Monday, Oct 03, 2022
-->
delhi mcd teachers protest outside bjp president adesh gupta house aap creates issue rkdsnt

भाजपा अध्यक्ष गुप्ता के घर पर MCD टीचरों का धरना, AAP ने बनाया मुद्दा

  • Updated on 11/2/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। आम आदमी पार्टी (AAP) ने भाजपा शासित एमसीडी में भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है। आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता दुर्गेश पाठक ने कहा कि नार्थ एमसीडी में प्रापर्टी टैक्स का 1400 करोड़ रुपए भाजपा नेताओं के भ्रष्टाचार में चला जाता है, इसीलिए एमसीडी अपने कर्मचारियों को सैलरी और पेंशन नहीं दे पा रही है। नार्थ एमसीडी ने 12 लाख लोगों को प्रापर्टी टैक्स के लिए चिंहित किया है। 

मोदी सरकार की हरी झंडी के बाद केजरीवाल का ऐलान- औद्योगिक क्षेत्रों में मैन्युफैक्चरिंग बंद

उन्होंने कहा कि अगर बिना भ्रष्टाचार किए यह टैक्स वूसला जाए, तो नार्थ एमसीडी को 2100 करोड़ रुपए की आमदनी होती, लेकिन भ्रष्टाचार में डूबी भाजपा शासित एमसीडी 12 लाख में से केवल 4 लाख लोगों से ही करीब 700 करोड़ रुपए प्रापर्टी टैक्स वसूल पाती है, बाकी 8 लाख लोगों के प्रापर्टी टैक्स के करीब 1400 करोड़ रुपए ट्रेजरी में जमा ही नहीं होते हैं और इसे भाजपा नेता आपस में बांट लेते हैं। 

मप्र उपचुनाव से पहले कमलनाथ मामले में चुनाव आयोग को सुप्रीम कोर्ट ने दिया झटका

दुर्गेश पाठक ने कहा कि नार्थ एमसीडी ने अब तक प्रापर्टी टैक्स न देने वालों में से सिर्फ 36 लोगों के खिलाफ कार्रवाई की है, जो यह साबित करता है कि इनके मन में पाप है, अन्यथा सबके खिलाफ कार्रवाई की जाती। आम आदमी पार्टी इस भ्रष्टाचार की जांच कराने की मांग करती है। आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता दुर्गेश पाठक ने कहा कि पिछले 14 सालों से भाजपा एमसीडी को चला रही है। भाजपा शासित एमसीडी डॉक्टरों और नर्सों को वेतन तक नहीं दे पा रही है। 

माकपा ने पीएम स्वनिधि योजना को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा

एमसीडी के कर्मचारी और डॉक्टर अपने वेतन को लेकर धरने पर बैठे हुए हैं। पिछले 14 सालों में भाजपा ने एमसीडी की हालत इतनी खराब कर दी है कि आज एमसीडी के पास कर्मचारियों को वेतन देने तक के पैसे नहीं हैं। भाजपा के नेताओं ने अधिकारियों के साथ मिलकर एमसीडी को भ्रष्टाचार की फैक्ट्री बना दिया है। भाजपा के नेताओं ने एमसीडी को सिर्फ भ्रष्टाचार का एक साधन बनाकर रख दिया है। 

BJP को रोकने के लिए 2019 में जरूरी था BJP से गठबंधन : अखिलेश

इस बीच पार्टी ने दिल्ली भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता के आवास के बाहर एमसीडी टीचरों के धरने पर भी सवाल उठाए हैं। आप अब इस मुद्दे को सोशल मीडिया पर जोर-शोर से उठा रही है। विधायक सौरभ भारद्वाज ने भी इस मसले पर भाजपा को आड़े हाथ लिया है। आप ने अगले साल होने जा रहे एमसीडी चुनाव के मद्देनजर भाजपा को घेरना शुरू कर दिया है। 

राज्यसभा के लिए यूपी से 10 सदस्य निर्विरोध निर्वाचित, भाजपा ने मारी बाजी

उन्होंने कहा कि आज एमसीडी के कर्मचारी धरने पर बैठे हुए हैं। वहीं, भाजपा के पार्षद बड़ी-बड़ी गाड़ियों में घूम रहे हैं, बड़े-बड़े और ऊंचे-ऊंचे मकान बना रहे हैं। अब सवाल यह उठता है कि जब एमसीडी के पास अपने कर्मचारियों को देने के लिए पैसे नहीं हैं, तो भाजपा के पार्षदों पर इतना पैसा कहां से आ रहा है? दिल्ली के सभी नगर निगमों में नॉर्थ एमसीडी के हालात सबसे बदतर हैं। दिल्ली में प्रॉपर्टी टैक्स इकट्ठा करने का काम एमसीडी का है। 

 

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.