Wednesday, Dec 08, 2021
-->
dda owes 2 thousand crores to mcd said aap mla saurab bhardwaj kmbsnt

DDA को MCD का देना है 2 हजार करोड़, फिर भी केजरीवाल सरकार से पैसे मांग रही BJP- AAP

  • Updated on 1/23/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली नगर निगम (MCD) लगातार केजरीवाल सरकार पर बकाया फंड जारी न करने का आरोप लगा रहा है। वहीं आम आदमी पार्टी (AAP) का कहना है कि इस तरह से आरोप लगाकर बीजेपी आम आदमी पार्टी को बदनाम करने की कोशिश कर रही है, जबकि केंद्र प्रशासित बीजेपी के अंतर्गत आने वाले डीडीए को निगम के करीब 2 हजार करोड़ बकाया रुपये देने हैं। वहां से ये बकाया पैसा लेने को तैयार नहीं है। 

इस मामले में आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर आज बीजेपी पर जमकर हमला बोला है।उन्होंने कहा है कि जबसे दिल्ली बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता बने हैं तबसे उनके पास एक ही लाइन है। केजरीवाल जी हमें पैसे दे दीजिए। भारद्वाज ने कहा कि हम लोग ये आंकलन लगा रहे थे कि दिल्ली नगर निगम में चुनाव लड़ने के लिए बीजेपी के पास अब मुद्दा नहीं बचा। इसलिए बीजेपी ने नया मुद्दा उठाने के लिए निगम के रिवेन्यू के स्त्रोतों से पैसा लेना बंद कर दिया।

गणतंत्र दिवस की परेड में पहली बार लद्दाख लेकर आ रहा अपनी झांकी, जानें इस बार क्या कुछ होगा खास

MCD ने जानबूझ कर रिवेन्यू सोर्स बंद किए
भारद्वाज ने कहा कि जहां-जहां से दिल्ली नगर निगम को पैसा आता है जानबूझ कर उन रिवेन्यू सोर्स के पैसे को लेना बंद कर दिया गया। चाहे प्रॉपर्टी टैक्स हो, टोल टैक्स हो, या आउटडोर विज्ञापन से हो। इन सबसे पैसा निगम के खाते में नहीं, लोगों की जेब में यानी अफसरों और नेताओं की जेब में जाता है। उसके कई सारे उदाहरण हमने पेश किए हैं। इसी मामले में हमारे हाथ कुछ कागजात लगे हैं। 

उत्तरी दिल्ली निगम को DDA से लेने हैं 1200 करोड़
भारद्वाज ने कहा कि वो आदेश गुप्ता जो हर रोज केजरीवाल से पैसे मांगते हैं। वो डीडीए के सदस्य बने हैं। डीडीए केंद्र सरकार के अधीन है। उत्तरी नगर निगम से हमारे नेता विपक्ष विकास ने सवाल पूछे कि नगर निगम को डीडीए से अलग-अलग मदों में कितनी राशि लेनी है? तो पता चला कि 31 मार्च 2018 तक 857 करोड़ रुपये बकाया हैं, जो डीडीए से निगम को लेने हैं। इस आंकड़े के अनुसार 2021 में डीडीए से निगम को करीब 1200 करोड़ रुपये लेने हैं। 

इसी तरह से दक्षिणी दिल्ली नगर निगम से नेता विपक्ष प्रेम चौहान ने सवाल पूछा कि डीडीए के पास दक्षिणी दिल्ली नगर निगम का कितना पैसा है? तो बताया गया कि जोन से हमें जानकारी उपलब्ध नहीं है, लेकिन निगम हेडक्वार्टर को डीडीए से 535 करोड़ रुपये लेने हैं। यदि दोनों निगमों के जोन का पैसा मिला लें तो करीब 2 हजार करोड़ रुपये डीडीए के पास निगम के बकाया हैं। 

भारद्वाज की आदेश गुप्ता को नसीहत
भारद्वाज ने बताया कि पूर्वी दिल्ली नगर निगम से जानकारी नहीं आई है, वो जानकारी नहीं दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारी आदेश गुप्ता को नसीहत है कि आप रोज कटोरा लेके पैसा मांगने निकलते हैं, आप डीडीए के सदस्य हैं। आपने निगम को डीडीए से बकाया पैसा दिलाने के लिए कितनी कोशिश की? आपकी खुद की पार्टी केंद्र सरकार में है जिनके अधीन ये डीडीए आता है। आप दिल्ली के लोगों को जानकारी दें कि आपने क्यों निगम को डीडीए से अब तक ये पैसा नहीं दिलाया। 

Delhi Weather Updates: जारी रहेगा सर्दी का कहर, अगले दो दिन पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने की संभावना

जल बोर्ड घोटाले की जांच कराए बीजेपी- AAP
बता दें कि फंड की कमी के चलते निगम के हजारों कर्मचारियों का करीब 3-4 माह का वेतन नहीं मिला है, जिसके कारण वो संघर्ष कर रहे हैं। निगम और दिल्ली सरकार के बीच फंड को लेकर आरोप-प्रत्यारोप जारी है। बीजेपी ने दिल्ली जल बोर्ड पर 26 हजार करोड़ का घोटाला करने का आरोप लगाया है। इस पर भारद्वाज का कहना है कि बीजेपी के पास इसकी जांच करने के लिए सीबीआई, ईडी जैसी जांच एजेंसियां हैं। अगर सच में इस तरह का घोटाला हुआ है, तो आरोपियों को जेल में डाल दीजीए। 

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.