मानहानि मामले में अजित डोभाल के बेटे के समर्थन में दो गवाह, बयान दर्ज

  • Updated on 2/11/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल के बेटे विवेक डोभाल द्वारा ‘कारवां’ पत्रिका के खिलाफ दायर की गई मानहानि याचिका के समर्थन में दो गवाहों ने सोमवार को दिल्ली की एक अदालत में अपने बयान दर्ज कराए।

‘कारवां’, जयराम के खिलाफ डोभाल के बेटे की मानहानि याचिका पर कोर्ट राजी

विवेक डोभाल ने ‘कारवां’ में कथित मानहानिकारक लेख प्रकाशित किए जाने और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश द्वारा इस सामग्री का इस्तेमाल किए जाने को लेकर यह याचिका दायर की है।

अखिलेश का PM मोदी पर तंज, बोले- ये दूसरों की थाली पर हक जमाने वाले हैं

डोभाल के मित्र निखिल कपूर और कारोबारी सहयोगी अमित शर्मा ने इस आपराधिक मानहानिकारक याचिका के समर्थन में अपने बयान दर्ज कराए।अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट समर विशाल ने मामले में अगली सुनवाई के लिए 22 फरवरी की तारीख तय की है। 

कांग्रेस बोली- लोकपाल बनता तो PM मोदी उसके सामने पहले आरोपी होते

डोभाल ने 30 जनवरी को अदालत के समक्ष अपना बयान दर्ज कराया था और कहा था कि पत्रिका द्वारा लगाए गए सभी आरोप ‘‘आधारहीन’’ और ‘‘फर्जी’’ हैं। इन आरोपों के कारण उनके परिजनों और पेशेवेर सहर्किमयों की नजर में उनकी प्रतिष्ठा को ठेस पहुंची है। कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने एक संवाददाता सम्मेलन में इन आरोपों को दोहराया था।

गुर्जरों के आंदोलन से परेशान हैं रेल यात्री, बैंसला ने दी सरकार को चेतावनी

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.