dehradun-in-dav-college-abvp-had-bloody-clash-with-rebel-group-fighting-and-stone-pelting

देहरादून: DAV कॉलेज में ABVP और बागी गुट में खूनी संघर्ष, चले लाठी-डंडे, हुई पत्थरबाजी

  • Updated on 9/7/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। सूबे के सबसे बड़े महाविद्यालय डीएवी पीजी कॉलेज (DAV PG College) में छात्रसंघ चुनाव (Student Union Election) को लेकर शुक्रवार को खूनी संघर्ष (Voilence) हुआ। एबीवीपी (ABVP) और बागी गुट (Rebel group) में जमकर लाठी-डंडे चले (Fighting), पत्थरबाजी (Stone pelting) हुई। संगठन के बागी गुट ने एबीवीपी प्रत्याशी सागर तोमर (Sagar Tomar) पर जानलेवा हमला किया। इससे सागर गंभीर रूप से घायल (Injured) हो गया। वहीं, बागी गुट के शुभम सिमल्टी (Shubham simalti) और राहुल कुमार लारा (Rahul Kumar Lara) भी घायल हुए हैं। बागी गुट के अध्यक्ष पद के प्रत्याशी निखिल शर्मा (Nikhil Sharma) को भी चोटें आई हैं।

कई राष्ट्रीय पुरस्कारों से नवाजे जा चुके हैं PTI के नए चेयरमैन विजय कुमार चोपड़ा

जुलूस को लेकर तीन छात्र गुटों में हुई मारा-मारी

कॉलेज प्रशासन ने शुक्रवार को कॉलेज परिसर में जुलूस निकालने की एनएसयूआई (MSUI), सत्यम शिवम छात्र संगठन (SSSU) और एबीवीपी के बागी गुटों को अनुमति दी थी। एनएसयूआई और सत्यम शिवम ग्रुप के प्रत्याशियों ने समर्थकों के साथ जुलूस (The procession) निकाला। लगभग साढ़े बारह बजे एबीवीपी का बागी गुट अपने अध्यक्ष प्रत्याशी निखिल शर्मा के समर्थन में जुलूस निकालने जा रहा था। तभी कॉलेज के बाहर फाइव स्टॉर टी स्टॉल के पास बागी गुट और एबीवीपी कार्यकर्ताओं में कहासुनी हुई। कहासुनी देखते ही देखते मारपीट में बदल गई। इससे वहां भगदड़ मच गई। भीड़ कॉलेज परिसर में घुस गई। 

पंजाब केसरी समूह के प्रधान संपादक विजय कुमार चोपड़ा बने PTI के चेयरमैन

जमकर चले लाठी-डंडे और पत्थरबाजी

इस बीच बागी गुट ने सागर पर हमला कर दिया जिसमें सागर गंभीर घायल हो गए। इसके बाद कॉलेज परिसर में जमकर लाठी-डंडे चले और पत्थरबाजी हुई। सागर को कोरोनेशन अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहीं, बागी गुट और एबीवीपी के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष शुभम सिमल्टी और राहुल कुमार लारा के साथ ही अध्यक्ष पद के प्रत्याशी निखिल शर्मा भी घायल हो गए। सागर तोमर का कोरोनेशन अस्पताल और अन्य का सीएमआई में इलाज चल रहा है। 

पुलिस ने लाठियां भांज छात्रों के किया तितर-बितर

इस खूनी संघर्ष के दौरान पुलिस ने लाठियां भांजकर दोनों गुट के समर्थकों को तितर-बितर किया। दोनों पक्ष ने थाने में तहरीर दी है। लेकिन, समाचार लिखे जाने तक मुकदमा दर्ज नहीं हुआ था। तो वहीं एबीवीपी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. कौशल कुमार का इस मामले में कहना है कि, 'डीएवी में रविवार को एबीवीपी की नामांकन रैली देखने के बाद विरोधी बौखला गए। गुंडागर्दी पर उतर आए। इन लोगों ने परिषद के अध्यक्ष पद प्रत्याशी सागर तोमर पर जानलेवा हमला कर उसके साथ सामूहिक मारपीट की। सागर को गंभीर चोटें आई हैं, उसकी स्थिति नाजुक है।'

अयोध्या मामले के सीधे प्रसारण के लिए दायर याचिका CJI के समक्ष होगी सूचीबद्ध

शुक्रवार को चार प्रत्याशियों को जूलूस निकालने की दी गई थी अनुमति

इस खूनी संघर्ष पर डीएवी पीजी कॉलेज के मुख्य चुनाव अधिकारी (छात्रसंघ) डॉ. गोपाल क्षेत्री ने कहा कि 'शुक्रवार को चार प्रत्याशियों को परिसर में जूलूस निकालने की अनुमति दी गई थी। तीन ने शांतिपूर्ण ढंग से जुलूस निकाला। शांतिभंग की आशंका को देखते हुए निखिल शर्मा के जुलूस को रुकवा दिया गया था। झगड़ा व मारपीट कॉलेज परिसर के बाहर शुरू हुई। बाद में कुछ लोग भागकर अंदर आ गए। जिसे पुलिस ने काबू में कर लिया।'

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.