Tuesday, Dec 07, 2021
-->
Delhi riots Congress comes out in support of CPIM Yechury Delhi Police on target rkdsnt

दिल्ली दंगे: येचुरी के समर्थन में उतरी कांग्रेस, दिल्ली पुलिस निशाने पर

  • Updated on 9/13/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कांग्रेस (Congress ) ने दिल्ली दंगों के सिलसिले में दाखिल एक पूरक आरोप-पत्र में नामजद किये गये माकपा (CPIM) नेता सीताराम येचुरी (Sitaram Yechury) और अन्य के समर्थन में उतरते हुए रविवार को आरोप लगाया कि दिल्ली पुलिस (Delhi Police) आपराधिक न्याय प्रणाली का मजाक बना रही है। विपक्षी पार्टी ने कहा कि भाजपा (BJP) को अपनी नीतियों के खिलाफ उठ रही आवाजों को दबाने के प्रयास में इतने निम्न स्तर पर नहीं जाना चाहिए। 

ठाकरे सरकार पर हमलावर कंगना रनौत ने अब राज्यपाल से की मुलाकात

कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने ट्वीट किया, ‘‘दिल्ली पुलिस ने दिल्ली दंगों के मामले में एक पूरक आरोप पत्र में सीताराम येचुरी और कई अन्य विद्वानों और कार्यकर्ताओं का नाम लेते हुए आपराधिक न्याय प्रणाली का उपहास उड़ाया है।’’ उन्होंने सवाल किया कि ‘‘अगर एक आरोपी (गुलफिशा फातिमा) ने अपने बयान में एक नाम का उल्लेख किया है, तो उस व्यक्ति को आरोप पत्र में क्या एक आरोपी के रूप में नामित किया जाएगा।’’

 प. बंगाल के हुगली में पेड़ से लटका मिला भाजपा कार्यकर्ता का शव, सियासत गर्म

उन्होंने पूछा, ‘‘क्या दिल्ली पुलिस यह भूल गई है कि सूचना और आरोप पत्र के बीच जांच और सबूत जुटाने नामक महत्वपूर्ण कदम हैं।’’ येचुरी के अलावा आरोप पत्र में स्वराज अभियान के योगेंद्र यादव, अर्थशास्त्री जयती घोष और दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रोफेसर अपूर्वानंद का संदर्भ दिया गया है। हालांकि दिल्ली पुलिस ने स्पष्ट किया है कि उन्होंने उनके खिलाफ आरोप पत्र दायर नहीं किया है। 

भ्रष्टाचार सूचकांक में भारत की खराब रैंकिंग, सुप्रीम कोर्ट में दायर हुई PIL

कांग्रेस महासचिव के सी वेणुगोपाल ने कहा, ‘‘भाजपा अपनी नीतियों के खिलाफ शांतिपूर्ण असंतोष को दबाने की कोशिश में निम्न स्तर पर पहुंच गई है, जिसने इस देश के सामाजिक-आॢथक-राजनैतिक ताने-बाने को ठेस पहुंचाई है।’’ कांग्रेस के एक अन्य नेता जयराम ने कहा, ‘‘‘यह नृशंसता से भी बदतर है। मैं उन सामाजिक कार्यकर्ताओं के साथ खड़ा हूं जिनके नाम आरोप पत्र में शामिल किए गए हैं। वे (सामाजिक कार्यकर्ता) सत्ता में धोखेबाजों की तुलना में अधिक देशभक्त हैं।’’ 

दिल्ली दंगे: पूरक आरोपपत्र पर माकपा ने मोदी सरकार को लिया आड़े हाथ

वहीं कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा, ‘‘अगर सच बोलना अपराध है, अगर घृणा को उजागर करना अपराध है, अगर दंगाइयों का विरोध करना अपराध है, अगर सही का साथ देना अपराध है तो फिर हम सभी को आरोप-पत्र में नामजद कर जेल भेज दिया जाए। तभी मेरा देश बचेगा। जय हिन्द।’’

सुशांत मामले में घिरीं रिया चक्रवर्ती के समर्थन में उतरे अनुराग कश्यप, बोले- सब खून के प्यासे

 

 

 

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

सुशांत मौत मामले में CBI ने दर्ज की FIR, रिया के नाम का भी जिक्र

comments

.
.
.
.
.