Thursday, Feb 25, 2021
-->
delhi riots high court asked delhi police to show videos of pinjra tod inflammatory speech rkdsnt

दिल्ली दंगे: पुलिस कोर्ट में नहीं दिखा पाई पिंजरा तोड़ मेंबर के भड़काऊ भाषण के वीडियो

  • Updated on 8/21/2020


नई दिल्ली/टीम डिजिटल।  दिल्ली हाई कोर्ट (Delhi High Court) ने शुक्रवार को दिल्ली पुलिस (Delhi Police) से पिंजरा तोड़ संगठन की एक सदस्य के वीडियो दिखाने को कहा, जिनमें वह कथित तौर पर उत्तर पूर्व दिल्ली में इस साल सांप्रदायिक हिंसा के दौरान भड़काऊ भाषण दे रही हैं। हालांकि पुलिस ने कहा कि उनके पास उस समय के वीडियो नहीं हैं, जब समूह की सदस्य और जेएनयू छात्रा देवांगना कलिता (Devangana Kalita) कथित तौर पर दंगों के दौरान कथित तौर पर भड़काऊ भाषण दे रही थीं। 

AAP 2022 में उत्तराखंड चुनाव में उतारेगी उम्मीदवार, केजरीवाल उत्साहित

पुलिस ने कहा कि उसके पास कलिता के 24 और 25 फरवरी को हुए दंगों से पहले कथित तौर पर लोगों को भड़काने के वीडियो हैं और उनके 22 तथा 23 फरवरी के भी वीडियो हैं जब नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के बाद बड़ी संख्या में लोग प्रदर्शन कर रहे थे। 

योगी सरकार पर हमलावर AAP सांसद संजय सिंह अचानक पहुंचे यूपी विधानसभा में

सीएए के खिलाफ प्रदर्शनों के दौरान दिल्ली में सांप्रदायिक हिंसा से संबंधित मामले में कलिता की जमानत अर्जी पर दलीलें सुनते हुए न्यायमूर्ति सुरेश कुमार कैत ने कहा, 'मुझे भाषण का कोई अंश दिखाइए जिसे मीडिया या किसी अन्य ने रिकॉर्ड किया हो जिसमें कलिता भीड़ को अपराध करने के लिए उकसा रही हों।'

प्रशांत भूषण SC में बोले- दोबारा सोचने का सवाल ही नहीं, वक्त बर्बाद मत कीजिए सजा दीजिए

NGT का गंगा-यमुना की गुणवत्ता को लेकर दायर याचिका पर विचार करने से इनकार

कोर्ट ने कहा कि उस दौरान हर ओर मीडिया की मौजूदगी थी और वे रिकॉर्डिंग कर रहे थे। जस्टिस ने कहा, 'मैं जानना चाहता हूं कि उन्होंने क्या कहा जिससे भीड़ भड़की।' पुलिस की ओर से अतिरिक्त सॉलिसीटर जनरल एस वी राजू ने कहा कि 25 फरवरी को घटना के वक्त कोई मीडिया नहीं था और गवाहों के बयान भीड़ को उकसाने में कलिता की भूमिका को दर्शाते हैं।

 

 

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

प्रशांत भूषण केस में SC का फैसला संवैधानिक लोकतंत्र को कमजोर करने वाला : येचुरी

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.