Saturday, Jul 31, 2021
-->
delhi high court grants bail to devangana natasha narwal asif iqbal tanha kmbsnt

Delhi Riots 2020: नताशा नरवाल, देवांगना कलिता और इकबाल तन्हा को HC से जमानत

  • Updated on 6/15/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली उच्च न्यायालय ने उत्तरपूर्वी दिल्ली हिंसा मामले में गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम के तहत गिरफ्तार पिंजरा तोड़ कार्यकर्ता देवांगना कलिता और नताशा नरवाल और जामिया के छात्र आसिफ इकबाल तन्हा को जमानत दे दी है।

बता दें कि नताशा नरवाल, इकबाल तन्हा और देवांगना कलीता को संशोधित नागरिकता कानून के विरोध के दौरान उत्तरपूर्वी दिल्ली में भड़के दंगे के मामले में गिरफ्तार किया गया था। इन दंगों में 200 से ज्यादा लोग घायल हुए थे और 53 लोग मारे गए थे। 

अयोध्या जमीन सौदे में आप नेता मनीष सिसोदिया ने घोटाले का आरोप लगाया 

13 जून से 26 जून तक के लिए अंतरिम जमानत
दिल्ली हाईकोर्ट ने पढ़ाई के लिए इकबाल तन्हा को 13 जून से 26 जून तक के लिए अंतरिम जमानत दी है। 15 जून से शुरू होने वाली परीक्षा की तैयारी इकबाल दिल्ली में ही एक होटल में रहकर करेगा। आज मंगलवार को ही डिविजन बैंच ने नियमित याचिका पर फैसला सुनाया है। 

राजभर बोले- राम मंदिर निर्माण के लिए जमीन खरीदने में हुए घोटाले की जांच CBI से कराई जाए

मार्च में सुरक्षित रख लिया था फैसला
इकबाल की याचिका पर मार्च के महीने में ही इकबाल की याचिका पर फैसला सुरक्षित रख लिया गया था। दरअसल 26 अक्टूबर 2020 को निचली अदालत ने इकबाल को जमातन देने से इनकार कर दिया था। इसके बाद इस निर्णय को हाईकोर्ट में चुनौती गई। दिल्ली हाई कोर्ट के न्यायमूर्ति सिद्धार्थ मृदुल एवं न्यायमूर्ति ए जे भाम्भनी की पीठ मामले की सुनवाई की और आज नियमित जमानत इकबाल को दे दी गई। 

निचली अदालत ने कहा था कि पुलिस के मुताबिक उत्तर पूर्वी दिल्ली में भड़के साम्प्रदायिक दंगों में इकबाल की भूमिका थी। और वो मुख्य साचिशकर्ताओं में शामिल था। इसी आधार पर उसकी जमानत याचिका को खारिज कर दिया गया था। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.