Saturday, May 08, 2021
-->
delhi riots chargesheet against bjp leader kmbsnt

दिल्ली दंगा: बीजेपी नेता पर इरफान की हत्या का आरोप, 26 मार्च से जेल में बंद

  • Updated on 7/4/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। उत्तर पूर्वी दिल्ली में संशोधित नागरिकता कानून और एनआरसी को लेकर हुए दंगों के दौरान 25 वर्षीय एक व्यक्ति की हत्या के आरोप में बीजेपी के ब्रह्मपुरी मंडल के महामन्त्री (महासचिव) बृजमोहन शर्मा को भी गिरफ्तार किया गया है। इनकी गिरफ्तारी मार्च में हुई थी। ये काफी लंबे समय से पार्टी से जुड़े हुए  हैं।  

दिल्ली के कड़कड़डूमा कोर्ट में मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट पुरुषोत्तम पाठक के समक्ष 23 जून को दायर चार्जशीट में बृजमोहन शर्मा की राजनीतिक महत्वाकांक्षाओं के बारे में बात करते हुए कहा गया कि उन्हें स्थानीय स्तर पर 'नेताजी' के रूप में जाना जाता है, इसमें किसी भी पार्टी का उल्लेख नहीं है।

41 साल के बृजमोहन को 26 मार्च को अपने पड़ोसी सनी सिंह (32) के साथ करतार नगर, पुस्ता -4 में दंगों के दौरान इरफान की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। आरोप पत्र में ये बात दर्ज है कि उसने हत्या की बात स्वीकार की थी।उसके पिता हरीश चंद्र शर्मा भी बीजेपी के पूर्व नेता हैं, और पार्टी के किसान मोर्चा के उपाध्यक्ष थे।

सोनिया गांधी के बाद गहलोत ने उठाई मेडिकल संस्थानों में OBC आरक्षण की मांग

बृजमोहन के पिता बोले मेरे बेटे को फंसाया गया
बृजमोहन ने बीजेपी के साथ होने की पुष्टि करते हुए दावा किया कि उन्हें दंगों में फंसाया गया था। “दंगों से पहले, दो स्थानीय पुलिसकर्मियों ने निर्माण कार्य की अनुमति के लिए दो परिवारों से पैसे की मांग की थी। मेरे बेटे ने रोक दिया। एक महीने बाद, जब दंगे हुए, उन्होंने मेरे बेटे के खिलाफ बयान दर्ज किए। हमारे राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों के साथ स्थानीय पुलिसकर्मियों ने उसे झूठा फंसाया। जब घटना को अंजाम दिया गया था तब वह घर पर ही था। 

कोरोना संकट की वजह से नीट, जेईई-मेन परीक्षा अब सितंबर तक टली 

बीजेपी के एक वरिष्ठ सदस्य ने की पुष्टी
हरीश चंद्र शर्मा  का कहना है कि मैंने अपने बेटे से कहा था कि वह महामन्त्री पद का चुनाव न करे, लेकिन पांच साल पहले पार्टी ने उसका चयन किया। मैंने हमारी पार्टी के नेताओं से अनुरोध किया है, लेकिन तीन महीने 10 दिन से मेरा बेटा जेल में बंद हैं। दिल्ली बीजेपी के एक वरिष्ठ सदस्य ने पुष्टि की कि बृजमोहन ने 'पद संभाला' था, लेकिन  वर्तमान स्थिति के बारे में उन्हें पक्की जानकारी नहीं है। 

कोरोना संकट: दिल्ली हाईकोर्ट का आदेश- प्लाज्मा देने के लिए नहीं कर सकते मजबूर

इरफान की मां कुरेशा ने की आरोपियों की पहचान
चार्जशीट में, पुलिस ने कहा कि इरफान की मां कुरेशा ने उन चार लोगों में से बृजमोहन और सनी की पहचान की थी जिन्होंने उस पर हमला किया था। पुलिस ने कहा कि उन्हें अन्य दो को गिरफ्तार करना बाकी है। मजिस्ट्रेट के सामने दर्ज सीआरपीसी की धारा 164 के तहत अपने बयान में, कुरैशा ने कहा कि उसका बेटा और वह 26 फरवरी को दूध और दवाइयां खरीदने के लिए बाहर गए थे। वह मुझसे आगे चल रहा था जब अचानक कुछ लोगों ने उसके ऊपर हमला कर दिया। एक ने रॉड मारी और दूसरे ने उसके पर सिर पर तलवार से वार किया। 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें-

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.