Friday, Feb 26, 2021
-->
delhi weather updates a layer of fog continues to engulf the national capital kmbsnt

Delhi Weather Updates: दिन में धूप तो शाम को छाएगा कोहरा और चलेगी सर्द हवाएं, 22 से छाएंगे बादल

  • Updated on 1/20/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। राष्ट्रीय राजधानी आज यानी बुधवार सुबह भी कोहरे की परत में लिपटी दिखाई दी। तापमान  (Delhi Temperature) गिरने के कारण खुद को गर्म  रखने के लिए लोग अलाव जलाते नजर आए। भारत के मौसम विभाग (IMD) के अनुसार, शहर में वर्तमान तापमान 9.8 डिग्री सेल्सियस है।

मौसम विभाग के अनुसार मंगलवार को राजधानी का अधिकतम तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक 20.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जबकि न्यूनतम तापमान 6.9 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ। यह इस मौसम का सामान्य तापमान है।

आज यानी बुधवार को भी दिन में धूप खिलने की संभावना है। सुबह व शाम घने कोहरे के साथ सर्द हवाएं मुश्किलें बढ़ाएंगी। मौसम विभाग के अनुसार पिछले 24 घंटों में हवा में नमी का स्तर अधिकतम 100% और न्यूनतम 61% दर्ज किया गया। मंगलवार को राजधानी में सबसे कम न्यूनतम तापमान लोधी रोड में 6.8 दर्ज किया गया, जबकि सबसे कम अधिकतम तापमान जफरपुर में 15.4 रहा।

त्रिवेन्द्रम एयरपोर्ट का अदानी द्वारा अधिग्रहण किए जाने पर कर्मचारियों ने किया विरोध 

22 जनवरी से फिर छाएंगे बादल
मौसम विभाग के अनुसार बुधवार को अधिकतम तापमान 20 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 8 डिग्री सेल्सियस रहने का पूर्वानुमान है। इस दौरान 15 से 20 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलने का अनुमान है। मौसम विभाग के अनुसार आगामी 22 जनवरी से एक बार फिर से पश्चिमी विक्षोभ का असर बन रहा है। इलाकों में बर्फबारी का दौर बनेगा तो मैदानी इलाकों में बारिश की संभावना है। दिल्ली में भी बादल छाए रह सकते हैं।

कब होता है धना कोहरा
आईएमडी के अनुसार, "बहुत ही घना" कोहरा तब होता है जब दृश्यता 0 और 50 मीटर के बीच होती है। "घने" कोहरे के मामले में, दृश्यता 51 और 200 मीटर, "मध्यम" 201 और 500 मीटर और "उथले" 501 और 1,000 मीटर के बीच है। सफदरजंग वेधशाला, जो शहर के लिए प्रतिनिधि डेटा प्रदान करती है, बुधवार को न्यूनतम 2 डिग्री सेल्सियस, सामान्य से पांच डिग्री कम, जबकि 3.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मोदी सरकार की किसानों से 10वें दौर की वार्ता के अगले दिन होगी SC कमेटी की बातचीत

ठंड ने तोड़े रिकॉर्ड
इससे पहले दिल्ली शीत लहर की चपेट में थी और यहां का तापमान 1.1 डिग्री तक पहुंच गया था। तब वैज्ञानिकों ने दिल्ली में शीत लहर की घोषणा कर दी थी। मैदानी इलाकों में शीत लहर तब होती है जब न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस या उससे नीचे होता है या लगातार दो दिनों तक मौसम के सामान्य से 4.5 डिग्री कम होता है। मैदानी इलाकों में न्यूनतम तापमान 4 डिग्री सेल्सियस से कम होने पर शीत लहर भी घोषित की जाती है। एक ठंडा दिन और शीत लहर का एक साथ साक्षी होने का मतलब है कि दिन और रात के तापमान के बीच का अंतर सामान्य से कम था।

दिल्ली दंगे: कोर्ट का पुलिस को आरोपियों के कॉल डिटेल रिकॉर्ड सुरक्षित रखने का निर्देश

ज्यादा ठंड कर सकती है बीमार
भारत मौसम विज्ञान विभाग ने चेतावनी दी है कि ठंड से गंभीर ठंड की स्थिति स्वास्थ्य पर कई गंभीर प्रभाव डाल सकती है जिसे अनदेखा नहीं किया जाना चाहिए। फ्लू, भरी हुई नाक या नकसीर और कंपकंपी जैसी विभिन्न बीमारियों की संभावना बढ़ जाती है, जो शरीर की गर्मी खोने का पहला संकेत है।

अत्यधिक ठंड के लंबे समय तक संपर्क में रहने और बीमारी का कारण बन सकता है, जिससे त्वचा पीली, कठोर और सुन्न हो जाती है और अंततः काले छाले उजागर शरीर के अंग जैसे अंगुलियों, पैर की उंगलियों, नाक या कान की बाली पर दिखाई देते हैं। गंभीर शीतदंश को तत्काल उपचार की आवश्यकता होती है।

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.