Wednesday, Oct 20, 2021
-->
coronavirus-second-wave-know-which-city-has-night-curfew-where-schools-are-closed-prsgnt

Corona की दूसरी लहर में राज्यों ने लगाया बैन, जानिए- किन शहरों में लगा कर्फ्यू, कहां कड़े हुए कानून

  • Updated on 11/21/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। देश में कोरोना का संकट एक बार फिर बढ़ने लगा है। दिवाली और छठ के बाद देश के कई राज्यों में कोरोना संक्रमण का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है। बढ़ते मामलों को देखते हुए कुछ राज्य सरकारों ने अपने राज्यों में कई तरह की पाबंदियां लगाना शुरू कर दी है। 

कोरोना संकट को देखते हुए गुजरात के अहमदाबाद और मध्य प्रदेश के 5 शहरों में नाइट कर्फ्यू लगाने का ऐलान किया गया है। वहीं कुछ राज्यों में स्कूल और बाजार भी बंद करने का फैसला किया गया है।

हरियाणा सरकार का बड़ा फैसला, 30 नवंबर तक सभी स्कूल-कॉलेज रहेंगे बंद

पांच जिलों में रात से कर्फ्यू
कोरोना के मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए मध्य प्रदेश के पांच जिलों में रात्रि का कर्फ्यू लागू करने का सरकार ने फैसला लिया है। यह कर्फ्यू शनिवार की रात से लागू होगा। कोराना की स्थिति को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को समीक्षा की थी। इस दौरान उन्होने बताया कि राज्य के 5 जिलों भोपाल, इंदौर, विदिशा, रतलाम और ग्वालियर में शनिवार को रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक रात्रिकालीन कर्फ्यू लगेगा। 

लेकिन इसके साथ ही कर्फ्यू लागू होने के बावजूद भारवाहक वाहनों की आवाजाही पर रात के समय कोई असर नहीं पड़ेगा और औद्योगिक इकाईयों में काम करने वाले कर्मचारी भी आ जा सकेंगे। राज्य में सभी स्कूल व कॉलेज बंद रखे जाएंगे। जबकि 9वीं से 12वीं तक के छात्र गाइडलाइन्स के साथ स्कूल जा सकेंगे।

प्लाज्मा थेरेपी के 'अंधाधुंध' उपयोग को देखते हुए ICMR ने जारी की नई गाइडलाइन्स, पढ़ें पूरी खबर

57 घंटे का कर्फ्यू
वहीँ, दिवाली के दौरान और बाद में कोरोना संक्रमण बढ़ने के कारण गुजरात सरकार ने अहमदाबाद में रात्रि कर्फ्यू लगाने का फैसला किया है। यह कर्फ्यू अहमदाबाद शहर में 20 नवंबर रात 9 बजे से 23 नवंबर को सुबह छह बजे तक 57 घंटे का कर्फ्यू रहेगा।  हालांकि लॉकडाउन के अंदेशे को फ़िलहाल गुजरात सरकार ने नकार दिया है।

Pfizer और BioNTech का दावा- कोविड वैक्सीन अंतिम विश्लेषण में 95% प्रभावी, जल्द करेंगे आवेदन

यहां हुए स्कूल बंद
हरियाणा सरकार ने स्कूलों को खोलने का आदेश दिया और इसके बाद स्कूलों में कोरोना का विस्फोट देखने को मिला। जिसे देखते हुए राज्य सरकार ने 30 नवंबर तक के लिए सभी स्कूल बंद कर दिए हैं। इस संदर्भ में शिक्षा विभाग ने निर्देश जारी किए हैं। दरअसल, छात्रों की कोरोना की जांच की गई थी जिसमें 300 से ज्यादा छात्र कोरोना संक्रमित पाए गए थे। 

वहीं महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में भी अब 31 दिसंबर स्कूल बंद रहेंगे। जिसे लेकर बीएमसी ने आदेश जारी कर दिए हैं। 

खुशखबरी! भारत ने 150 करोड़ कोरोना वैक्सीन के डोज का किया अडवांस बुकिंग

राजस्थान में धारा 144
उधर राजस्थान में सरकार ने सूबे के सभी जिलाधिकारियों को 21 नवंबर से धारा-144 लगाने की सलाह दी है। राजस्थान में सर्दियां बढ़ने के साथ ही कोरोना के मामले बढ़ने शुरू हो गए हैं। प्रदेश में पहली बार एक ही दिन में ढाई हजार से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए। जबकि 15 जिलों में कोरोना से 15 लोगों की मौत हुई। इसी सब को देखते हुए राज्य सरकार ने कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए सख्ती दिखानी शुरू कर दी है। 

अच्छी खबरः मोडरना की वैक्सीन 95 फीसदी तक प्रभावी, स्टोरेज भी आसान

दिल्ली में लगाया जुर्माना
कोरोना असर को देखते हुए दिल्ली में कोरोना पृथकवास नियमों के उल्लंघन, मास्क नहीं पहनने और सामाजिक दूरी का पालन नहीं करने के अलावा सार्वजनिक स्थानों पर तंबाकू का सेवन करने तथा थूकने पर अब 2,000 रुपये का जुर्माना लगाया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.