Saturday, Jul 11, 2020

Live Updates: Unlock 2- Day 11

Last Updated: Sat Jul 11 2020 10:13 AM

corona virus

Total Cases

821,870

Recovered

516,240

Deaths

22,144

  • INDIA7,843,243
  • MAHARASTRA238,461
  • TAMIL NADU114,978
  • NEW DELHI109,140
  • GUJARAT40,155
  • UTTAR PRADESH33,700
  • TELANGANA25,733
  • ANDHRA PRADESH25,422
  • KARNATAKA25,317
  • RAJASTHAN23,814
  • WEST BENGAL22,987
  • HARYANA19,736
  • MADHYA PRADESH15,284
  • BIHAR14,330
  • ASSAM11,737
  • ODISHA10,624
  • JAMMU & KASHMIR8,675
  • PUNJAB6,491
  • KERALA5,623
  • CHHATTISGARH3,305
  • UTTARAKHAND3,161
  • JHARKHAND2,854
  • GOA1,813
  • TRIPURA1,580
  • MANIPUR1,390
  • HIMACHAL PRADESH1,077
  • PUDUCHERRY1,011
  • LADAKH1,005
  • NAGALAND625
  • CHANDIGARH490
  • DADRA AND NAGAR HAVELI373
  • ARUNACHAL PRADESH270
  • DAMAN AND DIU207
  • MIZORAM197
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS141
  • SIKKIM125
  • MEGHALAYA88
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
delhi university site crash sol online exam kmbsnt

DU: क्रैश हुई SOL की साइट, छात्र डाउनलोड नहीं कर सके असाइनमेंट प्रश्नपत्र

  • Updated on 6/26/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते दिल्ली यूनिवर्सिटी रेगुलर के साथ ही स्कूल ऑफ ओपन लर्निंग की परीक्षाएं भी ऑनलाइन बुक परीक्षा पैटर्न पर करवा रहा है। मगर गुरुवार को जैसे ही साइट पर एसओएल छात्रों ने असाइनमेंट प्रश्न पत्र डाउनलोड करना शुरू किया वेबसाइट क्रैश हो गई।

अब बड़ा सवाल है कि एक ही स्ट्रीम के छात्रों के प्रश्न पत्र डाउनलोड करने से वेबसाइट क्रैश हो गई तो जब सभी एक साथ डाउनलोड करेंगे तो क्या हाल होगा? ऐसे में जिन छात्रों का प्रश्न पत्र डाउनलोड नहीं हो पाया है उन्हें डर सता रहा है कि कहीं समय से असाइनमेंट जमा नहीं करने पर उन्हें फेलना कर दिया जाए। 

Corona Effect: डीयू में बदली एडमिशन की नीति, जानें म्यूजिक कोर्स में दाखिले के लिए क्या है नियम

पूरा दिन बंद रही साइट
पूरा दिन बंद रहने के बाद शाम को जाकर साइट दोबारा चली। वहीं डीवीसी सदस्य राजेश झा का कहना है कि यह डीयू प्रशासन की अक्षमता और  बड़बोलेपन का परिणाम है कि स्कूल ऑफ ओपन लर्निंग के हजारों छात्रों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। एडमिशन भी जिस दिन शुरू हुआ तो भी डीयू वेबसाइट ने काम करना बंद कर दिया था।

छात्रों की लंबित परीक्षाओं पर अपना निर्णय सुप्रीम कोर्ट को सूचित करेगी CBSE

जब फाइनल इयर के छात्र एक साथ देंगे पेपर तो क्या होगा?
उन्होंने कहा कि अगर तैयारी चाक चौबंद ना हो तो छात्रों को अग्रिम सूचना मिलनी चाहिए थी। यह परिस्थितियां प्रशासन के तानाशाही रवैए की वजह से हो रही है। अब यह सोचिए कि अभी तो सिर्फ स्कूल ऑफ ओपन लर्निंग के प्रथम प्रश्न वर्ष के छात्रों के लॉग इन करने से वेबसाइट क्रैश कर गई, ऑनलाइन ओपन बुक एग्जाम में पूरे विश्व विद्यालय के फाइनल ईयर के साथ क्या होगा?

ऐसी अव्यवस्था के साथ ऑनलाइन ओपन बुक एग्जाम करवाकर उनके भविष्य के साथ खिलवाड़ नहीं होना चाहिए। इस एग्जाम को तत्काल निरस्त किया जाए ताकि इस महामारी के बीच लाखों युवा छात्रों को तनाव से तत्काल मुक्ति मिले। 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें-

comments

.
.
.
.
.