Thursday, Oct 28, 2021
-->
coronavirus night curfew announced in karnataka bs yediyurappa from today pragnt

नए कोरोना रूप के आने से कर्नाटक सरकार ने लिया बड़ा फैसला, आज से रहेगा नाइट कर्फ्यू

  • Updated on 12/23/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। देश भर में कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित मरीजों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। इस बीच ब्रिटेन (Britain) में पाए गए कोरोना के नए वैरिएंट की खबर ने भारत सरकार की चिंता बढ़ा दी है। कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए कर्नाटक सरकार (Karnataka Government) ने राज्य में आज रात से नाइट कर्फ्यू लगाने का फैसला किया है।

रिपब्लिक भारत पर ब्रिटेन की संस्था ने लगाया लाखों का जुर्माना, लगे यह आरोप, पढ़ें रिपोर्ट

कर्नाटक सरकार का बड़ा ऐलान
कर्नाटक (Karnataka) के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा (BS Yediyurappa) ने कहा कि कर्नाटक सरकार ने राज्य में आज रात 10 बजे से सुबह 6 बजे के बीच तक नाइट कर्फ्यू लगाया। ये कर्फ्यू दो जनवरी तक रहेगा। कर्नाटक सरकार ने 23 दिसंबर से 2 जनवरी 2021 तक पूरे राज्य में नाइट कर्फ्यू लागू करने का फैसला किया है।

तमिलनाडु सरकार ने जल्लीकट्टू के आयोजन की दी अनुमति, इन शर्तों का करना होगा पालन

अधिकारियों के साथ मुलाकात के बाद की घोषणा
येदियुरप्पा ने बताया कि राज्य सरकार ने कोरोना वायरस के नए स्वरूप (स्ट्रेन) के संक्रमण को काबू करने के लिए बुधवार रात से दो जनवरी तक नाइट कर्फ्यू लागू करने का फैसला किया है। मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य मंत्री के सुधाकर, कोविड-19 के लिए राज्य की तकनीकी सलाहकार समिति (टीएसी) के सदस्यों और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ मुलाकात के बाद यह घोषणा की।

अपनी पसंद से शादी, धर्म परिवर्तन करने के मामले में हस्तक्षेप नहीं किया जा सकता: अदालत

CM ने की ये अपील
उन्होंने कहा, 'कोविड-19 वायरस के नए स्वरूप के कारण और भारत सरकार एवं तकनीकी सलाहकार समिति की सलाह के अनुसार, आज (बुधवार) से दो जनवरी, 2021 तक रात 10 बजे से सुबह छह बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू करने का फैसला किया गया है।' येदियुरप्पा ने कहा, 'यह पूरे राज्य में लागू रहेगा।.. मैं सभी लोगों के अपील करता हूं कि वे कोविड-19 के नए स्वरूप के संक्रमण को रोकने में सहयोग करें।'

किसानों ने 'किसान दिवस' पर एक समय का खाना नहीं खाने की लोगों से की अपील

एयरपोर्ट पर स्वास्थ्यकर्मी तैनात
इससे पहले सुधाकर ने टीएसी सदस्यों के साथ विस्तृत विचार-विमर्श किया। पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र में भी नाइट कर्फ्यू लागू करने की सोमवार को घोषणा की गई थी। येदियुप्पा ने कहा कि विदेशों से राज्य में आने वाले लोगों को कोविड-19 संबंधी जांच रिपोर्ट लानी होगी, जिसमें उनके संक्रमित नहीं होने की पुष्टि हो और यह जांच राज्य आने से 72 घंटे पहले ही कराई गई होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि हवाईअड्डे पर जांच के लिए सभी प्रबंध करा दिए गए हैं और स्वास्थ्यकर्मियों को तैनात किया गया है।

केंद्रीय मंत्रियों और सांसदों ने संसद भवन में चौधरी चरण सिंह को दी श्रद्धाजंली, अर्पित की पुष्पांजलि

