Sunday, Dec 15, 2019
delhi cm arvind kejriwal travel in bus

दिल्ली की बस में सफर करने उतरे CM केजरीवाल, महिलाओं से की खास बातचीत

  • Updated on 10/30/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। भाई दूज (Bhai Dooj) के दिन यानी मंगलवार से दिल्ली (Delhi) की सभी डीटीसी (DTC) और क्लस्टर (Cluster) बसों में महिलाओं के लिए मुफ्त यात्रा योजना शुरू हो गई। महिलाओं के लिए फ्री बस यात्रा (Free Bus Service) की शुरुआत करने के बाद खुद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने बस में सफर किया, ताकि वह राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई मुफ्त-यात्रा योजना पर महिला यात्रियों की राय जान सकें। 

चुनाव के लिए हुआ दिल्ली बीजेपी दफ्तर में हवन, मनोज तिवारी संग कई नेता रहे मौजूद

इस दौरान उन्होंने महिलाओं से बातचीत की। जिसमें उन्होंने महिलाओं और लड़कियों से इस फ्री सेवा के बारे में पूछा कि क्या आपको सरकार से इस सेवा से कुछ लाभ मिल रहा है या नहीं। इसके साथ ही केजरीवाल ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि विपक्ष महिलाओं की राह को आसान बनाने के लिए उठाए गए इस कदम की भी आलोचना कर रहा है। जो काफी गलत है। 

दिल्ली परिवहन निगम (DTC) द्वारा बुधवार को जारी आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक योजना लागू होने के पहले दिन मंगलवार को 4.77 लाख से अधिक महिलाओं ने मुफ्त यात्रा के लिए गुलाबी टिकट लिया। केजरीवाल ने एक ट्वीट के जवाब में कहा, "महिलाओं से सीधे राय जानने के लिए मैंने अभी कुछ बसों का सफर किया। छात्राओं, कामकाजी महिलाओं, खरीदारी करने जा रही महिलाओं के अलावा मैंने नियमित रूप से चिकित्सकों के पास जाने वालों से भी बात की। वे भी बहुत खुश थीं।"

महिलाओं के लिए फ्री बस सेवा के बाद CM केजरीवाल का दिल्लीवासियों को संदेश

एक अन्य ट्वीट में मुख्यमंत्री ने कहा कि आम आदमी पार्टी सरकार द्वारा तैनात किए गए बस मार्शल की मौजूदगी से महिला यात्री सुरक्षित महसूस कर रही हैं और छेड़खानी करने वालों में डर है। करीब 5,600 डीटीसी और क्लस्टर बसों में महिला यात्री मुफ्त यात्रा कर सकती हैं। इसके तहत उन्हें 10 रुपये मूल्य का एक गुलाबी टिकट दिया जाएगा। सरकार ने इस योजना को लागू करने के लिए 140 करोड़ रुपये का बजट तय किया है। डीटीसी के एक अधिकारी ने बताया कि मंगलवार को कुल 13.65 लाख टिकट दिए गए, जिनमें 4.77 लाख गुलाबी टिकट महिला यात्रियों को दिए गए, जो कुल यात्रियों का 34.94 प्रतिशत है।

महिलाओं की भागीदारी 11 प्रतिशत
सीएम ने कहा कि आज दिल्ली में जितने कामकाजी लोग हैं उनमें सिर्फ 11 प्रतिशत कामकाजी महिलाएं हैं, यानी की 89 प्रतिशत आदमी है। इसका मतलब महिलाओं को बराबरी के अवसर नहीं मिल रहे। उन्होंने आगे कहा कि दिल्ली मेट्रो और बसों में रोजाना यात्रा करने वाली केवल 30 प्रतिशत महिलाएं हैं, वहीं 70 प्रतिशत आदमी है। उन्होंने आगे कहा कि दिल्ली सरकार का यह कदम महिलाओं के लिए यात्रा को आसान बना देगा। लेकिन यह दुखद है कि विपक्ष इसकी आलोचना कर रहा है। जबकि उन्हें सभी अच्छे कामों की सराहना की जानी चाहिए।

