Saturday, Jul 31, 2021
-->
delhi education directorate started career conclave 2019 20

छात्रों ने जानी 12वीं के बाद की राह, दिल्ली सरकार ने आयोजित किया करियर कॉन्क्लेव 2019-20

  • Updated on 10/22/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। शिक्षा निदेशालय, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली सरकार (Delhi Government) द्वारा आयोजित करियर कॉन्क्लेव 2019-20 (Career Conclave 2019-20) का सोमवार को त्यागराज स्टेडियम (Tyagaraj Stadium)  में आगाज हुआ। यह करियर कॉन्क्लेव 21 से 25 अक्तूबर तक आयोजित किया जाएगा जो सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक चलेगा। 

इस करियर कॉन्क्लेव का उद्देश्य दिल्ली के सरकारी स्कूलों के कक्षा 12वीं के विद्यार्थियों के लिए अपने करियर को चुनने में मार्गदर्शन का सुनहरा मौका देना है। इस करियर कॉन्क्लेव में उच्च शिक्षा, व्यवसायिक शिक्षा, तकनीकी शिक्षा एवं रोजगार के क्षेत्र में काम कर रहे संस्था और संगठन भाग ले रहे हैं। सभी ने अपने-अपने स्टॉल लगाए हुए हैं, जिन पर छात्रों को जानकारी उपलब्ध कराई जा रही है।

पैरामेडिकल प्रोग्राम के लिए 22 अक्तूबर को होगी काउंसिलिंग

गरीब छात्रों ने ली सिपेट में फ्री ट्रेनिंग की जानकारी
सेंट्रल इंस्टिट्यूट ऑफ प्लास्टिक इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी, सेंटर फॉर स्किलिंग एंड टेक्निकल सपोर्ट, सिपेट, सीएसटीएस, मुरथल के काउंसलर आदेश तिवारी ने बताया कि सरकार ने गरीब बच्चों के लिए योजना निकाली है। जिसमें सालाना 50 हजार से कम एससी और अन्य 1 लाख सालाना से कम आय वाले छात्र छह महीने की फ्री ट्रेनिंग ले सकते हैं। इसके लिए उन्हें कुछ पैसा नहीं देना होगा। 

केंद्र सरकार ने छात्रों के लिए शुरू की एमएचआरडी इंटर्नशिप योजना, हर महीने मिलेंगे 10 हजार रुपये

दाखिले के लिए इन कागजातों की होगा आवश्यकता
दाखिले के लिए एससी वर्ग को आठवीं और अन्य को दसवीं पास होना आवश्यक है और उम्र 18 वर्ष होनी आवश्यक है। दाखिले के लिए दस्तावेजों में आय प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, एससी हैं, तो 8वीं पास का प्रमाण पत्र और अन्य के लिए 10वीं का प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, आवासीय प्रमाण पत्र और 5 पासपोर्ट साइज फोटो के साथ बैंक की पासबुक चाहिए। मेले के पहले दिन लगभग 200 छात्रों ने फ्री ट्रेनिंग के लिए रजिस्ट्रेशन कराया है।

IIT काउंसिल की मीटिंग में लिया गया बड़ा फैसला, जानें पूरा मामला

दिल्ली पुलिस स्टॉल पर रही सबसे अधिक भीड़ 
यूं तो कॉन्क्लेव में इंडियन आर्मी, एयरफोर्स, नेवी, बीएसएफ, सीआरपीएफ सभी के स्टॉल हैं, जिनके विषय में छात्रों को जानकारी दी जा रही है। लेकिन छात्रों की सबसे अधिक भीड़ दिल्ली पुलिस के स्टॉल पर दिखाई दी। स्टॉल पर मौजूद दिल्ली पुलिस एएसआई सुरेंद्र रावत ने बताया कि छात्रों में दिल्ली पुलिस के प्रति काफी उत्साह है, इसका मुख्य कारण यह भी है कि दिल्ली में रहने वाले दिल्ली पुलिस में भर्ती होने के बाद भी अपने घर ही रहेंगे। 
 

comments

.
.
.
.
.