एक जनवरी से खुलेंगे 10वीं और 12वीं के स्कूल
मुख्यमंत्री ने एक प्रश्न के उत्तर में कहा कि सुबह छह से रात 10 बजे तक सभी गतिविधियां सामान्य रूप से चलेंगी और रात 10 बजे के बाद किसी को बाहर नहीं निकलना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस संबंध में जल्द ही दिशा-निर्देश जारी किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि स्कूल और कॉलेज खोले जाने के बारे में पहले ही चर्चा की जा चुकी है और बताया जा चुका है कि कक्षा 10वीं और 12वीं के लिए स्कूल एक जनवरी से खुलेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा, 'हम दो दिन में बताएंगे कि स्थिति में कोई बदलाव आता है या नहीं। फिलहाल, कक्षाएं एक जनवरी से चालू होंगी।'

पवार बोले- दुर्भाग्यपूर्ण है कि किसानों को अपने हक के लिए लड़नी पड़ रही है लड़ाई

कोरोना के नए प्रकार से राज्य और देश के लोग परेशान
इससे पहले मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने कहा कि अभी राज्य में रात्रि कर्फ्यू लगाने की कोई आवश्यकता नहीं है। इससे पहले, ब्रिटेन में कोरोना वायरस के एक नए प्रकार के प्रसार के मद्देनजर महाराष्ट्र में रात में कर्फ्यू लागू कर दिया गया है। येदियुरप्पा ने कहा, 'इससे (कोरोना वायरस का नया प्रकार) राज्य और देश के लोग परेशान हैं। हमें ज्ञात हुआ है कि चेन्नई में पहुंचा एक व्यक्ति संक्रमित पाया गया है। हमें अतिरिक्त सावधानी बरतनी होगी। बाहर से आने वाले हर व्यक्ति की हवाई अड्डों पर जांच की जाएगी।'

क्या बच्चों को भी लगाई जाएगी कोरोना की वैक्सीन? जानिए क्या कहते हैं एक्सपर्ट

नाइट कर्फ्यू को लेकर कहा था ये
उन्होंने कहा कि सभी आवश्यक एहतियात बरते गए हैं और कर्नाटक में वायरस को फैलने से रोकने के लिए सरकार द्वारा नजर रखी जा रही है। महाराष्ट्र सरकार की तरह रात्रि कर्फ्यू लगाने के प्रश्न पर उन्होंने कहा, 'इसकी यहां अभी कोई जरूरत नहीं है।' उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस को देखते हुए नए साल के जश्न पर पहले ही प्रतिबंध लगा है।

दिल्ली ने कोरोना पर पाया काबू! एक प्रतिशत से भी कम हुई संक्रमण दर

कर्नाटक में कोरोना से 12,029 लोगों की मौत
कोरोना वायरस के सबसे अधिक मामलों में महाराष्ट्र के बाद दूसरे नंबर पर कर्नाटक है, यहां कोरोना वायरस की चपेट में अब तक 9,11,382 लोग आ चुके हैं। राज्य में सक्रिय मामलों की संख्या घटकर 13,993 हो गई है। संक्रमण को मात देकर स्वस्थ होने वालों की संख्या 8,85,341 पर पहुंच गई है। वहीं संक्रमण की जद में आने से प्रदेश में अब तक 12,029 लोगों की मौत हो चुकी है।

इस महीने आ रही कोरोना वैक्सीन! राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में लगा डीप फ्रीजर

देश में कोरोना का कहर
देशभर में कोरोना वायरस का कहर लगातार जारी है। भारत में कोरोना से 1,00,99,308 लोग संक्रमित हो चुके हैं। वहीं इस वायरस की चपेट में आने से अब तक 1,46,476 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। हालांकि, राहत की बात ये है कि 96,62,697 इस वायरस को मात देकर ठीक हो चुके हैं। देश में कोरोना को मात देकर ठीक होने वालों की संख्या सक्रिय मामलों की संख्या से अधिक है। सक्रिय मामलों की कुल संख्या 2,87,432 है।

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें...

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.