Sunday, Apr 18, 2021
-->
delhi aap arvind kejriwal kejriwal attack bjp modi govt says farmers demands legitimate rkdsnt

मोदी सरकार से नाराज केजरीवाल का टिकैत को समर्थन, बोले- किसानों की मांगें वाजिब

  • Updated on 1/29/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने आंदोलनरत किसानों की मांगों को वाजिब तथा उन्हें बदनाम करने की कोशिश को पूरी तरह गलत करार देते हुए शुक्रवार को कहा कि उनकी आम आदमी पार्टी (AAP) किसानों के जारी प्रदर्शन का पूरा समर्थन करती है। केजरीवाल किसान नेता राकेश टिकैत के असत्यापित एकाउंट से किये गये ट्वीट का जवाब दे रहे थे। टिकैत ने ट्वीट में किसानों के वास्ते इंतजाम करने को लेकर मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया था। 

राहुल ने मोदी सरकार को चेताया, बोले- आगे गांवों से शहरों तक फैलेगा किसान आंदोलन

केजरीवाल ने लिखा, ‘‘राकेश जी, हम पूरी तरह से किसानों के साथ हैं। आपकी मांगें वाजिब हैं। किसानों के आंदोलन को बदनाम करना, किसानों को देशद्रोही कहना और इतने दिनों से शांति से आंदोलन कर रहे किसान नेताओं पर झूठे केस करना सरासर ग़लत है।’’ दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आंदोलनकारी किसानों के लिए किये गये दिल्ली सरकार के इंतजामों का जायजा लेने के लिए शुक्रवार को गाजीपुर बार्डर का दौरा किया। ये किसान नये कृषि कानून वापस लेने की मांग कर रहे हैं। 

दिल्ली दंगे: कोर्ट ने खारिज की UAPA मामले में देवांगना कलीता की जमानत याचिका

गाजियाबाद प्रशासन ने बृहस्पतिवार रात को प्रदर्शनकारी किसानों को यूपी गेट प्रदर्शन स्थल खाली करने का अल्टीमेटम दिया था, लेकिन टिकैत यह कहते हुए डटे रहे कि वह खुदकुशी कर लेंगे लेकिन आंदोलन खत्म नहीं करेंगे। गाजियाबाद प्रशासन के अल्टीमेटम के बाद भी शुक्रवार को दिल्ली मेरठ एक्सप्रेसवे पर भारतीय किसान यूनियन के सैंकड़ों सदस्य डटे हुए हैं।

पुलिस ने किसानों तक पेयजल पहुंचाने से रोका: जैन
जल संसाधन मंत्री सत्येंद्र जैन ने शुक्रवार को दावा किया कि दिल्ली पुलिस ने उन्हें और डीजेबी (दिल्ली जल बोर्ड) के उपाध्यक्ष राघव चड्ढा को सिंघू बार्डर पर प्रदर्शन कर रहे किसानों को पेयजल की आपूर्ति करने से रोका। जैन और चड्ढा आज करीब साढ़े ग्यारह बजे पानी के 12 टैंकरों के साथ सिंघू बार्डर पहुंचे थे लेकिन पुलिस ने उन्हें प्रदर्शनस्थल की ओर जाने से रोक दिया।  

दिल्ली पुलिस ने की ट्रैक्टर परेड हिंसा से जुड़ी जानकारी शेयर करने की अपील

जैन ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘ हम किसानों के वास्ते पेयजल और शौचालय की सुविधाओं का इंतजाम करने के लिए आये थे। पुलिस ने डीजेबी के पानी के टैंकरों को किसानों तक नहीं पहुंचने दिया।’’ उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘ मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने कहा कि उन्हें किसानों तक पानी का टैंकर नहीं पहुंचने देने का आदेश मिला है। केंद्र की भाजपा सराकर ने हमारे किसानों को मूलभूत सुविधाओं से वंचित किया है।’’ 

किसान आंदोलन को लेकर महबूबा मुफ्ती ने भी मोदी सरकार पर बोला हमला

चढ्ढा ने कहा कि ‘‘किसान कोई आतंकवादी थोड़े ही हैं।’’ उन्होंने भाजपा सरकार से उनके साथ सम्मान से बर्ताव करने की अपील की। उन्होंने दावा किया कि भाजपा सरकार किसानों को पेयजल, शौचालय एवं लंगर जैसी मूलभूत सुविधाओं से रोक रही है। आप नेता ने कहा, ‘‘ दिल्ली पुलिस को हमें वह आदेश दिखाना चाहिए जिसके आधार पर उसने पानी के टैंकरों को किसानों तक पहुंचने से रोका।’’ 

किसान ट्रैक्टर परेड में हिंसा : सोशल मीडिया में दीप सिद्धू  को लेकर उठे सवाल

उन्होंने कहा कि प्रशासन ने सिंघू बार्डर पर आप की लंगर सेवा भी रोक दी है। पुलिस ने बृहस्पतिवार को बैरीकेङ्क्षडग बढ़ा दी और उसने उन छोटे रास्तों को बंद कर दिया जिनसे किसान पैदल दिल्ली की तरफ जाते थे। पुलिस ने वहां और पुलिसकर्मी तैनात कर दिये। यह कदम 26 जनवरी को किसानों की टैक्टर परेड के दौरान हिंसा होने तथा करीब 400 पुलिसकर्मियों के घायल हो जाने के बाद उठाया गया है।      

 

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.