Tuesday, Sep 27, 2022
-->
covid-19-china-is-buying-american-company-pfizers-corona-vaccine-prsgnt

अमेरिकी कंपनी फाइजर की कोरोना वैक्सीन खरीद रहा है चीन, दुनियाभर ने लगाए ये कयास...

  • Updated on 12/18/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कोरोना वायरस (Corona vaccine) फैलाने वाला चीन अब खुद वैक्सीन की खरीद करने के लिए करोड़ों खर्च कर रहा है। खबर मिल रही है कि चीन ने वैक्सीन खरीदने के लिए दस करोड़ खुराक का सौदा जर्मनी से किया है। यह वैक्सीन बहुचर्चित फाइजर-बायोएनटेक वैक्सीन है। 

चीन की इस तरह की पहल के बाद यह अनुमान लगाया जा रहा है कि चीन अब पस्त हो चुका है। ये भी कयास लगाए जा रहे हैं कि चीन को अब खुदके ही वैज्ञानिकों पर भरोसा नहीं रहा है और इसलिए वो जर्मनी से करोड़ों रूपये देकर वैक्सीन खरीद रहा है। 

'फाइजर वैक्‍सीन' लेने वाली दुनिया की पहली शख्‍स बनी माग्रेट कीनन, देखें वीडियो

चीन को क्या है प्लान?
हालांकि कयास यह भी लगाए जा रहे हैं कि कहीं चीन इन खबरों के जरिये दुनिया को गुमराह तो नहीं कर रहा है। ये भी मुमकिन है कि कहीं चीन किसी और प्लान में हो! दुनिया को इस बात को भी नहीं भूलना चाहिए कि चीन ने अभी तक अपने यहां तैयार होने वाली कोरोना वैक्सीन को लेकर कोई भी जानकारी और उसके नतीजों को लेकर बात नहीं कि है और न ही उनकी सफलता या असफलता को दर्शाया है। 

लेकिन अचानक से अपने देश के लिए कोरोना की वैक्सीन खरीदने का चीन का कदम संशय में डाल देता है। वहीं, सूत्रों की माने तो किसी भी वैक्सीन को इमरजेंसी उपयोग की अनुमति तब ही दी जा सकती है, जब वह सुरक्षित और असरदार हो।

सावधान! वैक्सीन लगाने के बाद भी हो सकता है कोरोना, लगाना ही पड़ेगा मास्क

ब्रिटेन बना था पहला देश
बता दें, ब्रिटेन फाइजर-बायोएनटेक के कोविड-19 टीके ((Pfizer) को मंजूरी देने वाला पहला देश बन गया था। इस तरह, घातक कोरोना वायरस को नियंत्रित करने के लिए अति जोखिम वाले लोगों के टीकाकरण करने का मार्ग प्रशस्त हो गया। इसके साथ ही ब्रिटेन के बाद बहरीन और कनाडा ने भी मंजूरी दे दी है।

राज्य कर रहे कोल्ड चेन-भंडारण की तैयारी, घर-घर होगा सर्वे और प्रशिक्षण से टीकाकरण

ये हैं निर्माता
इस टीके को अमेरिकी दवा कंपनी फाइजर और जर्मन कंपनी बायोएनटेक ने साथ मिलकर विकसित किया है। कंपनी ने हाल में दावा किया था कि परीक्षण के दौरान उसका टीका सभी उम्र, नस्ल, अलग-अलग जगह के लोगों पर कारगर रहा। प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने इस शानदार खबर का स्वागत किया था और कहा था कि टीके की दो खुराक दी जाएगी। पहली खुराक के 21 दिन बाद दूसरी खुराक दी जाएगी। दूसरी खुराक के सात दिनों बाद प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूती मिलने लगेगी।

कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.