Monday, Dec 06, 2021
-->
delhi-air-pollution-updates-central-government-set-a-commission-fine-of-5-crores-prsgnt

प्रदूषण फैलाया तो 5 करोड़ तक जुर्माना और होगी 5 साल की जेल, केंद्र सरकार ने दिया दखल...

  • Updated on 10/29/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) में बढ़ते वायु प्रदूषण (Air Pollution) को देखते हुए केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने एक आयोग का गठन किया है जो पर्यावरण प्रदूषण (रोकथाम एवं नियंत्रण) प्राधिकरण (EPCA) की जगह लेगा।

दरअसल, दिल्ली और उससे सटे राज्यों में प्रदूषण का स्तर बढ़ाता जा रहा है जिसे देखते हुए सरकार ने इस आयोग को बनाने का निर्णय लिया है जो दिल्ली और दिल्ली से सटे हुए राज्यों की खेर-खबर रखेगा। ये आयोग प्रदूषण का दोषी को 5 करोड़ रूपये तक का जुर्माना और 5 साल तक की सजा भी दे सकेंगे।

पराली मामला: सुप्रीम कोर्ट में लोकुर कमेटी की नियुक्ति पर सस्पेंस बरकरार

बताया जा रहा है कि इस आयोग में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ISRO के प्रतिनिधि भी होंगे। इस आयोग का मुख्याोलय दिल्ली में होगा और इसके आदेश को केवल नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल NGT में ही चुनौती दी जाएगी। इस बीच देखा जा रहा है कि दिल्ली् के कई इलाकों में हवा की गुणवत्ताक (AQI) बेहद खराब और गंभीर स्त र तक पहुंच गई है।  कोरोना काल के दौरान बढ़ते प्रदूषण ने लोगों को और बीमार कर दिया हैऔर लोग सांस लेने में काफी दिक्क्त महसूस कर रहे हैं।

मिली जानकारी के अनुसार, सरकार ने दिल्ली-एनसीआर, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान और यूपी वायु प्रदूषण को देखते हुए यह आयोग  बनाने का फैसला लिया गया है। यह आयोग इन राज्यों के प्रदूषण को रोकने और उनकी निगरानी का काम करेगा। इसमें एक चेयरपर्सन के अलावा केंद्र सरकार, एनसीआर के राज्यों के प्रतिनिधि, केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड भी शामिल रहेंगे।

दिल्ली की हवा में फिर घुला 'जहर', आनंद विहार में इतना रहा आज का AQI

वहीँ, दिवाली करीब है और अभी से दिल्ली में पटाखे छुड़ाए जाने लगे हैं। इसी को देखते हुए दिल्ली सरकार एक ग्रीन दिल्ली एप ला रही है। इसके साथ ही दिल्ली सरकार ने पर्यावरण के अनुकूल पटाखे चलाने के अलावा अगर देशी पटाखे किसी को चलाता हुआ पाया तो उसे एक लाख रुपये जुर्माना भरना होगा। इसके लिए भी सरकार ने 11 टीमों का गठन किया है।

वहीँ, सुप्रीम कोर्ट ने भी आदेश दिए हैं कि दिल्ली की हवा को खराब होने से बचाया जाए। अगर जरूरी न हो तो पटाखे न चलाए। वहीँ, दिल्ली के मंत्री गोपाल राय ने एंटी क्रेकर्स अभियान चलाने की भी शुरूआत की है। उन्होंने इस बारे में ट्वीट करते हुए कहा, दिल्ली सरकार 3 नवंबर से एन्टी क्रैकर्स कैम्पेन शुरू करेगी। सभी दिल्लीवासियों से अपील है कि इस दिवाली सिर्फ 'Green Crackers' का ही इस्तेमाल करें और दिल्ली को प्रदूषण मुक्त बनाने में सहयोग करें।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.