Monday, Jun 21, 2021
-->
Delhi Govt plan to give e ticket without smartphone to bus passengers KMBSNT

बिना स्मार्ट फोन के यात्रियों को मिलेगा E-Ticket, बस स्टॉप पर सुविधा बढ़ाएगी केजरीवाल सरकार

  • Updated on 8/8/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए दिल्ली सरकार द्वारा बस यात्रियों के लिए शुरू की गई ई-टिकट योजना के परिणाम काफी सकारात्मक आए हैं। तीन दिन के ट्रायल में सामने आया है कि बसों में सफर करने वाले 80 प्रतिशत यात्रियों के पास स्मार्ट फोन हैं। बाकी 20 प्रतिशत के पास नहीं हैं। सरकार इस कोशिश में है कि जिन लोगों के पास स्मार्ट फोन न हो इन्हें भी ई-टिकट दिया जा सके। 

जिन लोगों के पास स्मार्ट फोन नहीं है उन लोगोंं को एमएमएस के जरिए टिकट दिया जाएगा। इसके अलावा बस स्टॉप पर सुविधा बढ़ाने पर भी केरीवाल सरकार विचार कर रही है। बसों में ई-टिकटिंग को लेकर तीन दिवसीय शुक्रवार को पूरा हो गया। हालांकि टिकट खरीदने के दौरान उसका भुगतान करने में थोड़ी यात्रियों को परेशानी भी सामने आ रही है। 

क्लस्टर सेवा की रूट नंबर 473 की बसों में ई-टिकटिंग के 3 दिन के ट्रायल में करीब 1000 लोग चार्टर एप को डाउनलोड कर चुके हैं, जिसकी मदद से यात्री टिकट खरीद सकते हैं अभी तक 500 से ज्यादा टिकट ऐप की मदद से लोगों ने यात्रा के दौरान ली है। 

दिल्ली: निर्माण कार्य से खतरे में 300 साल पुराना बरगद, HC ने दिए ये निर्देश

सोशल डिस्टेंसिंग के लिए लिया गया फैसला
परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने बताया कि यात्रियों और कंडक्टर ओं के बीच ज्यादा से ज्यादा दूरी सुनिश्चित करने के लिए दिल्ली सरकार बसों के लिए ईटिकटिंग प्रणाली (कांटेक्ट लेस टिकट सिस्टम) शुरू करने की योजना बना रही है। ताकि इसकी वजह से कोरोना वायरस का फैलाव ना हो। यात्री और कंडक्टर ओं के बीच टिकट या नगदी आदान प्रदान करने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने में कठिनाई होती है।

दिल्ली सरकार के 'रोजगार बाजार' जॉब पोर्टल पर 9 लाख से अधिक नौकरियां

कार्यान्वयन के लिए टास्क फोर्स का गठन
डिप्टी कमिश्नर की अध्यक्षता में इसके संबंध कार्यान्वयन के लिए टास्क फोर्स का गठन किया गया है। टास्क फोर्स में डीटीसी और दिल्ली इंटीग्रेटेड मल्टीमॉडल ट्रांसपोर्ट सिस्टम लिमिटेड के अधिकारियों के अलावा आईआईटी दिल्ली और विश्व संसाधन संस्थान के एक्सपर्ट भी शामिल हैं। 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें-

comments

.
.
.
.
.