ढा, एम.एस. साहनी, कुलदीप सिंह चौहान, हरचरण सिंह नाग, हरप्रीत सिंह (बनीजौली) आदि सारे लोग इस अभूतपूर्व संकट में मानवता की मदद करने के लिए एक साथ आए हैं। हम राजनीतिक विरोध से ऊपर उठकर इस एकजुटता की सराहना करते हैं।

सरना ने समुदाय के अभिजात वर्ग को स्थानीय गुरुद्वारों में विशेष रूप से ग्रन्थियों, रागियों और सेवादारों तक पहुंचने का आग्रह किया। यह हम सभी के लिए एक परीक्षण का समय है। जिन लोगों को गुरु ने समर्थ बनाया है, उन्हें उन लोगों की मदद करनी चाहिए जो एक भयानक संकट में हैं। हमें विश्वास है कि उदारता और करुणा की सिख भावना इस महामारी के दौरान चमकेगी।

कमेटी डॉक्टरों को देगी गुरुदावार के गेस्ट हाउस
वहीं दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने अपने गुरुद्वारा साहिबान से जुड़ी सराय एम्स, राम मनोहर लोहिया व सफदरजंग अस्पताल के डाक्टरों के लिए देने का फैसला किया है। यह जानकारी दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने दी। कमेटी की मीटिंग के बाद जारी एक बयान में इस सबंध में विस्तार में जानकारी देते हुए सिरसा ने बताया कि कमेटी के पास राममनोहर लोहिया अस्पताल की मैनेजमैंट ने पहुंच की थी, जिन्हें गुरुद्वारा रकाबगंज साहिब स्थित सराय के 40 कमरे डाक्टरों के लिए दिये गये हैं।

Lockdown: रोजाना एक लाख लोगों को भोजन उपलब्ध कराएगी दिल्ली सरकार

एम्स और सफदरजंग अस्पताल के डॉक्टरों की ऐसे करेंगे मदद
उन्होंने बताया कि हम केन्द्रीय स्वास्थय मंत्री  को बताया है कि हमने राम मनोहर लोहिया अस्पताल के डाक्टरों के लिए गुरुद्वारा रकाबगंज साहिब स्थित सराय के कमरे दे दिये हैं। हम गुरुद्वारा मोती बाग, धौला कुआं की सराय एम्स व सफदरजंग अस्पताल के डाक्टरों को देने के लिए तैयार हैं और इस सराय में 34 कमरे हैं।

बंगला साहिब के अस्पताल में रखे जा सकते हैं कोरोना के मरीज
उन्होंने बताया कि कमेटी की मीटिंग में भारत सरकार द्वारा कोरोना वायरस से निपटने के सबंध में लिये गये फैसलों की प्रशंसा की गई। इस मीटिंग में यह भी फैसला लिया गया कि गुरुद्वारा बंगला साहिब के साथ बने कमेटी के बड़े अस्पताल में कोरोना वायरस के मरीज रखे जा सकते हैं अगर स्वास्थय मंत्रालय ऐसा फैसला करता है तो कमेटी इन मरीजों के लिए हर जरूरी प्रबंध करने के लिए तैयार है।

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें 

क्या अखबार पढ़ने से हो सकता है कोरोना का संक्रमण? जानिए क्या कहता है WHO

क्या है कोरोना वायरस? जानें, बीमारी के कारण, लक्षण व समाधान

इन आयुर्वेदिक उपायों का करें इस्तेमाल, नहीं आएगा Coronavirus पास 

coronavirus: 5 दिन में दिखे ये लक्षण तो जरूर कराएं जांच 

यदि आपका है यह Blood Group तो जल्द हो सकते हैं कोरोना वायरस के शिकार 

कोरोना वायरस: जिम बंद हुए हैं एक्सरसाइज नहीं, 'वर्क फ्रॉम होम' की जगह करें 'वर्कआऊट फ्रॉम होम' 

Coronavirus को रखना है दूर तो डाइट में शामिल करें ये 7 चीजें 

कोरोना वायरस : मास्क के इस्तेमाल में भी बरतें सावधानियां, ऐसे करें यूज 

कोरोना वायरस से जुड़े ये हैं कुछ खास मिथक और उनके जवाब 

मिल गया Coronavirus का इलाज! जल्द ठीक हो सकेंगे सभी संक्रमित 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.