Tuesday, Dec 07, 2021
-->
delhi govt start to distribute dry rations to students under mid day meal scheme kmbsnt

मिड-डे-मील: केजरीवाल सरकार बच्चों को आज से उपलब्ध करा रही 6 माह का सूखा राशन

  • Updated on 12/29/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind kejriwal) ने आज यानी मंगलवार को घोषणा की है कि दिल्ली सरकार अपने स्कूलों के छात्रों को मिड-डे मील (Mid-Day-Meal) योजना के तहत छह महीने के लिए सूखा राशन (Dry Ration) मुहैया कराएगी। कोरोना महामारी (Corona pandemic) के कारण मार्च से स्कूलों को बंद रखने के मद्देनजर यह कदम उठाया गया है।

मंडावली इलाके में स्थित सरकारी स्कूल में इसकी शुरुआत करते हुए सीएम केजरीवाल ने कहा, कि जब स्कूल बंद होते थे, तो हम माता-पिता के खाते में मिड-डे मील के लिए पैसे भेजने का फैसला करते थे, लेकिन अब यह फैसला किया गया है कि हम छह महीने के लिए सूखा राशन देंगे। 

Corona vaccine देने के नाम पर दिल्ली में फर्जीवाड़े का खुलासा

सरकारी स्कूल की सीएम ने की तारीफ
इस कार्यक्रम के दौरान सीएम केजरीवाल ने सरकारी स्कूल की तारीफ की। साथ ही कहा कि बीते 9 माह मुश्किल भरे रहे, अब हालात कुछ सुधरे हैं, लेकिन वैक्सीन आने तक हमें संयम से काम लेना होगा। कोरोना काल में बच्चों के विकास पर पड़ रहे प्रभाव के बारे में भी सीएम केजरीवाल ने बात की। साथ ही 94 प्रतिशत बच्चों के ऑनलाइन क्लास में पढ़ने पर भी खुशी जाहिर की। 

अभिभावकों ने की थी सूखे राशन की अपील- केजरीवाल
सीएम केजरीवाल ने कहा कि पहले बच्चों के माता-पिता के अकाउंट में पैसे डाल दिए जाते थे, जिससे वो बच्चों को भोजन करा सकें, लेकिन कुछ अभिभावकों ने ही अपील की है कि उनके पैसे अन्य कामों पर खर्च हो जाते हैं, ऐसे में सरकार बच्चों के लिए राशन ही दिया करे। जिसके बाद सरकार ने बच्चों को 6 माह का सूखा राशन देने की योजना बनाई है जिसकी शुरुआत आज से की जा रही है।  

बता दें कि कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए मार्च में देश भर के स्कूलों को बंद कर दिया गया था। वहीं अनलॉक की प्रक्रिया के तहत 15 अक्टूबर से कुछ राज्यों में आंशिक रूप से फिर से स्कूल खोल दिए गए थे। हालांकि, दिल्ली सरकार ने घोषणा की है कि कोरोनॉयरस के लिए वैक्सीन उपलब्ध होने तक राष्ट्रीय राजधानी में स्कूल फिर से नहीं खुलेंगे।

सिंघू बॉर्डर से ऑपरेट होगा पूरा किसान आंदोलन! पुलिस अलर्ट

मिलेगा इनते दिन का राशन
बता दें कि शिक्षा निदेशालय के अनुसार जुलाई और अगस्त में कुल 48 दिन तथा सितंबर और अक्टूबर में कुल 45 दिन स्कूल खुला है। इसके अलावा नवंबर और दिसंबर में कुल 46 दिन स्कूल खुलेगा। इन दिनों के हिसाब से किट बनाकर छात्रों के अभिभावकों को राशन दिया जाएगा। 

प्राथमिक कक्षा के छात्रों को प्रतिदिन के हिसाब से 100 ग्राम गेहूं या चावल, 9.93 ग्राम तेल और 35 ग्राम दाल दिया जाएगा। सभी स्कूलों के प्रधानाचार्यों को ये भी निर्देश दिया गया है कि इस राशन का वितरण गैर सरकारी संगठनों की मदद से किया जाए। 

ये भी पढ़ें:

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.