दिल्ली सरकार का महिलाओं को मुफ्त बस यात्रा का तोहफा, सुरक्षा में लगे 13 हजार मार्शल

दूसरे राज्यों के मुख्यमंत्रियों को दी चुनौती
दिल्ली की आम आदमी पार्टी (AAP) सरकार ने अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों से 'अपील करने के साथ ही उन्हें चुनौती' दी है कि वह दिल्ली की तरह ही अपने राज्यों में महिलाओं के लिए मुफ्त बस सेवा योजना शुरू करें और महिलाओं के सशक्तिकरण और देश के आर्थिक विकास में योगदान दें। महिलाओं के लिए मुफ्त बस योजना की शुरुआत मंगलवार को हुई। इस मौके पर उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने कहा कि इससे महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित होगी और देश की आर्थिक वृद्धि में उनका योगदान बढ़ेगा। 

BJP रोकने की कितनी ही कोशिश कर ले, दुनिया में डंका तो AAP का ही बज रहा है- CM केजरीवाल

आप की वरिष्ठ नेता आतिशी ने कहा कि यह शहर की महिलाओं के लिए 'ऐतिहासिक' दिन है। यह महिला सशक्तिकरण और भारत की आर्थिक वृद्धि के लिए 'नए युग का सूत्रपात' है। आतिशी ने कहा कि आम आदमी पार्टी भारत के विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों से अपील करती है और उन्हें चुनौती देना चाहती है कि अगर वे भी महिलाओं के सशक्तिकरण को लेकर चिंतित हैं और देश की जीडीपी बढ़ाना चाहते हैं तो उन्हें यह योजना लागू करनी चाहिए। आतिशी ने कहा कि दिल्ली में सिर्फ 11 फीसदी महिलाएं ही कामकाजी हैं जो कि 'दुखद' है और ऐसा शहर में महिलाओं की सुरक्षा में कमी की वजह से होता है।

अमन और मानवता का संदेश लिए पाकिस्तान रवाना हुआ नगर कीर्तन

बुजुर्गों और छात्रों को भी मिल सकती है मुफ्त यात्रा की सौगात
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि कुछ लोगों की मांग है कि बुजुर्ग और छात्रों के लिए टिकट फ्री कर दी जाए। उन्होंने कहा कि इसे जरूर करेंगे। पहले महिलाओं के लिए किया है और इसे करके देखते हैं। मुख्यमंत्री ने अपने मोबाइल एप एके में कहा कि आज महिलाओं के लिए एक और खुशखबरी है। अब आज से सभी बसों में मार्शल हैं। ये जो लोफर बसों में घूमते हैं, महिलाओं को छेड़ते उन्हें चेतावनी देता हूं। बचकर रहना। अब तुम्हारी खैर नहीं है।

कश्मीर में प. बंगाल के मजदूरों की हत्या पर विजेंद्र गुप्ता ने जताया दुख, कही ये बात

दोपहर तक 32 फीसदी महिलाओं ने की  नि:शुल्क यात्रा 
मंगलवार को सुबह से लेकर दोपहर तक डीटीसी बसों में कुल 32.65 फीसदी महिलाओं ने यात्रा किया। डीटीसी के आंकड़ो के अनुसार डीटीसी बस में टिकट लेेकर चलने वालों लोगों की संख्या 676028 थी, जबकि 220691 महिलाओं ने पिंक पास लेकर यात्रा किया। इसी तरह कलस्टर बसों में दोपहर 12 बजे तक तकरीबन 25 हजार महिलाओं ने नि:शुल्क यात्रा किया। बता दें कि केजरीवाल ने महिला सुरक्षा के लिए 13 हजार मार्शलों की भी नियुक्ति की है। उन्होंने कहा कि सरकार महिलाओं की सुरक्षा प्रतिबद्ध है।

comments

.
.
.
.
.