delhi university students union (dusu) elections nsui alleges evms tempering

#DUSU के चुनाव में #NSUI ने लगाए #EVM में गड़बड़ी के आरोप

  • Updated on 9/12/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। ईवीएम में गड़बड़ी और कुछ प्रत्याशियों को प्रवेश देने से इनकार के बीच गुरुवार को दिल्ली विश्वविद्यालय छात्रसंघ (डूसू) के चार पदों के लिए चुनाव का पहला चरण संपन्न हुआ। चुनाव में 16 प्रत्याशियों की किस्मत दांव पर है मतदान के लिए 52 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। डूसू चुनाव में कुल 1.3 लाख मतदाता छात्र हैं। 

ट्रैफिक नियमों में बदलाव को लेकर अखिलेश ने भाजपा सरकार पर कसा तंज

प्रात: कालीन कक्षाओं के लिए मतदान सुबह साढ़े नौ बजे शुरू हुआ और दोपहर एक बजे खत्म हुआ। सांध्यकालीन कक्षाओं में पढऩे वाले छात्रों के लिए दोपहर तीन बजे मतदान शुरू हुआ और यह शाम साढ़े सात बजे खत्म होगा। नॉर्थ कैम्पस के 17 बूथों पर कुल 38 फीसदी मतदान दर्ज किया गया। यहां पर किसी अप्रिय घटना को रोकने के लिए 400 पुलिस जवानों की तैनाती की गई थी। 

जुर्माने की दरें कम करने पर विचार कर रही है यूपी की योगी सरकार

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जेपी अग्रवाल ने भी करीब साढ़े ग्यारह बजे नॉर्थ कैम्पस का दौरा किया और युवा मतदाताओं से बातचीत की। कांग्रेस से संबद्ध नेशनल स्टुडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (एनएसयूआई) ने दावा किया कि संयुक्त सचिव पद के उसके उम्मीदवार अभिषेक चपराना को दक्षिण दिल्ली के दयाल सिंह कॉलेज में मतदान केंद्रों पर नहीं जाने दिया। संगठन ने दावा किया कि चपराना को ‘‘गैरकानूनी ढंग से हिरासत’’ में लिया गया है।

बबीता फोगाट ने हरियाणा चुनाव से पहले कसी कमर, पुलिस का पद छोड़ा

हालांकि पुलिस ने कहा कि यह उम्मीदवार कॉलेज के बाहर प्रचार कर रहा था जिसकी इजाजत नहीं है। पुलिस ने कहा कि जब उसे प्रचार करने से रोका गया तो उसने पुलिसर्किमयों के साथ खराब बर्ताव किया इसलिए उसे हिरासत में लेना पड़ा। एनएसयूआई ने ईवीएम में गड़बड़ी का भी आरोप लगाया। संगठन की राष्ट्रीय प्रभारी रुचि गुप्ता ने ट्वीट किया, फिर आर्यभट्ट कॉलेज में ईवीएम में गड़बड़ी की गई जैसा एनएसयूआई के खिलाफ होता रहा है। जब एनएसयूआई प्रत्याशी के पक्ष में बटन दबाया जा रहा था तो ईवीएम में मत पंजीकृत होने की जानकारी देने वाली बत्ती नहीं जली। हमारे प्रतिनिधि और जानकारी प्राप्त कर रहे हैं।’’

दीवाली से पहले #Gold की हॉलमार्किंग अनिवार्य करने पर जुटे पासवान

चुनाव समिति सदस्य ने बताया कि मत डाले जा रहे हैं लेकिन बत्ती जलने में कुछ समस्या आई। ईवीएम को बदल दिया गया है। उन्होंने कहा कि कॉलेज में 152 वोट डाले गए हैं। एनएसयूआई के सचिव प्रत्याशी आशीष लाम्बा को रामजस कॉलेज में प्रवेश करने नहीं दिया गया। यह कदम अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) की ओर से बाहरी व्यक्तियों को साथ लाने के आरोप के बाद उठाया गया। 

बैंकों के विलय के खिलाफ बैंक कर्मियों ने किया दो दिवसीय हड़ताल का ऐलान

पुलिस ने बताया कि चुनाव के दौरान कोई अप्रिय घटना नहीं हुई और चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न हुआ। किरोड़ीमल कॉलेज में तीन छात्रों ने (दो छात्र और एक छात्रा) अपने दोस्तों के पहचानपत्र के आधार पर दोबारा मतदान करने की कोशिश की। कॉलेज के अधिकारियों ने बताया कि अगले हफ्ते इनपर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी। चुनाव में उतरे 16 उम्मीदवारों में केवल चार उम्मीदवार छात्राएं हैं। उनमें से भी दो निर्दलीय हैं। 

चिन्मयानंद मामले में #AAP ने #BJP, मीडिया पर निकाली भड़ास 

एबीवीपी ने डूसू अध्यक्ष पद के लिए अक्षित दहिया को, उपाध्यक्ष पद के लिए प्रदीप तंवर को, महासचिव पद के लिए योगित राठी और संयुक्त सचिव पद के लिए शिवांगी खेरवाल को उतारा है। एनएसयूआई ने दहिया के खिलाफ चेतना त्यागी को और वाम दल सर्मिथत आइसा ने अध्यक्ष पद के लिए दामिनी कैन को उतारा है। 

एनएसयूआई ने उपाध्यक्ष पद के लिए अंकित भारती को, सचिव पद के लिए आशीष लांबा और संयुक्त सचिव पद के लिए अभिषेक चपराना को चुनाव मैदान में उतारा है। पिछले साल के चुनाव में एबीवीपी ने तीन पदों पर जीत हासिल की थी जबकि एनएसयूआई को एक सीट मिली थी।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.