Friday, Jun 18, 2021
-->
dead-bodies-of-two-missing-people-bodies-of-38-people-recovered-in-five-days-albsnt

चमौली त्रासदीः दो लापता लोगों के मिले शव, 38 लोगों के शव पांच दिनों में हुए बरामद

  • Updated on 2/12/2021

गोपेश्वर/ब्यूरो।  तपोवन-रैंणी आपदा को लेकर चलाये जा रहे रेस्क्यू और सर्च आपरेशन के दौरान पांचवें दिन शुक्रवार को रैंणी गांव और मैठाणा में दो शव बरामद किए गये। इसके साथ ही आपदा में बरामद शवों की संख्या 38 हो गई है। 168 लापता लोगों की खोजबीन जारी है। वहीं तपोवन टनल में चल रहे रेस्क्यू कार्य में पांचवें दिन भी कोई सफलता नहीं मिल सकी है, जहां फंसे 35 लोगों को निकलने का प्रयास किया जा रहा है। अब बैराज साइड पर सर्च अभियान चलाने के लिए मार्ग बनाना शुरू कर दिया गया है।

ऋषि गंगा का जलस्तर बढ़ने से मची अफरा-तफरी, कुछ देर रुका सर्च और रेस्क्यू अभियान

दूसरी ओर विनाशकारी सैलाब के बाद अब वहां बनने वाली करीब 400 मीटर लंबी झील ने सरकार की नींद उड़ा दी है। पांच दिन बाद भी सरकार को इस झील की हकीकत का पता नहीं चला है। इसकी जांच पड़ताल के लिए एस.डी.आर.एफ. के साथ ही वाडिया इंस्टीट्यूट और यूसर्क के वैज्ञानिक मौके पर पहुंच चुके हैं। अभी तक उसकी गहराई का पता नहीं चला है। बहरहाल विस्तृत अध्ययन और इस समस्या के निस्तारण के लिए शासन ने नौ विभागों की टीम गठित कर दी है।

उत्तराखंड त्रासदी: राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने चमोली जिले में टनल रेस्क्यू साइड का किया दौरा

आपदा प्रबंधन अधिकारी नंदा किशोर जोशी ने बताया कि बैराज साइड तक आवाजाही के लिये मार्ग बनाने के बाद पम्पों की मदद से मलबा हटाकर सर्च अभियान चलाया जाएगा। प्रशासन मलारी हाईवे पर गौरी शंकर मंदिर से एप्रोच रोड बना रहा है। इसकी मदद से मशीनों को नदी तल पर उतार कर सर्च अभियान चलाया जाएगा। वहीं, शुक्रवार को प्रशासन की ओर से अलकनंदा नदी के तट पर 8 शव और 3 क्षत-विक्षत अंगों का दाह संस्कार कर दिया गया है।

ये भी पढ़ें:

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.