Friday, Apr 03, 2020
delhi assembly elections 2020 bjp high level meeting

दिल्ली चुनाव: जीत सुनिश्चित करने बीजेपी के केंद्रीय नेतृत्व ने संभाली कमान

  • Updated on 1/22/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। महाराष्ट्र (Maharashtra) गंवाने और झारखंड (Jharkhand) में करारी हार के बाद दिल्ली (Delhi) जीतने के लिए बीजेपी (BJP) एड़ी चोटी का जोर लगा रही है। चुनाव के लिए प्रत्याशियों का नाम घोषित करने के बाद अब पार्टी किस तरह की रणनीति अपनाएगी और विपक्ष को पटखनी देगी, इन बातों को लेकर मंगलवार को अचानक ही पार्टी आला कमान ने प्रदेश बीजेपी कार्यालय में दस्तक दी। 

राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, पूर्व अध्यक्ष व गृह मंत्री अमित शाह और केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर तथा संगठन महामंत्री बीएल संतोष ने प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी व प्रदेश के कई अन्य पदाधिकारियों के साथ चुनावी रणनीति को लेकर करीब 35 मिनट तक बंद कमरे में चर्चा भी की। बताया जाता है कि बैठक में सभी के साथ चुनाव की तैयारियों और रणनीतियों पर चर्चा के अलावा विपक्ष के ठोस स्थान पर भी समीक्षा की गई।

दिल्ली चुनाव: उम्मीदवारों को केजरीवाल ने कहा फैमिली, तो भड़क गए कुमार विश्वास

प्रत्याशियों की कमी व मजबूती के बारे में चर्चा
इस बैठक में बीजेपी के दिग्गज सभी 70 विधानसभा में प्रत्याशियों की कमी व मजबूती से अवगत हुए। प्रचार में कुछ महत्वपूर्ण बिंदुओं को अवश्य रखने पर भी निर्देश दिया गया। छोटी-छोटी सभा पर विशेष जोर देने और बड़ी-बड़ी रैलियों से दूरी रखने को भी कहा गया। बाहरी उम्मीदवारों को भी पूरा समर्थन देने को कहा गया।

दिल्ली चुनाव 2020: आधा दर्जन से ज्यादा सीटों पर खड़े हो AAP को चुनौती दे रहे ये बागी नेता

सोशल मीडिया पर चुनावी कैंपेन
वहीं सोशल मीडिया पर चुनावी कैंपेन करने की रणनीति भी तैयार की गई। बताया जाता है कि टिकट न मिलने से मायूस होने वाले नेताओं को भी चुनाव में जुटकर प्रत्याशियों को लड़ाने को कहा गया है। गुटबाजी से परहेज करने की सख्त सलाह भी आला कमान ने बैठक में दी। 

दिल्ली चुनाव: BJP ने दिग्गज प्रत्याशियों और मोदी सरकार के कामकाज पर खेला दांव

विधानसभा की 70 में से 67 सीटों पर चुनाव लड़ेगी भाजपा
बता दें कि बीजेपी दिल्ली विधानसभा की 70 में से 67 सीटों पर चुनाव लड़ेगी।  उसने राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के सहयोगी दलों जनता दल (यूनाइटेड) के लिए दो सीट और लोक जनशक्ति पार्टी के लिए एक सीट छोड़ी है। भाजपा ने उन चार सीटों पर भी अपने प्रत्याशी उतारे हैं जिस पर पारंपरिक रूप से उसकी पुरानी सहयोगी पार्टी शिरोमणि अकाली दल (शिअद) जीत दर्ज कराती रही है।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.