Wednesday, Dec 01, 2021
-->
delhi air quality index ncr air pollution updates sohsnt

Air Pollution: दिल्ली में आतिशबाजी से बढ़ा प्रदूषण, गंभीर श्रेणी में दर्ज की गई हवा की गुणवत्ता

  • Updated on 11/15/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली (Delhi) में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) और एनजीटी के आदेश के बाद भी दिवाली पर भारी तादाद में पटाखे फोड़े गए, जिसके कराण दिल्ली की वायु गुणवत्ता (AQI) बेहद खराब श्रेणी में दर्ज की गई है। दिल्ली के कई इलाकों में अभी भी स्मॉग की चादर छाई हुई है। प्रदूषण नियंत्रण समिति (DPCC) के अनुसार, आनंद विहार में एयर क्वालिटी (AQI) 481, आईजीआई एयरपोर्ट इलाके में 444, आईटीओ में 457 और लोधी रोड पर 414 रिकॉर्ड किया गया।

दिल्ली में 24 घंटे में कोरोना के 7,340 नए मामले, संक्रमितों की संख्या 4.82 लाख पार


दिल्ली में प्रदूषण से स्थिति भयाभव
दिल्ली में एक तरफ जहां कोरोना की तीसरी लहर अपने चरम पर है वहीं दूसरी ओर प्रदूषण में लगातार हो रही बढ़ोतरी ने स्थिति और विकराल कर दी है। कोरोना संक्रमण और प्रदूषण को देखते हुए दिल्ली समेत कई राज्यों ने पटाखों की बिक्री और खरीद पर प्रतिबंद लगा दिया था जोकि असफल साबित हुआ है। ऐसे में अब जिसका डर था वही हुआ दिल्ली में पहले से खराब हवा अब बेहद खराब हो गई है।

दिल्ली: CM केजरीवाल- उपराज्यपाल बैजल ने लोगों को दी दिवाली की बधाई, अक्षरधाम मंदिर में करेंगे पूजन

शनिवार रात से ही छाई हुई है स्मॉग की चादर

दिल्ली के कई इलाकों में बीते शनिवार रात से ही स्मॉग की चादर छाई हुई है। दरअसल, दिवाली की रात और उसके अगले दिन को लेकर विशेषज्ञों एवं सरकारी एजेंसियों ने पहले से ही गंभीर अनुमान जताया था। मालूम हो कि नेशनल ग्रीन ट्रायब्यूनल (NGT) ने दिल्ली-एनसीआर में 30 नवंबर तक सभी तरह के पटाखों की बिक्री और खरीद पर पूर्ण प्रतिबंध लगा रखा है। इसके बाद भी नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए दिल्ली-एनसीआर में जमकर आतिशबाजी, जिसका नतीजा ये हुई कि पूरी दिल्ली जहरीली हवा की जद में आ गई।

दीवाली पर फूलों की मांग बढने से खिले फूल व्यवसायियों के चेहरे

दिल्ली के कई इलाकों  में किया जा रहा है पानी का छिड़काव

दिल्ली सरकार, प्रदूषण के स्तर में कमी लाने के लिए शनिवार रात से ही अलर्ट हो गई। इस दौरान दिल्ली के कई इलाकों में नगर निगम की गाड़ियों जमकर दौड़ती नजर आईं। नगर निगन की गाड़ियां जगह-जगह पानी का छिड़काव कर रही हैं। जिन इलाकों में हवा की गुणवत्ता बेहद खराब है ऐसे इलाकों में पानी का छिड़काव करने वाली गाड़ियों की संख्या बढ़ा दी गई है और थोड़ी-थोड़ी देर पर पानी का छिड़काव किया जा रहा है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.