Thursday, Feb 25, 2021
-->
delhi court granted bail to 23 people in money laundering case related bhushan steel to rkdsnt

भूषण स्टील से जुड़े धनशोधन मामले में 23 लोगों को अदालत ने दी जमानत

  • Updated on 9/20/2020


नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। दिल्ली की एक अदालत ने बैंक ऋण की कथित धोखाधड़ी से जुड़े करोड़ों रूपये के धनशोधन के मामले में भूषण पावर एंड स्टील प्राइवेट लिमिटेड ( BPSL) के एक पूर्व निदेशक और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को जमानत दे दी है। विशेष न्यायाधीश अरूण भारद्वाज ने शुक्रवार को कंपनी के एक पूर्व निदेशक, सचिव, मुख्य वित्तीय अधिकारी और 20 अन्य को जमानत दे दी। 

यौन उत्पीड़न मामला : अनुराग कश्यप के बचाव में उतरीं अनुभव सिन्हा, तापसी पन्नू जैसी फिल्मी हस्तियां

आरोपी उन्हें अदालत से जारी किये गये समन पर पेश हुए थे। जमानत देते हुए अदालत ने कई शर्तें लगायीं जिनमें यह भी शामिल है कि आरोपी अदालत की पूर्व अनुमति के बगैर देश से बाहर नहीं जायेंगे और वे गवाहों या किसी साक्ष्य को प्रभावित नहीं करेंगे। अदालत ने इस मामले में कंपनी के पूर्व अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक को जमानत दी थी। 

फेसबुक ने घृणा फैलाने वाले भाषणों से निपटने के तरीके का बचाव किया

आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया गया था और बिना गिरफ्तार किये आरोपपत्र दाखिल किया गया था। प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने इस मामले में अपने आरोपपत्र में कहा कि ऋण की राशि के हेर-फेर में संजय सिंघल मुख्य साजिशकर्ता हैं।

सुप्रीम कोर्ट ने पूछा- क्या जकात फाउंडेशन सुदर्शन टीवी मामले में हस्तक्षेप करना चाहता है?

अदालत ने आरोपपत्र का संज्ञान लिया था, जिसमें 24 व्यक्तियों और कंपनी को नामजद किया गया है। ईडी ने कहा कि कंपनी और उसके निदशकों ने बैंकों से लिय गये उधार को निर्धारित समयानुसार नहीं चुकाया और उनके खाते भी लगातार अनियमित रहे।      

कांग्रेस ने पूछा- MSP को कानूनी जिम्मेदारी देने से क्यों भाग रही है मोदी सरकार?

 

 

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

सुशांत मौत मामले में CBI ने दर्ज की FIR, रिया के नाम का भी जिक्र

comments

.
.
.
.
.