Tuesday, Dec 07, 2021
-->
country ready to deal with coronavirus vaccine users reached 1 million in india pragnt

कोरोना से निपटने को तैयार देश! वैक्सीन लगवाने वालों की संख्या पहुंची 10 लाख पार

  • Updated on 1/22/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। देश भर में कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी के खिलाफ 16 जनवरी से टीकाकरण (Vaccination) अभियान जोरों से चल रहा है। कोरोना के देशव्यापी टीकाकरण अभियान के छठे दिन देश में कोरोना वैक्सीन लगवाने वालों की संख्या 10 लाख के पार पहुंच गई। गुरुवार को भारत में 4,043 टीकाकरण केंद्रों पर 2,33,530 लोगों को यह टीका लगाया गया।

वाराणसी: देश में वैक्सीनेशन का काम जारी, PM मोदी वैक्सीन लगावा चुके लोगों से करेंगे सवांद

वैक्सीन लगवाने वालों की संख्या 10 लाख पार
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को कहा कि कोविड-19 के देशव्यापी टीकाकरण अभियान के छठे दिन शाम छह बजे तक टीका लगवाने वाले स्वास्थ्य कर्मियों की संख्या अंतरिम रिपोर्ट के अनुसार 10 लाख से अधिक हो गई है। मंत्रालय ने बताया कि गुरुवार को शाम छह बजे तक 27 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में आयोजित 4,043 टीकाकरण सत्रों के माध्यम से 2,33,530 लोगों को यह टीका लगाया गया।

कोरोना पर चीन की चाल का पर्दाफाश, डॉक्टर जानते थे कितना खतरनाक है वायरस लेकिन...

मंत्रालय ने दी जानकारी
उन्होंने बताया कि अंतिम रिपोर्ट देर रात तक पूरी तैयार होगी। मंत्रालय में अतिरिक्त सचिव डॉ मनोहर अगनानी ने कहा कि देशभर में छठे दिन भी देशव्यापी कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम सफलतापूर्वक चलाया गया। उन्होंने कहा, 'अंतरिम रिपोर्ट के अनुसार कोरोना का टीका लगवाने वाले कुल स्वास्थ्य कर्मियों की संख्या (गुरुवार शाम छह बजे तक) 10,40,014 पहुंच गई जिन्हें 18,161 सत्रों में टीका लगाया गया।'

यूपी : दूसरे चरण में डेढ़ लाख स्वास्थ्य कर्मियों को लगेगा कोरोना वायरस का टीका

16 जनवरी से शुरू हुआ कोरोना टीकाकरण
अगनानी ने कहा कि टीकाकरण के छठे दिन शाम छह बजे तक प्रतिकूल प्रभावों (एईएफआई) के 187 मामले सामने आये। उन्होंने कहा, 'एक व्यक्ति जिसे 16 जनवरी को टीका लगाया गया और जिसे 20 जनवरी को इंटरक्रेनियल हैमरेज हो गया था, उसे राजस्थान में उदयपुर के गीतांजलि मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में भर्ती कराया गया है और इसका टीकाकरण से कोई संबंध नहीं है। आज तक मौत का एक भी मामला नहीं आया है।'

दिल्ली: डेढ लाख से भी कम रुपये में झुग्गी वालों को केजरीवाल सरकार देने जा रही फ्लैट

दिल्ली में चौथे दिन 5942 को लगा कोरोना का टीका 
कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ टीकाकरण अभियान के चौथे दिन दिल्ली में कोरोना वैक्सीन लगवाने वालों की संख्या 5 हजार के पार पहुंच गई। वीरवार को दिल्ली के 81 टीकाकरण केंद्रों पर 8100 लोगों की सूची में से 5942 स्वास्थ्य कर्मियों ने टीका लगवाया। 24 स्वास्थ्य कर्मियों में साइड इफेक्ट के मामले सामने आए, जिसमें 2 हेल्थ वर्कर को अस्पताल में भर्ती करवाना पड़ा। करीब 73 प्रतिशत लोगों ने चौथे दिन टीका लगवाया। अब तक 18,795 हेल्थ कर्मियों ने कोरोना का टीका लगवाया है। 

MCD कर्मचारियों के वेतन को लेकर HC की तीखी टिप्पणी- नेता भीड़ का शिकार हो जाए तो कोई आश्चर्य नहीं

118 स्वास्थ्य कर्मियों में साइड इफेक्ट के मामले
ज्यादातर अस्पतालों में 50 प्रतिशत से अधिक लोगों ने टीका लगवाया। अब तक 118 स्वास्थ्य कर्मियों में साइड इफेक्ट के मामले आ चुके हैं। सबसे ज्यादा वेस्ट जिले में 848 स्वास्थ्य कर्मियों को कोरोना वैक्सीन लगाई गई, जबकि सबसे कम नार्थ-ईस्ट जिले में 183 स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगाया गया। दिल्ली सरकार के लोक नायक अस्पताल में 100 हेल्थ वर्कर ने वैक्सीन लगवाई, यहां 100 हेल्थ केयर वर्कर की सूची तैयार की गई थी। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का कहना है कि कई सारे लोगों को अभी भी वैक्सीन को लेकर हिचकिचाहट है। पंजीकरण कराने के बाद भी वैक्सीन लगवाने नहीं पहुंच रहे हैं।

टीके की बर्बादी को रोकने के लिए गैर स्वास्थ्य कर्मियों के टीकाकरण की इजाजत दी जाए : IMA

देश में कोरोना का कहर
भारत में कोरोना के 14,545 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमण के मामले बढ़कर 1,06,25,428 हो गए, जिनमें से 1,02,83,708 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, वायरस से 163 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 1,53,032 हो गई। आंकड़ों के अनुसार, कुल 1,02,83,708 लोगों के संक्रमण मुक्त होने के साथ ही देश में मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर बढ़कर 96.78 प्रतिशत हो गई है। वहीं कोरोना वायरस से मृत्यु दर 1.44 प्रतिशत है।

भारत की वैक्सीन सबसे कारगर! दुनियाभर में टीकाकरण के बाद देश में सबसे कम लोगों पर दुष्प्रभाव

अब तक 19,01,48,024 नमूनों की जांच
देश में कोरोना के उपचाराधीन मरीजों की संख्या लगातार तीन दिन से दो लाख से कम बनी हुई है। अभी 1,88,688 लोगों का कोरोना वायरस संक्रमण का इलाज चल रहा है, जो कुल मामलों का 1.78 प्रतिशत है। भारत में सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितम्बर को 40 लाख से अधिक हो गई थी। वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर को 50 लाख, 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख और 20 नवम्बर को 90 लाख और 19 दिसम्बर को एक करोड़ के पार चले गए थे। आईसीएमआर के अनुसार देश में 21 जनवरी तक कुल 19,01,48,024 नमूनों की कोरोना वायरस संबंधी जांच की गई। उनमें से 8,00,242 नमूनों की जांच गुरुवार को की गई।

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.