Tuesday, Jun 22, 2021
-->
delhi pollution stubble burning prakash javadekar vs kejriwal kmbsnt

प्रदूषण को लेकर जावड़ेकर के बयान पर भड़के केजरीवाल, कहा- हर साल एक ही कहानी नहीं चलेगी

  • Updated on 10/15/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण (Pollution) की समस्या पर हर साल की तरह इस बार भी राजनीतिक बयान बाजी शुरू हो गई है। केंद्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में बढ़ते प्रदूषण के मुख्य कारकों को लेकर एक बयान दिया है, जिसके पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind kejriwal) भड़क गए और उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर को जवाब दिया।

मुख्यमंत्री ट्वीट कर लिखा कि बार-बार इनकार करने से कोई सहायता नहीं होगी।  यदि पराली जलने से केवल 4% प्रदूषण होता है, तो प्रदूषण में अचानक कुछ समय पहले ही वृद्धि क्यों हुई है? उससे पहले हवा साफ थी। एक ही कहानी हर साल। इस लेवल तक प्रदूषण को बढ़ाने के लिए किसी भी स्थानीय स्रोत में भारी उछाल नहीं आया है? 

प्रदूषण बढ़ता देख बोले सत्येंद्र जैन- NCR में चल रहे 11 थर्मल प्लांट को बंद करे केंद्र सरकार

CPCB की 50 टीमें आज से मैदान में
दरअसल प्रदूषण की रोकथाम के लिए केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की ओर से 50 टीमें बनाई गई हैं। एनसीआर में पर्यावरण नियमों का उल्लंघन करने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। यह टीमें 28 फरवरी तक प्रभावी रहेंगी। नोएडा, गाजियाबाद, मेरठ, गुरुग्राम, फरीदाबाद, झज्जर, पानीपत, सोनीपत, भिवाणी, अलवर और भरतपुर में यह टीमें दौरा करेंगी।

दिल्ली प्रदूषण पर लगेगी लगाम! आज से मैदान में उतरेंगी CPCB की 50 टीमें

जावड़ेकर के इस बयान पर भड़के केजरीवाल
इसी की जानकारी देते हुए केंद्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि सीपीसीबी की 50 टीमों को आज से दिल्ली-एनसीआर में निरीक्षण के लिए तैनात किया जाएगा। स्टबल बर्निंग में दिल्ली के वातावरण में केवल 4% प्रदूषकों का योगदान है, बाकी धूल, निर्माण और जलने जैसे स्थानीय कारकों के कारण प्रदूषण बढ़ा है। जावड़ेकर के इसी बयान का जवाब देते हुए सीएम केजरीवाल ने ट्वीट किया है। 

दिल्ली में कल से नहीं चलेंगे डीजल जनरेटर, प्रदूषण रोकने के लिए उठाया कदम

'रेड लाइट ऑन गाड़ी ऑफ' अभियान शुरू
बता दें कि दिल्ली सरकार लगातार प्रदूषण को कम करने के लिए नई नई योजनाएं ला रही है। सरकार ने युद्ध प्रदूषण के विरुद्ध अभियान के तहत अब एक और अभियान जोड़ दिया है। इस अभियान का नाम है 'रेड लाइट ऑन गाड़ी ऑफ' (Red light on gaadi off)। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस अभियान की शुरूआत आज से करने का ऐलान किया है। 

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस बात की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि दिल्ली वालों ने 5 सालों में प्रदूषण को कम करने के लिए लगातार प्रयास किया है। अब इन्हीं प्रयासों में इस एक और अभियान को जोड़ा जा रहा है। इस अभियान के तहत रेड लाइट ऑन होते ही लोगों को अपनी गाड़ी को ऑफ करना होगा। इससे प्रदूषण तो कम होगा ही साथ ही ईंधन की बचत भी होगी। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.