Friday, Apr 23, 2021
-->
coronvirus-trump-again-blames-china-for-corona-terms-it-kung-flu-prsgnt

ट्रंप ने कहा 'कुंग फ्लू' और चीन के खिलाफ शुरू हो गया ट्विटर पर नया ट्रेंड, जानिए क्या है मामला

  • Updated on 6/22/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भारत और चीन के बीच बढ़े विवाद पर अमेरिका अपनी प्रतिक्रिया दे चुका है और भारत के साथ चीन के खिलाफ खड़ा है। हालांकि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पहले से ही चीन के खिलाफ है, उन्होंने चीन को कोरोना वायरस फैलाने का दोषी माना हैं और चीन के खिलाफ कोरोना काल में सख्त रवैया अपनाते देखे गये हैं।

इसी बीच अब जब अमेरिका में चुनाव होने वाले हैं तो एक बार फिर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन को लेकर अपनी नाराजगी जताई है और कड़ी प्रतिक्रिया दी है।

गलवान के बाद भारत ने चीन के खिलाफ उठाए ये सख्त कदम, बौखला जाएगा अब चीन

ट्रंप ने कहा- कुंग फ्लू
दरअसल, एक रैली में बोलते हुए ट्रंप ने चीन पर निशाना साधा और कोरोना वायरस फैलाने का चीन पर आरोप लगाते हुए चीन से आए इस वायरस को ‘कुंग फ्लू’ कह दिया। इससे पहले भी ट्रंप कोरोना को चीनी वायरस कह चुके हैं।

ट्रंप ने ओकलाहोमा के टुल्सा में शनिवार को अपनी पहली चुनावी रैली में कहा कि कोरोना वायरस के इतने नाम है जो इतिहास में कभी किसी बीमारी के नहीं हुए। उन्होंने कहा मैं इसे 19 से ज्यादा नामों से पुकार सकता हूं, मैं इसे कुंग फ्लू कह सकता हूं।

क्या पाकिस्तान के करीबी जनरल किलिंग के इशारों पर हुआ लद्दाख में सैनिकों पर हमला?

सोशल मीडिया पर आलोचना
वहीँ, अब ट्रंप के कोरोना के कुंग फ्लू कहे जाने के बाद ट्विटर पर लोगों ने इसकी काफी आलोचना की है। लोगों का कहना है कि यह शब्द चीन की परंपरागत मार्शल आर्ट 'कुंग फू' से प्रेरित है। कुंग फ्लू अब ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा है और लोग इसे चीन के खिलाफ इस्तेमाल कर रहे हैं।

जबकि कुछ लोग इसे नस्लवादी टिप्पणी बता कर ट्रंप की आलोचना कर रहे हैं। लोगों ने कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि ट्रंप चुनाव के कारण चीन के प्रति इस तरह की बयानबाज़ी कर रहे हैं।

अगर जंग हुई तो चीन नहीं भारत का पलड़ा रहेगा भारी, जानिए कितनी है दोनों देशों की ताकत

ट्रंप ने बताया मौजूदा हाल
रैली में ट्रंप ने अमेरिका के कोरोना काल के दौरान अर्थव्यवस्था को लेकर जनता को मौजूदा स्थिति के बारे में बताया। ट्रंप ने कहा कि अर्थव्यवस्था 'आश्चर्यजनक' तरीके से बेहतर काम कर रही है और रोजगारों की संख्या के मामले में अमेरिका रिकॉर्ड बनाने जा रहा है।

ट्रंप ने कहा कि कोरोना काल के कारण लॉकडाउन के बीच अमेरिका में मार्च और अप्रैल में करीब 2.2 करोड़ लोगों की नौकरियां चली गईं लेकिन अब मई में कारोबार फिर से खुले है और उन्होंने कर्मचारियों की भर्ती फिर से शुरू कर दी है।

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें-

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.