Thursday, Jun 17, 2021
-->
delhi hc asked question  to central govt over corona caller tune message kmbsnt

कोरोना कॉलर ट्यून संदेश पर दिल्ली HC ने केंद्र से किया ये सवाल

  • Updated on 5/14/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कोरोना वैक्सीन की कमी को देखते हुए दिल्ली हाईकोर्ट ने केंद्र सरकार के डायलर ट्यून संदेश (जिसमें कोरोना वैक्सीन लगाने की सहाल दी जाती है) पर सवाल उठाया है। कोर्ट ने कहा कि जब आपके पास वैक्सीन ही नहीं है तो आप लोगों को कब तक इस ट्यून के जरिए वैक्सीन लगाने का संदेश देकर परेशान करेंगे।

न्यायमूर्ति विपिन सांघी और न्यायमूर्ति रेखा पल्ली की खंडपीठ ने कहा कि जब भी किसी को फोन लगाया जाता है तो यह परेशान करने वाली ट्यून शुरू हो जाती है। कोर्ट ने कहा कि ये हमें नहीं मालूम कि कब तक लोगों का टीकाकरण होगा जबकि आपके पास अभी पर्याप्त वैक्सीन भी नहीं है। आप लोगों को टीका तो नहीं लगा रहे लेकिन संदेश में वैक्सीन लगाने की सलाह दिए जा रहे हैं। जब वैक्सीन है ही नहीं तो कैसे लगवाएंगे? कहां लगवाएंगे? इस संदेश का क्या महत्व है? 

कोर्ट ने केंद्र सरकार और दिल्ली सरकार को सुझाव दिया है कि संदेश को स्थिति के अनुसार बदलना होगा। जब भी कोई व्यक्ति संदेश सुने उससे उसकी मदद हो। कोर्ट ने कहा कि अब ऑक्सीजन, कंसंट्रेटर दवाओं आदि के उपयोग पर इस तरह के संदेश मिलने चाहिए। 

आतिशी का दावा- वैक्सीन जल्द उपलब्ध नहीं हुई तो 45 वर्ष से अधिक लोगों को नहीं मिल पाएगी दूसरी डोज

दिल्ली में 45 प्लास वालों का वॉक-इन वैक्सीनेशन
दिल्ली में वैक्सीनेशन की बात करें तो उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया वैक्सीनेशन प्रक्रिया की बैठक में निर्णय लिया है कि 45 प्लस आयु वर्ग के लोग अब बिना रजिस्ट्रेशन करवाएं सीधे वैक्सीनेशन केंद्रों पर जाकर टीका लगवा पाएंगे। वैक्सीनेशन केंद्रों पर ही उनका रजिस्ट्रेशन किया जाएगा।

दिल्‍ली में एक दिन में कोरोना के 10489 नए केस, पॉजिटिविटी रेट गिरकर 14 प्रतिशत

सरकारी स्कूलों में खोला जाएगा वैक्सीनेशन केंद्र
बैठक में यह भी निर्णय हुआ कि वैक्सीनेशन केंद्रों को अस्पतालों से शिफ्ट कर दिल्ली के सरकारी स्कूलों में खोला जाएगा। दिल्ली के सरकारी स्कूलों में 18 से 45 आयु वर्ग के लोगों के लिए 3 मई से वैक्सीनेशन केंद्रों की शुरुआत की गई थी। इसके बेहतर परिणामों को देखते हुए सरकार ने 45 प्लस आयु वर्ग के लोगों का वैक्सीनेशन केंद्र सरकारी स्कूलों में शिफ्ट करने का निर्णय लिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.