Sunday, Mar 07, 2021
-->
delhi high court asked netflix it show bad boy billionaires web series to mehul choksi rkdsnt

कोर्ट ने नेटफ्लिक्स से पूछा- क्या चोकसी को दिखाई जा सकती है वेब सीरीज ‘बैड ब्वॉय बिल्यनेर्स’

  • Updated on 8/26/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। दिल्ली उच्च न्यायालय ने ऑनलाइन वीडियो मंच नेटफ्लिक्स से बुधवार को कहा कि क्या वह ‘बैड ब्वॉय बिल्यनेर्स’ वेब सीरीज इसकी रिलीज से पहले करोड़ों रुपये के पीएनबी घोटाले के आरोपी मेहुल चोकसी को उपलब्ध करा सकता है। जस्टिस नवीन चावला ने नेटफ्लिक्स से वकील से मौखिक रूप से कहा कि वह चोकसी को इसकी ‘प्री-स्क्रीनिंग’ (रिलीज से पहले देखने के लिये) उपलब्ध कराने पर विचार करे और विवाद पर विराम लगाये। 

कंगना रनौत ने बॉलीवुड में ड्रग्स माफिया को लेकर जाहिर किए अपने जज्बात

बहरहाल, अदालत ने इस विषय की अगली सुनवाई 28 अगस्त को निर्धारित की है। गीतांजलि जेम्स के प्रवर्तक चोकसी और उसके भतीजे नीरव मोदी 13,500 करोड़ रुपये से अधिक के पंजाब नेशल बैंक धोखाधड़ी मामले में आरोपी हैं। चोकसी पिछले साल देश छोड़ कर भाग गया था। इस वेब सीरीज के दो सितंबर को भारत में रिलीज होने का कार्यक्रम है। 

कैंसर से जूझ रहे संजय दत्त अब अपना इलाज अमेरिका में कराएंगे, वीजा मिला

नेटफ्लिक्स पर इसके बारे में यह बताया गया है कि यह एक ऐसा वृत्तचित्र है जो भारत के सर्वाधिक कुख्यात उद्योगपतियों के लालच, फरेब और भ्रष्टाचार को बयां करता है। इसमें भगोड़ा कारोबारी विजय माल्या, नीरव मोदी के साथ-साथ सुब्रत रॉय और बी राजू रामलिंग राजू के विवादित मामलों पर प्रकाश डाला गया है। अदालत में चोकसी का प्रतिनिधित्व कर रहे अधिवक्ता विजय अग्रवाल ने इस वेब सीरीज की रिलीज को टाले जाने का अनुरोध किया है। 

सुशांत मामले में सीबीआई, ईडी के बाद अब नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो सक्रिय

अधिवक्ता ने कहा कि उन्होंने इसका ट्रेलर देखा है और पूरी दुनिया इस बारे में उन्हें कॉल आ रहे हैं जिनमें यह पूछा जा रहा है कि क्या वह इस वृत्तचित्र का हिस्सा हैं। साथ ही, उनसे इस पर टिप्पणी करने को भी कहा जा रहा है। याचिका में कहा गया है कि इसके बाद याचिकाकर्ता (चोकसी) ने यह पाया कि ट्रेलर में दिख रहा एक व्यक्ति पवन सी लाल नाम का व्यक्ति है जिन्होंने ‘फ्लाव्ड:द राइज ऐंड फॉल ऑफ इंडियाज डायमंडल मोगुल नीरव मोदी’ लिखी थी...। 

यूपी में बढ़ता ही जा रहा है कोरोना का कहर, मरने वालों की संख्या 3000 के पार

अग्रवाल ने कहा कि वह इस वेब सीरीज की रिलीज पर रोक नहीं चाहते हैं, बल्कि सिर्फ अनुरोध कर रहे हैं कि इसे इसकी रिलीज से पहले उन्हें दिखाया जाए। सुनवाई के दौरान नेटफ्लिक्स इंक और नेटफ्लिक्स इंटरटेनमेंट र्सिवसेज इंडिया एलएलपी का प्रतिनिधित्व कर रहे वरिष्ठ अधिवक्ता नीरज किशन कौल ने कहा कि यह वेब सीरिज नीरव मोदी जैसे कई लोगों पर है और इसमें चोकसी पर सिर्फ दो मिनट है।

हाई कोर्ट का PM Cares में ICAI डोनेशन के खिलाफ याचिका पर सुनवाई से इनकार

 

 

 

 

कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरों को यहां पढ़ें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.