Saturday, Jul 31, 2021
-->
delhi high court against the proposal to promote supreme court lawyers as judges kmbsnt

सुप्रीम कोर्ट के वकीलों को जज बनाने वाले प्रस्ताव के विरोध में दिल्ली HC, चीफ जस्टिस को लिखा पत्र

  • Updated on 6/12/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। सुप्रीम कोर्ट में कार्यरत वकीलों को हाईकोर्ट में जज नियुक्त किए जाने के प्रस्ताव को लेकर अब सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन और दिल्ली हाईकोर्ट बार एसोसिएशन आमने सामने आ गए हैं। दरअसल, सुप्रीम कोर्ट बार एससोसिएशन ने एक पत्र जारी किया है जिसमें सुप्रीम कोर्ट में काम करने वाले वकीलों को हाईकोर्ट में जज नियुक्त करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई है।

अब तक केवल राज्य हाईकोर्ट में प्रैक्टिस करने वाले वकीलों को विशेष हाईकोर्ट के न्यायाधीशों के रूप में प्रमोट किया जाता रहा है। ऐसे में सुप्रीम कोर्ट के वकीलों को हाईकोर्ट में बतौर जज नियुक्त करने के खिलाफ दिल्ली हाईकोर्ट बार एसोसिएशन खड़ा हो गया। इनकी ओर से चीफ जस्टिस एनवी रमणा को पत्र भी लिखा गया है। 

BJP के राशन माफिया वाले आरोप पर भड़के केजरीवाल- कहा इतना गाली गलौज अच्छा नहीं

दिल्ली हाईकोर्ट बार एसोसिएशन ने प्रस्ताव को बताया मनमाना
दिल्ली हाईकोर्ट बार एसोसिएशन ने प्रस्ताव का विरोध करते हुए पत्र में लिखा है कि सुप्रीम कोर्ट के वकीलों के विशिष्ट वर्ग का विचार मनमाना है। हाईको4ट कॉलेजियम तय करता है कि न्यायाधीश कौन बनेगा। इस प्रस्ताव को मंजूरी हाईको4ट के कॉलेजियम की शक्ति को छीनने जैसा है।

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने संशोधित की सभी श्रेणी के वाहनों के लिए अधिकतम स्पीड लिमिट

चीफ जस्टिस से की गई ये अपील 
हाईकोर्ट बार एसोसिएशन ने चीफ जस्टिस से अनुरोध किया है कि अगर सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के आग्रह पर सुप्रीम कोर्ट के वकीलों को हाईकोर्ट के जजों के रूप में प्रमोट करने के संबंध में कोई भी फैसला लिया गया है तो उसे वापस लेना चाहिए। 

comments

.
.
.
.
.