Sunday, Oct 02, 2022
-->
deenanath-mangeshkar-death-anniversary

पुण्यतिथि विशेष: सुनिए स्वरकोकिला लता मंगेशकर के पिता दीनानाथ के कुछ अनमोल नगमे

  • Updated on 4/24/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भारत की स्वर कोकिला लता मंगेश्कर के पिता दीनानाथ मंगेशकर (Deenanath Mangeshkar) एक मराठी थियेटर अभिनेता, नाट्य संगीतकार और हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीतज्ञ थे। आज दीनानाथ मंगेशकर की पुण्यतिथि है। स्व. दीनानाथ लता के साथ- साथ आशा भोसले, मीणा खड़ीकर, उषा मंगेशकर और संगीतकार ह्दयनाथ मंगेशकर के पिता थे। 

Navodayatimes

दीनानाथ ने पंडित रामकृष्ण वझे के सानिध्य में भारतीय शास्त्रीय संगीत का अध्ययन किया। उन्होंने ज्योतिष का भी अध्ययन किया। वे पहले संगीतकार थे जिन्होंने शिमला में ब्रिटिश वायसराय की उपस्थिति में खुले तौर पर वीर सावरकर द्वारा लिखे गीत का गायन और प्रदर्शन किया जो ब्रिटिश साम्राज्य की अवहेलना करने के लिए किया गया था। दीनानाथ मंगेशकर ने दो शादियां की थी। उनकी दूसरी पत्नी शेवंती से उनके पांच बच्चे हुए।

शादी में दीपिका के सैंडल हाथ में पकड़े नजर आए रणवीर सिंह, सोशल मीडिया पर छा रहीं ये तस्वीर

उनकी लोकप्रियता इतनी थी की तब के विशाल मराठी मंच, बाल गंधर्व ने सार्वजनिक रूप से घोषणा की कि वह अपने संगठन में प्रवेश के समय दीनानाथ का स्वागत "उनके पैरों के नीचे रुपया व सिक्कों के एक कालीन से" करेंगे 1935 की अवधि के दौरान उन्होंने 3 फिल्मों का निर्माण किया, उनमें से एक कृष्णार्जुन युद्ध भी थी। 

कपिल देव की '83' के लिए रणवीर सिंह नहीं रणदीप हुड्डा थे पहली पसंद

Navodayatimesयह दोनों ,हिन्दी और मराठी,भाषा में बनाई गई थी और इसका एक गीत दीनानाथ द्वारा गाया और उन्ही पर फिल्माया गया था। दीनानाथ मंगेशकर ने मानापमान, रणदुंदुभी, पुण्यप्रभाव, संन्यस्त खड्ग, राजसंन्यास,देशकंटक और रामराज्य वियोग जैसे बेहद प्रसिद्ध नाटकों में गायन और अभिनय भी किया।

साल 1942 के अप्रैल माह में बीमारी के चलते मात्र 41 साल की उम्र में उनका निधन हो गया। भारतीय शास्त्रीय संगीत और हिंदी सिनेमा में उनके योगदान के चलते आज उन्ही के नाम पर प्रसिद्ध दीनानाथ पुरस्कार दिया जाता है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.