Wednesday, Dec 01, 2021
-->
dcw president swati maliwal hunger stike rajghat delhi death sentence rape accused

राजघाट पर उमड़े जन सैलाब से मालीवाल के हौंसले बुलंद, कहा- फांसी की मांग हो पूरी तभी...

  • Updated on 12/4/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। बलात्कार के आरोपियों (Rape Accused) की सजा और त्वरित कार्रवाई की मां को लेकर दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्षा स्वाति मालीवाल (Swati Maliwal) की अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल (Hunger Strike) समता स्थल पर आज यानी बुधवार को भी जारी है। उन्होंने कहा कि वह तभी अपनी भूख हड़ताल तोड़ेंगी जब तक कि बलात्कारियों को छह महीने के भीतर फांसी देने की उनकी मांग पूरी नहीं हो जाती। 

मालीवाल ने मंगलवार रात को जंतर-मंतर पर भूख हड़ताल की शुरुआत की, लेकिन बाद में पुलिस की मनाही के बाद वो और उनके समर्थक समता स्थल चले गए। समता स्थल पूर्व उपप्रधानमंत्री बाबू जगजीवन राम का स्मारक है। दिल्ली महिला आयोग (DCW) की प्रमुख के साथ एकजुटता प्रर्दिशत करने के लिए कई महिलाएं राजघाट के पास स्थित समता स्थल पर पहुंचीं। 

मालिवाल ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर लिखा है कि कल पुलिस ने हमें जंतर मंतर से हटाकर राजघाट पर छोड़ा था। आज सुबह से ही राजघाट पर ऐसा जनसैलाब उमड़ा है जो एक नई उम्मीद जगाता है। मांगें पूरी होने पर ही ये अनशन खत्म होगा। लड़ेंगे, जीतेंगे!

राजघाट से जारी रहेगी मालीवाल की भूख हड़ताल, कहा- मांग पूरी होने पर ही होगी खत्म

अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल
दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालिवाल ने देश बढ़ती रेप घटनाओं के खिलाफ अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल करने के बाद अब शाम को दिल्ली पुलिस ने उन्हें हड़ताल खत्म करने का आदेश दे दिया। पुलिस का कहना है कि  कानूनी तौर पर जंतर-मंतर पर इस तरह के आंदोलन करने की आज्ञा नहीं हैं।  

मालीवाल की भूख हड़ताल को खत्म कराने के लिए पहुंची पुलिस, स्वाति ने रखी मांग, दें नई जगह

मालीवाल ने प्रधानमंत्री को लिखा पत्र
मालीवाल ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर बलात्कार के आरोपियों को दोषसिद्धि के छह महीने के अंदर फांसी देने की भी मांग की। उन्होंने पुलिस बल को बढ़ाने और उनकी जवाबदेही तय करने की मांग की। पुलिस की अनुमति नहीं मिलने के बाद स्वाति महात्मा गांधी की समाधी, राजघाट जाकर आशीर्वाद लिया। 

निर्भया मामले में दिल्ली सरकार ने दोषी की दया याचिका खारिज कर कठोर सजा देने की बात कही

निर्भया के दोषी ने की दया की अपील
बता दें कि स्वाति मालिवाल ने यह कदम निर्भया के दोषियों को अभी तक सजा न मिलनेे के कारण उठाया है। हाल में निर्भया के रेप के दोषियों में से एक ने राष्ट्रपति (President) से दया याचिका भी मांगी थी। जिसे दिल्ली सरकार ने नामंजूर कर दिया था। इसके अलावा इस समय हैदराबाद के हुई महिला चिकित्सक के रेप और हत्या के बाद भी पूरा देश शोक में डूबा हुआ है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.