Saturday, Feb 27, 2021
-->
delhi house fire 9 deaths including 3 children

मकान में लगी आग 3 बच्चों समेत 9 की मौत

  • Updated on 12/24/2019

नई दिल्ली/ महेश चौहान। अनाज मंडी में जल कर मरे 45 लोगों की राख पूरी तरह से ठंडी भी नहीं हुई थी कि राजधानी  (Capital) के बाहरी दिल्ली (Delhi) के किराड़ी इलाके में एक कपड़े के गोदाम में भीषण आग लग गई। इस आग में 9 लोगों की मौत (Die) हो गई जिनमें 3 मासूम बच्चे भी शामिल हैं। प्रारंभिक जांच में मरने वालों में 6 लोगों की मौत दम घुटने से हुई। इस हादसे में 3 लोग बुरी तरह से झुलसे हैं जिनकी हालत गंभीर है। इनमें एक महिला और 2 बच्चे हैं। ये हादसा देर रात क रीब 12 बजे के बाद हुआ। 

दिल्ली: नरेला की ऑद्योगिक फैक्ट्री में लगी भीषण आग, मौके पर दमकल

दिल्ली सरकार ने दिया 10 लाख का मुआवजा
हादसे के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जांच के आदेश दिए हैं, साथ ही दिल्ली सरकार ने घटना में मारे गए लोगों के परिजनों को 10 लाख रुपए और सभी घायलों का इलाज फ्री और एक लाख रुपए की अतिरिक्त सहायता राशि दी है। मामले में एक बार फिर एमसीडी ने अनाज मंडी की तर्ज पर जांच के आदेश दिए हैं। बता दें कि इससे पूर्व में अनाज मंडी हादसे में एमसीडी कमिश्नर वर्षा जोशी ने जांच के आदेश देकर 3 दिनों में रिपोर्ट के लिए कहा था, लेकिन वे रिपोर्ट अभी तक नहीं आई हैं। इसके अलावा दिल्ली सरकार के गृहमंत्री सत्येंद्र जैन दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी, विजेन्द्र गुप्ता, सांसद हंस राज हंस, मेयर सरदार अवतार सिंह व कांग्रेस नेता कीर्ति आजाद मौके पर पहुंचे और घटनास्थल पर पीड़ितों के परिजनों से बात की। 

दिल्ली के किराड़ी में तीन मंजिला घर में आग, एक ही परिवार के 5 लोग सहित 9 की मौत

जान गंवाने वाले सभी लोग बिहार से 
प्रारंभिक जांच में आया है कि ये हादसा भी अनाज मंडी के जैसे ही शार्ट सर्किट के चलते हुआ। यही नहीं ये दो मंजिला इमारत थी जिसमें सीढ़िया बेहद संकरी और खिड़कियां जाम थीं, जिसके चलते इतने लोगों की मौत हुई। जान गंवाने वाले सभी लोग बिहार के मधुबनी जिले के रहने वाले थे। फायर विभाग के अधिकारियों ने बताया कि देर रात करीब 12.05 बजे किराड़ी स्थित इंदर एन्क्लेव फेस-1 से रामचंद झा के मकान में आग लगने की सूचना मिली। सूचना मिलते ही दमकल की आधा दर्जन गाडिय़ों और पुलिसकर्मियों को मौके पर भेजा गया। जिन्होंने घंटों की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। मामला बड़ा होने के कारण मौके पर एनडीआरएफ की टीम को भी भेजा गया था। दमकल विभाग अधिकारियों का कहना है कि आग पर काबू पाने के बाद घर से 9 लोगों को बाहर निकाल कर संजय गांधी अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टरों ने सभी को मृत घोषित कर दिया। पुलिस का कहना है कि इनमें से एक की मौत झुलसने के कारण और बाकी की मौत दम घुटने से हुई है।

बनी जांच टीमें 
अनाज मंडी में मारे गए 45 लोगों की मौत के बाद बनी जांच कमेटी की तरह इस हादसे में दिल्ली सरकार, एमसीडी और दिल्ली पुलिस ने जांच कमेटी का गठन किया है। लेकिन नतीजा क्या होगा, इसका किसी को पता नहीं। आपको बता दें कि इससे पूर्व में हुए हादसे में तीनों विभागों ने जांच कमेटी का गठन कर 3 दिन में रिपोर्ट का दावा किया था, लेकिन किसी भी विभाग ने 15 दिन गुजर जाने के बाद भी अपनी रिपोर्ट को सार्वजनिक नहीं किया है। 

हादसे में मारे गए लोग 
मकान मालिक का परिवार

  • रामचन्द्र झा (65)
  • पत्नी सुद्रया झा (62)
  • संजू झा (36)
  • बाल मुखी झा (65)

किरायेदार का परिवार

  • उदय चौधरी (33)
  • मुस्कान चौधरी (26)
  • अंजली (10)
  • आदर्श (7)
  • तुलसी (ढाई माह)
  • घायल की सूची
  • पूजा (25)
  • अराध्या (3)
  • सौम्या (10)
Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.