Tuesday, Sep 26, 2023
-->
crude oil prices at low level, but bjp''''s ''''loot'''' continues: congress

कच्चे तेल की कीमत निचले स्तर पर, लेकिन भाजपा की ‘लूट' जारी है: कांग्रेस

  • Updated on 12/1/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कांग्रेस ने बृहस्पतिवार को आरोप लगाया कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत पिछले 10 महीनों के सबसे निचले स्तर पर है, लेकिन भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाली सरकार की ‘लूट' जारी है। मुख्य विपक्षी दल ने यह भी कहा कि कच्चे तेल के दाम में आई गिरावट को देखते हुए देश में पेट्रोल एवं डीजल की कीमत 10 रुपये प्रति लीटर घट सकती है, लेकिन केंद्र सरकार ने एक रुपया भी कम नहीं किया।

पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने ट्वीट किया, ‘‘16 मई, 2014 को कच्चे तेल की कीमत 107.09 डॉलर प्रति बैरल थी। उस समय दिल्ली में पेट्रोल का दाम 71.51 रुपये और डीजल का दाम 57.28 रुपये प्रति लीटर था।'' उन्होंने कहा, ‘‘एक दिसंबर, 2022 को कच्चे तेल की कीमत 87.55 डॉलर प्रति बैरल थी।

आज दिल्ली में पेट्रोल का दाम 96.72 रुपये प्रति लीटर और डीजल का दाम 89.62 रुपये प्रति लीटर है।'' खरगे ने आरोप लगाया, ‘‘कच्चे तेल की कीमत 10 महीने के सबसे निचले स्तर पर है, लेकिन भाजपा की लूट ऊंची बनी हुई है।'' कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि भारत की जनता महंगाई से त्रस्त है, जबकि प्रधानमंत्री अपनी वसूली में मस्त हैं। राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘‘पिछले 6 महीनों में कच्चा तेल 25 प्रतिशत से ज़्यादा सस्ता हो गया है।

देश में पेट्रोल-डीज़ल के दाम 10 रुपये से ज़्यादा घटाए जा सकते हैं, लेकिन सरकार ने एक रुपया भी कम नहीं किया। भारत की जनता महंगाई से त्रस्त है, जबकि प्रधानमंत्री अपनी वसूली में मस्त हैं।'' उल्लेखनीय है कि दिल्ली में वर्तमान में पेट्रोल की कीमत 96.72 रुपये प्रति लीटर और डीजल का दाम 89.62 रुपये प्रति लीटर है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.