Wednesday, Aug 04, 2021
-->
delhi-high-court-orders-to-shift-65-tablighi-jamaat-members-kmbsnt

दिल्ली हाईकोर्ट ने 65 जमातियों को दूसरी जगह शिफ्ट करने का दिया आदेश

  • Updated on 7/1/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली हाईकोर्ट ने कोरोना लॉकडाउन के दौरान निजामुद्दीन मरकज में धार्मिक कार्यक्रम में हिस्सा लेने वाले तबलीगी जमात से संबंधित 65 विदेशी नागरिकों को वैकल्पिक आवास में ले जाने की अनुमति दे दी है। न्यायमूर्ति विपिन सांघी और न्यायमूर्ति रजनीश भटनागर की पीठ ने केंद्र, दिल्ली सरकार और दिल्ली पुलिस के वकीलों के इस बयान के बाद यह आदेश जारी किया कि उन्हें इस पर कोई एतराज नहीं है।

हाईकोर्ट ने वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से सुनवाई करते हुए 28 मई के हाईकोर्ट के आदेश में संशोधन संबंधी आवेदन भी मंजूर किया है। जिसमें वर्तमान आपराधिक कानूनी प्रक्रिया के मद्देनजर तबलीगी जमात से संबद्ध विदेशी नागरिकों के वैकल्पिक आवास के लिए तीन और स्थानों को शामिल करने की मांग की गई थी।

ऐतिहासिक स्मारक बंद होने से घुटनों पर आई होटल इंडस्ट्री

जमातियों को मिराज इंटरनेशनल स्कूल में असुविधा
बता दें कि इस संबंध में अधिवक्ता मंदाकिनी सिंह और अशिमा मंडला द्वारा दायर एक याचिका दी गई थी, जिसमें कहा गया था कि मिराज इंटरनेशनल स्कूल में ठहराए गए 65 विदेशी नागरिकों को वहां की गई व्यवस्था से असुविधा हुई। जिसके बाद मंगलवार को हाईकोर्ट ने उन्हें मिराज इंटरनेशनल स्कूल से यहां मौजपुर में टेक्सन पब्लिक स्कूल में भेजे जाने की अनुमति दी। जिसका सुझाव उन लोगों ने ही दिया था।

कॉमनवेल्थ गेम्स विलेज में बन रहा है 600 बेड का कोरोना आइसोलेशन सेंटर, ये हैं सुविधाएं...

'आगे से ऐसे संशोधन के लिए कोर्ट के पास न आएं'
आदेश में यह भी कहा गया है कि ऐसे संशोधन के लिए याचिकाकर्ताओं को भविष्य में सीधे हाई कोर्ट में आने की जरूरत नहीं है। इसके लिए वह अपना आवेदन दिल्ली पुलिस को दें, जो इसे निर्णय के लिए केंद्र सरकार के पास भेजेंगे और पूरी प्रक्रिया 1 सप्ताह में पूरी होगी। दिल्ली पुलिस ने कहा है कि 35 देशों के 910 विदेशी नागरिकों के संदर्भ में 47 आरोप पत्र दायर किए गए हैं। 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें-

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.