Wednesday, Aug 10, 2022
-->
crypto-industry-asks-bjp-modi-government-to-reduce-tds-on-transactions

क्रिप्टो उद्योग ने मोदी सरकार से लेनदेन पर TDS कम करने की लगाई गुहार

  • Updated on 5/10/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। क्रिप्टो उद्योग ने सरकार से क्रिप्टोकरेंसी के लेनदेन पर टीडीएस को प्रस्तावित एक प्रतिशत से घटाकर 0.01 या 0.05 प्रतिशत करने का आग्रह किया है।  उद्योग ने कहा कि ऐसा नहीं करने पर खुदरा व्यापारियों को नुकसान होगा। कॉइनडीसीएक्स के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) और सह-संस्थापक सुमित गुप्ता ने कहा कि क्रिप्टोकरेंसी से होने वाली आय पर 30 प्रतिशत कर अधिक है और इसे कम किया जाना चाहिए।

रेपो दर में वृद्धि नहीं, इसका समय हैरान करने वाला था: सीतारमण

     गुप्ता ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘हम उद्योग के स्तर पर सरकार के साथ बात कर रहे हैं, और हमने एक प्रस्तुति दी है कि कैसे 30 प्रतिशत कर और एक प्रतिशत टीडीएस उद्योग की वृद्धि के लिए हानिकारक है।’’  उन्होंने कहा कि इससे बाजार से नकदी खत्म हो जाएगी और ऐसी स्थिति में खुदरा निवेशकों को नुकसान होगा। उन्होंने कहा कि कॉइनडीसीएक्स नए कर नियमों का पालन करने के लिए अपने मंच पर कारोबारियों के साथ भी काम कर रही है।   

मोहाली में पंजाब पुलिस की खुफिया इकाई के मुख्यालय परिसर में धमाका    

  वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आम बजट में क्रिप्टोकरेंसी और अन्य डिजिटल संपत्तियों को कराधान के दायरे में लाते हुए ऐसी संपत्तियों से होने वाली आय पर 30 प्रतिशत कर लगाने का प्रस्ताव किया था। साथ ही इस श्रेणी में एक सीमा से अधिक लेनदेन पर एक प्रतिशत टीडीएस (स्रोत पर कर कटौती) का भी प्रस्ताव किया गया था।  

केजरीवाल ने RSS के गढ़ नागपुर में ठोंकी ताल, भाजपा पर किया प्रहार

comments

.
.
.
.
.