Sunday, Feb 28, 2021
-->
cremation ghat built for animals in delhi mcd kmbsnt

अब दिल्ली में बनेगा जानवरों के अंतिम संस्कार के लिए श्मशान घाट

  • Updated on 12/23/2020

 नई दिल्ली/टीम डिजिटल। जानवरों के अंतिम संस्कार (Animal Cremation) के लिए दिल्ली में अब श्मशान घाट बनने जा रहा है। जो भी लोग जानवार पालते हैं अब उनको अपने जानवर की मौत के बाद उनको पूरे रीति-रिवाज के साथ विदा करने का अवसर मिलेगा। ये पहल दक्षिणी दिल्ली नगर निगम (SDMC) द्वारा की जा रही है। द्वारका में एक 'स्माल एनिमल क्रिमेटोरियम' बनने जा रहा है। 

दक्षिणी दिल्ली नगर निगम का कहना है कि ये देश का पहला 'स्मॉल एनिमल क्रिमेटोरियम' होगा। बताया जा रहा है कि ये श्मशान घाट छोटे जानवरों के अंतिम संस्कार के लिए बनाया जाएगा। इसमें 700 वर्गमीटर जमीन पर कुत्ते, बिल्ली, सुअर और बंदर जैसे जानवरों का अंतिम संस्कार किया जा सकेगा।

AAP सांसद बोले- काला कृषि कानून किसानों के लिए नहीं, अडानी के लिए बनाया है

श्मशान घाट पर होगी दो तरह की फर्नेस
यहां पर दो तरह की फर्नेस रखी जाएगी। एक फर्नेस 150 किलो की होगी जिसमें केवल पालतू कुत्तों का दाह संस्कार किया जाएगा। वहीं दूसरी फर्नेस में आवारा कुत्तों, बिल्ली, बंदर और सूअर का अंतिम संस्कार किया जाएगा। 30 किलो तक वजन वाले कुत्ते के अंतिम संस्कार के लिए 2000 रुपये तक फीस लगेगी। वहीं अगर कुत्ते का वजन 30 किलो से अधिक है तो अंतिम संस्कार के लिए 3000 रुपये फीस लगेगी। 

पूरी दिल्ली के लोग करा सकते हैं अपने जानवरों का अंतिम संस्कार
हालांकि इस श्मशान घाट का निर्माम दक्षिणी दिल्ली नगर निगम द्वारा किया जा रहा है, लेकिन पूरी दिल्ली से लोग यहां आकर अपने जावनरों का अंतिम संस्कार पूरे विधि विधान के साथ कर सकेंगे। इस श्मशान घाट में अंतिम संस्कार के लिए पुजारी भी मौजूद होंगे। बिल्कुल इंसानों की तरह ही पूरे रीति रिवाज के साथ यहां पर जानवरों का अंतिम संस्कार किया जाएगा।

यूपी मॉडल के स्कूल नहीं देख पाए सिसोदिया, केजरीवाल ने सीएम योगी को दिया न्योता

अस्थि विसर्जन के लिए भी होगी व्यवस्था
इतना ही नहीं यहां पर अस्थि रखवाने की भी व्यवस्था की जाएगी। यानी जो लोग अपने पालतू जानवरों को अंतिम विदाई अस्थि विसर्जन करके देना चाहते हैं तो उनको जानवरों की अस्थि उपलब्ध करवाई  जाएगी। जिसके बाद वो कहीं पर भी जाकर अस्थि विसर्जन कर सकेंगे। अस्थिों को रखवाने के लिए बकायदा यहां पर रैक बनवाए जाएंगे। 

ये भी पढ़ें-

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.